होम / न्यूज / राजस्थान /

Rajasthan में मॉब लिंचिंग, सब्जी का ठेला लगाने वाले को भीड़ ने पीटा, इलाज के दौरान मौत

Rajasthan में मॉब लिंचिंग, सब्जी का ठेला लगाने वाले को भीड़ ने पीटा, इलाज के दौरान मौत

चिरंजी की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने थाने का घेराव किया.

चिरंजी की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने थाने का घेराव किया.

राजस्थान के जालौर में दलित छात्र की मौत का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि अब अलवर जिले में मॉब लिंचिंग का सनसनीखेज मामला सामने आया है. जिले के गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के रामबास गांव में करीब 25 लोगों ने एक व्यक्ति को चोर समझकर पीट दिया जिससे व्यक्ति की मौत हो गई. गोविन्दगढ़ कस्बे के निकटवर्ती रामबास गांव में चिरंजी लाल नाम का एक व्यक्ति नित्यकर्म के लिए अपने खेत में गया था. उसी दौरान अलवर के सदर थाना क्षेत्र से चोर एक ट्रैक्टर को चोरी करके भाग रहे थे. चोरों का पीछा पुलिस और ट्रैक्टर मालिक कर रहे थे. अपने आपको चारों तरफ से घिरता देख चोर खेत के पास ट्रैक्टर रखकर भाग खड़े हुए. इसके बाद लोगों ने चिरंजीलाल को चोर समझकर पीट दिया जिससे उसकी मौत हो गई.

अलवर. राजस्थान के अलवर जिले के गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के रामबास गांव में लिंचिंग का मामला सामने आया है. जहां चोर समझकर सब्जी का ठेला लगाने वाले चिरंजी लाल की समाज विशेष के 20-25 लोगों ने जमकर पिटाई कर दी. समाज विशेष के लोगों द्वारा की गई लिंचिंग से घायल चिरंजी लाल ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया. घायल की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने गोविंदगढ़ थाने का घेराव कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है.गोविन्दगढ़ कस्बे के निकटवर्ती रामबास में एक व्यक्ति अपने नित्यकर्म के लिए खेत में गया था.

उसी दौरान अलवर के सदर थाना क्षेत्र से चोर एक ट्रैक्टर को चोरी करके भाग रहे थे. पीछे से सदर थाना पुलिस और ट्रैक्टर मालिक चोरों का पीछा कर रहे थे. चोरों ने अपने आप को पुलिस और ट्रैक्टर मालिकों से घिरा देख ट्रैक्टर को बिजली घर के पास एक खेत में खड़ा किया और भाग खड़े हुए. इतने में ही पुलिस से पहले ट्रैक्टर के मालिक आ गए और खेत में नित्य कर्म कर रहे चिरंजी को चोर समझकर बुरी तरह पीट दिया. जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया.


पुलिस ने घायल को अस्पताल में भर्ती कराया. जहां से चिकित्सकों ने उसे प्राथमिक उपचार देकर जयपुर रेफर कर दिया. इलाज के दौरान चिरंजी ने दोपहर लगभग 3 बजे दम तोड़ दिया. चिरंजी सब्जी का ठेला लगा कर अपना जीवन यापन करता था. बिना जानकारी किए ही चिरंजी को भीड़ के द्वारा लिंचि कर दिया गया. चिरंजी की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने थाने का घेराव किया.

आपके शहर से (अलवर)

World Heart Day 2022: दिल की सुनें, उसकी प्राब्लम को समझें, कम हो जाएंगी आपकी समस्याएं

अशोक गहलोत ने एक बार फिर खेला डबल गेम, कुर्सी बचाने को चला ये नया दांव?

Rajasthan: जयपुर से आई बड़ी खुशखबरी, दुर्लभ प्रजाति की मादा हिरण ने दिया 2 बच्चों को जन्म

इटली के जोड़े को भाया हिन्दुस्तान, गोल्डन सिटी में भारतीय पंरपरा से रचाया ब्याह, देखें PHOTOS

REET 2022 Result: RBSE ने जारी किया रीट 2022 का रिजल्ट, इस लिंक से डायरेक्ट करें चेक

खेत में मौत का खतरा! किसानों की जान के दुश्मन बने जहरीले कीड़े, एक की मौत से हड़कंप

राजस्थान के इस 'गोपीनाथ मंदिर' का इतिहास, जहां रात में कोई नहीं रुकता! जानें रहस्य

Lumpy Skin Disease Havok: राजस्थान में बिगड़े हालात पर यूं पाया जा रहा है काबू, पढ़ें बचाव के उपाय

जैसलमेर: मटकी का पानी पीने से एक ही परिवार को 9 सदस्यों की बिगड़ी तबीयत, बरती थी ये लापरवाही

ऑर्गन ट्रांसप्लांट के क्षेत्र में मॉडल बनेगा राजस्थान, NTORC सेंटर में तब्दील होंगे 18 मेडिकल कॉलेज

REET Result 2022: रीट परीक्षा के नतीजे घोषित, जानें अब कब होगी मुख्य परीक्षा


गुस्साए लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की
वहीं चिरंजी की मौत के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया. लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है. मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि चिरंजी गरीब परिवार से आता है. वह सब्जी बेचकर अपने परिवार का भरण पोषण करता था. सुबह खेत में आरोपियों ने उसे देखकर पीट दिया जिससे उसकी मौत हो गई. गोविंदगढ़ थाने के कार्यवाहक थानाधिकारी श्याम लाल मीणा ने बताया कि मृतक के बेटे योगेश में रिपोर्ट दर्ज कराई है. मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

Tags:Alwar News, Rajasthan news

अधिक पढ़ें