लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबफूडविधानसभा चुनावमनोरंजनफोटोकरियर/ जॉब्सक्रिकेटलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नरMission Swachhta Aur Paani#RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrencyNetra Suraksha
होम / न्यूज / राजस्थान /

Rajasthan political crisis: गहलोत ने उठाए सवाल, कहा- यह नौबत क्यों आई? रिसर्च की है जरूरत

Rajasthan political crisis: गहलोत ने उठाए सवाल, कहा- यह नौबत क्यों आई? रिसर्च की है जरूरत

Congress Politics: राजस्थान में आए राजनीतक संकट पर अब धीरे-धीरे सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) मुखर होने लगे हैं. गहलोत ने रविवार को गांधी जयंती के मौके पर मीडिया से रू-ब-रू होते हुए न केवल अपने खेमे के विधायकों का पुरजोर बचाव किया बल्कि यह सवाल भी उठाया कि आखिर ऐसी नौबत क्यों आई? इसके साथ ही उन्होनें सुझाव दिया कि इस पर रिसर्च की जरुरत है.

गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष के पद के लिए खड़गे को बेहद अनुभवी बताते हुए कहा कि शशि थरूर से उनकी तुलना ही नहीं की सकती.

गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष के पद के लिए खड़गे को बेहद अनुभवी बताते हुए कहा कि शशि थरूर से उनकी तुलना ही नहीं की सकती.

हाइलाइट्स

राजनीतिक संकट के एक सप्ताह बाद अब मुखर होने लगे अशोक गहलोत
गहलोत ने खड़गे की पैरवी करते हुए कहा कि उन्हें संगठन का काफी अनुभव है
अशोक गहलोत ने शशि थरूर को लेकर कहा कि वे अच्छे हैं लेकिन एलिट क्लास के हैं

जयपुर. राजस्थान में उपजे राजनीतिक संकट (Rajasthan political crisis) पर अब सीएम अशोक गहलोत ने सवाल उठाए हैं. गांधी जयंती के मौके पर अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि उन पर आया संकट विफल कर दिया है. गहलोत ने सवाल उठाते हुए कहा कि लेकिन इस पर रिसर्च की जरूरत है कि राजस्थान में आखिर यह स्थिति क्यों बनी? राजनीतिक संकट पर अशोक गहलोत ने कहा कि वे अपना काम कर रहे हैं. आगे फैसला आलाकमान को करना है. बकौल गहलोत मैंने सोनिया गांधी से कहा कि 50 साल में पहली बार मैंने देखा कि हम एक लाइन का प्रस्ताव पारित नहीं करवा पाए. जबकि वह हमारी ड्यूटी थी, लेकिन यहां पर यह स्थिति क्यों बनी? इस पर रिसर्च की जरूरत है.

गहलोत ने कहा कि यह नौबत क्यों आई कि यहां के विधायक मेरी बात मानने को ही तैयार नहीं थे? स्पीकर के पास इस्तीफा देकर आ गए! शायद उन्हें डर था कि अब मैं दिल्ली जा रहा हूं तो हमें किसके भरोसे छोड़ कर जा रहे हैं? इस दौरान गहलोत ने कहा कि बीजेपी आगे भी सरकार को डिस्टर्ब करने की कोशिश करेगी लेकिन प्रदेशवासियों का सहयोग उनके साथ है. तभी वे बार-बार कहते हैं कि वे उनसे दूर कैसे हो सकते हैं.

‘मैं CM रहूं या ना रहूं 102 MLA को नहीं भूल सकता…’ बोल गहलोत ने BJP को फिर घेरा

आपके शहर से (जयपुर)

करौली में है उत्तर भारत का एकमात्र पिता पुत्र का मंदिर, जानें क्या है मान्यता? 

Mahro Rajasthan | देखिए प्रदेश की प्रमुख खबरें | Rajasthan Big News | Top Headlines | Rajasthan News

Big Breaking News | देखिए अब तक की बड़ी खबरें | News 18 Update | Top Headlines | News18 Rajasthan

Govt Jobs Alert : 40 साल आयु तक के लिए 3000 से ज्यादा नौकरियां, ANM सहित इन पदों पर होगी भर्ती, नोटिफिकेशन जारी

शिक्षित बेरोजगारों के काम की खबर, दौसा में 8 दिसंबर को नौकरी के लिए होंगे डायरेक्ट इंटरव्यू

Gujarat Election 2022 | गुजरात चुनाव में बजेगा किस का डंका, देखिए साबरमती रिवर फ्रंट से स्पेशल शो

राजस्थान: बदमाशों ने DSP पर दागी गोलियां, पुलिस ने जवाबी फायरिंग कर दबोचा, गनीमत रही कि...

चार साल के बच्चे को सांप ने काटा, जहरीला जिंदा नाग साथ लेकर अस्पताल पहुंचे परिजन, जानें फिर क्या हुआ?

'प्रेम संबंध तोड़ना रेप नहीं'- वकील की दलील पर सुप्रीम कोर्ट ने शादी का झांसा देने के आरोपी को दी अग्रिम जमानत

Ravishankar Prasad Exclusive | केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद से Amish Devgan की Exclusive बातचीत

कल राजस्थान में प्रवेश करेगी राहुल की भारत जोड़ो यात्रा, क्या गहलोत-पायलट की लड़ाई का दिखेगा असर


खड़गे अनुभवी उन्हें थरूर से कंपेयर नहीं कर सकते
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष के पद के लिए खड़गे को बेहद अनुभवी बताते हुए कहा कि शशि थरूर से उनकी तुलना नहीं ही नहीं सकती. शशि थरूर भी अच्छे हैं लेकिन एलिट क्लास के हैं. संगठन का अनुभव खड़गे के साथ है जो कि थरूर के साथ कंपेयर हो ही नहीं सकता. पीसीसी के डेलिगेट्स भी खड़गे से अपने आप को कनेक्ट करेंगे क्योंकि वे भी संगठन को समझते हैं.

अध्यक्ष बनता तो 102 विधायक के साथ नाइंसाफी होती
इस दौरान गहलोत ने दो साल पहले सरकार पर आए संकट को याद करते हुए कहा कि मैं उन 102 विधायकों का साथ नहीं छोडूंगा जिन्होंने संकट के समय सरकार बचाने में सहयोग दिया था. उन्होंने कि कहा कि वे अगर कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते तो यह 102 विधायक के साथ नाइंसाफी होती. मीडिया से रू-ब-रू होते हुए गहलोत ने बीजेपी पर भी फिर से हमला बोला और हॉर्स ट्रेडिंग का बड़ा आरोप लगाया.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Ashok gehlot news, Congress politics, Rajasthan Congress, Rajasthan news, Rajasthan Political Crisis, Sachin pilot

FIRST PUBLISHED : October 02, 2022, 12:26 IST
अधिक पढ़ें