भाषा चुनें :

हिंदी

अठावले ने कहा- 'मायावती बीजेपी के साथ अच्छे दिनों को याद करके मोदी-शाह से मिलाएं हाथ'

रामदास अठावले ने कहा कि बीजेपी के समर्थन से मायावती तीन बार यूपी की मुख्यमंत्री बन चुकी हैं. बीएसपी के कार्यकर्ता इस बात को बहुत बेहतर तरीके से जानते हैं कि सपा के साथ जुड़कर लोकसभा चुनावों में उन्हें उचित नतीजे नहीं मिलेंगे

news18 hindi | News18.com |

बीजेपी के समर्थन से हुई मायावती की इससे पहले की चुनावी जीत का हवाला देते हुए केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि बीएसपी प्रमुख को सपा के बजाय बीजेपी से जुड़ना चाहिए. रविवार को उन्होंने कहा, 'बीजेपी के समर्थन से मायावती तीन बार यूपी की मुख्यमंत्री बन चुकी हैं. बीएसपी के कार्यकर्ता इस बात को बहुत बेहतर तरीके से जानते हैं कि सपा के साथ जुड़कर लोकसभा चुनावों में उन्हें उचित नतीजे नहीं मिलेंगे. सपा के बजाय उन्हें एक बार फिर से बीजेपी के साथ हाथ मिलाना चाहिए. अखिलेश यादव की पार्टी से जो मायावती की असहमति रही है वह इस गठबंधन को लंबा नहीं चलने देगी.'


ये भी पढ़े - 'स्टेट गेस्ट हाउस कांड' की वजह से बढ़ी थी दूरी, 25 साल बाद साथ आ रही हैं SP-BSP


उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की अलग-अलग जगहों से जो रिपोर्ट आ रही है वह बताती है कि सपा व बसपा के कार्यकर्ता इस गठबंधन से नाखुश हैं. अठावले की 'रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया' एनडीए की सहयोगी पार्टी है.


बता दें कि लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र उत्तर प्रदेश में अपनी स्थिति को बेहतर बनाने के लिए सपा और बसपा ने गठबंधन का ऐलान किया था. हालांकि इस गठबंधन में कांग्रेस नहीं शामिल हुई थी. राजनीतिक जानकारों का कहना है कि कुछ दिन पहले गोरखपुर, फूलपुर और कैराना में जीत के बाद यह फैसला लिया गया है.


ये भी पढ़ें - सपा-बसपा गठबंधन: जानिए किसके हिस्से में जा सकती है कौन सी लोकसभा सीट?

 एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स