ट्रेंडिंग

और भी पढ़ें
होम / न्यूज / राष्ट्र /

यूं ही नहीं लिया गया था जयपुर में कांग्रेस विधायकों की बैठक बुलाने का फैसला, जानें पर्दे के पीछे की पूरी कहानी

यूं ही नहीं लिया गया था जयपुर में कांग्रेस विधायकों की बैठक बुलाने का फैसला, जानें पर्दे के पीछे की पूरी कहानी

Rajasthan Political Crisis: सूत्रों ने बताया कि 24 सितंबर को अजय माकन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से 10 जनपथ पर मिले थे. इस दौरान सोनिया गांधी ने राज्य की पूरी रिपोर्ट अजय माकन से ली थी. सूत्रों के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में अशोक गहलोत की संभावित उम्मीदवारी और संभावित जीत को ध्यान में रखते हुए 'एक व्यक्ति एक पद' के फॉर्मूले को ध्यान में रखकर राजस्थान में अपनी तैयारी पहले कर लेना चाहती थीं.

24 सितंबर को अजय माकन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से 10 जनपथ पर मिले थे. (फाइल फोटो)

24 सितंबर को अजय माकन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से 10 जनपथ पर मिले थे. (फाइल फोटो)

हाइलाइट्स

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राजस्थान से जुड़ी पूरी रिपोर्ट अजय माकन से ली थी.
24 सितंबर को अजय माकन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से 10 जनपथ पर मिले थे.
अगले दिन प्रभारी और पर्यवेक्षकों के पहुंचने के थोड़ी देर बाद सियासी ड्रामे की शुरुआत हुई.

नई दिल्ली. राजस्थान में चल रहे राजनीतिक गतिरोध पर कांग्रेस आलाकमान बेहद नाराज है. कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राजस्थान से जुड़ी पूरी रिपोर्ट राज्य कांग्रेस के प्रभारी और महासचिव अजय माकन से ली थी. सूत्रों ने बताया कि 24 सितंबर को अजय माकन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से 10 जनपथ पर मिले थे. इस दौरान सोनिया गांधी ने राज्य की पूरी रिपोर्ट अजय माकन से ली थी. सूत्रों के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में अशोक गहलोत की संभावित उम्मीदवारी और संभावित जीत को ध्यान में रखते हुए ‘एक व्यक्ति एक पद’ के फॉर्मूले को ध्यान में रखकर राजस्थान में अपनी तैयारी पहले कर लेना चाहती थीं.

विधायक दल की बैठक से पहले शाम को कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल का फोन अजय माकन के पास आता है. बातचीत होती है कि विधायक दल के अगले नेता के चयन के लिए राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलानी है ताकि एक लाइन का प्रस्ताव पारित हो सके. महासचिव केसी वेणुगोपाल ये भी जानकारी देते हैं कि पर्यवेक्षक के तौर पर मल्लिकार्जुन खड़गे रहेंगे. केसी वेणुगोपाल से बात करने के बाद अजय माकन राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को फोन करते हैं कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाने का निर्देश हुआ है. प्रभारी अजय माकन समय और स्थान भी अशोक गहलोत को तय करने को कहते हैं.

गहलोत ने तय किया था समय और बैठक का स्थान
25 सितंबर को शाम 7 बजे का वक्त और बैठक का स्थान मुख्यमंत्री आवास हो, ये अशोक गहलोत ही तय करते हैं. प्रभारी माकन से बातचीत के बाद गहलोत पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे को भी फोन करते हैं और विधायक दल की बैठक को लेकर बात करते हैं. राजस्थान में कांग्रेस के मुख्य सचेतक महेश जोशी को भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तरफ से निर्देश दिया जाता है कि विधायकों को इस बाबत फोन किया जाए.

आपके शहर से (जयपुर)

Pooja Arora Murder Case: आर्थिक तंगी से जूझ रहे प्रेमी ने की थी पूजा की हत्या | Latest Hindi News

Mahro Rajasthan | देखिए प्रदेश की प्रमुख खबरें | Rajasthan Big News | Top Headlines | Rajasthan News

पुजारी की मौत के बाद 50 लाख मुआवजे की मांग, बेटे को सरकारी नौकरी व जमीन की सुरक्षा की मांग भी रखी

Gujarat Election 2022: तुष्टिकरण पर दांव, नज़दीक आए चुनाव! | PM Modi | Kejriwal | Owaisi | Debate

30 Minute Mein Rajasthan | फटाफट अंदाज में Rajasthan की बड़ी खबरें | Top Headlines | Rajasthan News

Today's Top News | देखिए आज की बड़ी खबरें | Pradesh Hamara | Top Headlines | News18 Rajasthan

Chittorgarh Online Scam : ऑनलाइन ठगी के बड़े गिरोह के 16 लोगों को Police ने किया गिरफ्तार

5 Minute 25 Khabarein | 5 मिनट 25 ख़बर | Aaj Ki Taaza Khabar | Rajasthan Top News | News18 Rajasthan

Udaipur News : उदयपुर के जगदीश मंदिर के पुजारी के भांजे को हत्या की धमकी | Latest Hindi News

सियासी ‘तकरार’ New Chapter !, ‘शब्द-युद्ध’ पर Congress का ‘शांति यज्ञ’ | Rajasthan Politics | News18

Chittorgarh News : ऑनलाइन ठगी के बड़े गिरोह का खुलासा, 16 लोगों को Police ने किया गिरफ्तार


समय और स्थान तय होने के बाद 24 सितंबर को रात 11 बजकर 3 मिनट पर संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ट्वीट के जरिए राजस्थान विधायक दल की बैठक के बारे में जानकारी देते हैं. 25 सितंबर को प्रभारी और पर्यवेक्षकों के जयपुर पहुंचने के थोड़ी देर बाद ही राजस्थान के सियासी ड्रामे की शुरुआत हो गई. जिसका नतीजा ये रहा कि आखिरकार विधायक दल की बैठक नहीं बुलाई जा सकी. गहलोत गुट के विधायकों ने प्रभारी और पर्यवेक्षक के सामने तीन शर्तें रख दीं. वन टू वन मिलने को भी विधायक राजी नहीं हुए.

अगले दिन यानी 26 सितंबर को मल्लिकार्जुन खड़गे से राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत की होटल में मुलाकात के बाद प्रभारी और पर्यवेक्षक दिल्ली लौट गए. उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को मौखिक रिपोर्ट दी.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Ashok gehlot, Rajasthan Congress, Sachin pilot

FIRST PUBLISHED : September 27, 2022, 11:00 IST
अधिक पढ़ें