होम / न्यूज / राजस्थान /

Rajasthan: सरकारी पानी में रिश्वत की सेंध, PHED के चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल को 10 लाख लेते दबोचा

Rajasthan: सरकारी पानी में रिश्वत की सेंध, PHED के चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल को 10 लाख लेते दबोचा

Big network of bribery exposed in Jaipur: भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई करते हुये जयपुर पीएचईडी के चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल (Chief Engineer Manish Beniwal) को 10 लाख रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. रिश्वत की यह राशि बिल पास करने और काम में रुकावट पैदा नहीं करने की एवज में कंपनी का ठेकेदार से ली गई थी. पढ़ें पूरा मामला.

जयपुर में रिश्वत केस में एसीबी ने चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल, दलाल और पीएचईडी के दो कर्मचारियों को पकड़ा है.

जयपुर में रिश्वत केस में एसीबी ने चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल, दलाल और पीएचईडी के दो कर्मचारियों को पकड़ा है.

हाइलाइट्स

एसीबी की इस कार्रवाई में कोई शिकायतकर्ता नहीं था
एसीबी ने चीफ इंजीनियर समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है

 विष्णु शर्मा.

जयपुर. राजस्थान के जयपुर जिले के ग्रामीण इलाकों में पेयजल सप्लाई को लेकर रिश्वतखोरी (Bribery) के बड़े नेटवर्क का खुलासा हुआ है. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने इस रिश्वतकांड में लिप्त पीएचईडी अर्बन के चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल (Chief Engineer Manish Beniwal) और उसके दलाल को 10 लाख रुपये की रिश्वत लेते देते रंगे हाथों दबोचा है. उसके बाद सोमवार देर रात को जलदाय विभाग के दो और कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया है. इनमें एक कर्मचारी के घर से भी एसीबी ने 6 लाख रुपये बरामद किए हैं. ब्यूरो की टीम पीएचईडी में फैली भ्रष्टाचार की लाइनों को क्लियर करने में जुटी है.

एसीबी डीजी बीएल सोनी ने बताया कि ट्रेप की यह कार्रवाई सोमवार देर रात को राजधानी जयपुर के मालवीय नगर में प्रधान मार्ग पर पीएचईडी विभाग के आलीशान सरकारी क्वार्टर में रहने वाले चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल के ठिकाने पर की गई. बेनीवाल वहां पर वह पानी की सप्लाई करने वाली कंपनी आरएससी इंफोटेक डवलपर्स के ठेकेदार के असिस्टेंट कजोड़मल तिवाड़ी से 10 लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़े गया. कजोड़मल की बेनीवाल के लिए दलाल का काम करता है.

आपके शहर से (जयपुर)

Gujarat Election 2022: तुष्टिकरण पर दांव, नज़दीक आए चुनाव! | PM Modi | Kejriwal | Owaisi | Debate

Chittorgarh News : ऑनलाइन ठगी के बड़े गिरोह का खुलासा, 16 लोगों को Police ने किया गिरफ्तार

Udaipur News : उदयपुर के जगदीश मंदिर के पुजारी के भांजे को हत्या की धमकी | Latest Hindi News

30 Minute Mein Rajasthan | फटाफट अंदाज में Rajasthan की बड़ी खबरें | Top Headlines | Rajasthan News

Pooja Arora Murder Case: आर्थिक तंगी से जूझ रहे प्रेमी ने की थी पूजा की हत्या | Latest Hindi News

Today's Top News | देखिए आज की बड़ी खबरें | Pradesh Hamara | Top Headlines | News18 Rajasthan

पुजारी की मौत के बाद 50 लाख मुआवजे की मांग, बेटे को सरकारी नौकरी व जमीन की सुरक्षा की मांग भी रखी

Mahro Rajasthan | देखिए प्रदेश की प्रमुख खबरें | Rajasthan Big News | Top Headlines | Rajasthan News

सियासी ‘तकरार’ New Chapter !, ‘शब्द-युद्ध’ पर Congress का ‘शांति यज्ञ’ | Rajasthan Politics | News18

Chittorgarh Online Scam : ऑनलाइन ठगी के बड़े गिरोह के 16 लोगों को Police ने किया गिरफ्तार

5 Minute 25 Khabarein | 5 मिनट 25 ख़बर | Aaj Ki Taaza Khabar | Rajasthan Top News | News18 Rajasthan


3 महीने से मोबाइल सर्विलांस पर लेकर निगरानी कर रही थी एसीबी
एसीबी डीजी बीएल सोनी ने बताया कि रिश्वत के इस खेल में कोई शिकायतकर्ता नहीं था. जयपुर के हरमाड़ा, बढारना और आसपास के इलाकों में पानी की सप्लाई करने वाली कंपनी अपनी मर्जी से रिश्वत की मोटी रकम पीएचईडी के उच्चाधिकारियों तक हर माह पहुंचा रही थी. ब्यूरो के पास इसकी सूचना थी। इसलिए पिछले 3 महीने से एसीबी ने आरोपियों के मोबाइल फोन सर्विलांस पर लेकर इनकी निगरानी की गई.

सोमवार को रकम देने का पता चलते ही जा धमकी एसीबी
सोमवार को एसीबी को पता चला कि कंपनी का ठेकेदार कजोड़मल रिश्वत की 10 लाख रुपए की रकम लेकर चीफ इंजीनियर मनीष बेनीवाल के घर जाएगा. तब एसीबी ने मौके पर पहुंचकर ट्रेप की कार्रवाई की. चीफ इंजीनियर और दलाल को ट्रेप करने के बाद एसीबी की अन्य टीमों ने जयपुर में रिश्वत के इस खेल से जुड़े तीन चार और ठिकानों पर छापामारी की. इसमें देर रात 12 बजे तक पीएचईडी ग्रामीण कार्यालय में कनिष्ठ सहायक शफीक व विनोद को पकड़ा गया.

शफीक के घर मिले करीब 6 लाख रुपये
शफीक के घर से एसीबी ने करीब 6 लाख रुपये बरामद किए हैं. वह इस रकम के बारे में संतोषजनक जवाब नहीं दे सका. शफीक जयपुर में ही खोनागोरियान इलाके में रहता है. इसके बाद एसीबी ने संजय नगर पानीपेच में रहने वाले कनिष्ठ सहायक विनोद को भी धरदबोचा. उसके घर से भी रकम बरामद हुई है. एसीबी के एडीजी दिनेश एमएन के निर्देशन में एडिशनल एसपी बजरंग सिंह शेखावत, डीएसपी परमेश्वरलाल और इंस्पेक्टर रघुवीरशरण शर्मा की टीम ने यह कार्रवाई की.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Anti corruption bureau, Crime News, Jaipur news, Rajasthan news

FIRST PUBLISHED : September 27, 2022, 11:39 IST
अधिक पढ़ें