लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबफूडविधानसभा चुनावमनोरंजनफोटोकरियर/ जॉब्सक्रिकेटलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नरMission Swachhta Aur Paani#RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrencyNetra Suraksha
होम / न्यूज / राजस्थान /

स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट: राजस्थान फिर पिछड़ा, पिंकसिटी को टॉप 20 में भी नहीं मिली जगह

स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट: राजस्थान फिर पिछड़ा, पिंकसिटी को टॉप 20 में भी नहीं मिली जगह

Jaipur News: स्वच्छता की ओवरऑल रेंकिंग में इंदौर एक बार फिर सिरमौर बना है और राजस्थान फिसड्डी साबित हुआ है. राज्यों की रेंकिंग में राजस्थान आठवें स्थान पर है. हमारा कोई भी शहर टॉप टेन में जगह नहीं बना पाया है. बस संतोष की बात यह है कि जयपुर के दोनों नगर निगमों की रेंकिंग में कुछ सुधार हुआ है.

Jaipur News: प्रमुख शहर टॉप-100 में भी शामिल नहीं, पिछली बार की रेंकिंग से मामूली सुधार

Jaipur News: प्रमुख शहर टॉप-100 में भी शामिल नहीं, पिछली बार की रेंकिंग से मामूली सुधार

हाइलाइट्स

नगर निगम हैरिटेज और ग्रेटर की एक साल में सुधरी रेंकिंग में मामूली सुध
लेक सिटी उदयपुर, कोटा और जोधपुर जैसे शहर टॉप-100 में भी शामिल नहीं

जयपुर. केंद्र सरकार ने स्वच्छता सर्वेक्षण (Cleanliness survey-2022) की रैंकिंग जारी कर दी है. ओवरऑल रेंकिंग में हैरिटेज नगर निगम (Heritage Municipal corporation)  26वें और ग्रेटर नगर निगम 33वें स्थान पर है. प्रदेश (Rajasthan) की बात करें तो यहां हैरिटेज नगर निगम अव्वल रहा है. इसकी रेंकिंग (Ranking) भी पिछली बार की तुलना में छह पायदान बेहतर रही है. स्वच्छता में सिरमौर इंदौर शहर से सबक लेने के बजाए राजस्थान के कई शहरों के निकाय आपसी राजनीति में ही उलझे रहे. इसके कारण ये ओवरऑल रेंकिंग में पिछड़ गए.

स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 की रैंकिंग में राजस्थान का एक भी नगर निगम टॉप-10 में जगह नहीं बना पाया. जयपुर में दो नगर निगम, दो मेयर, अफसरों के साथ सफाईकर्मियों की फौज होने के बावजूद पिंकसिटी को टॉप 20 में भी जगह नहीं मिली. 10 से 40 लाख की आबादी वाले शहरों में राजस्थान के नगर-निगम हेरिटेज ने 26वीं रैंक हासिल की है. हेरिटेज नगर निगम ने 7500 में से 4230.96 अंक हासिल किए हैं.

‘मैं CM रहूं या ना रहूं 102 MLA को नहीं भूल सकता…’ बोल गहलोत ने BJP को फिर घेरा

आपके शहर से (जयपुर)

Udaipur News | G20 सम्मेलन का आगाज़, उदयपुर में पहली बार G-20 शिखर सम्मेलन की शेरपा बैठक

Bharat Jodo Yatra: Rajasthan में आज प्रवेश करेगी Rahul Gandhi की भारत जोड़ो यात्रा | Hindi News

EXCLUSIVE | मालकेतु की वो पहाड़ी जहां से भागने की फिराक में थे शूटर | Raju Theth Murder News

Raju Theth Murder Case | रात को मालकेतु की पहाड़ी में स्थित दादु पंथी मंदिर में रूके थे शूटर

Morning Headlines | सुबह की सभी बड़ी खबरें | Latest Hindi News | Top Headlines | 4 December 2022

Latest Morning News Update | आज सुबह की सभी अहम बड़ी खबरें | Latest Hindi News | Rajasthan Top News

Jaipur को International Match की सौगात!, RCA अध्यक्ष ने SMS Stadium का लिया जायजा | Hindi News

Sikar News | Tarachand की मौत को लेकर BJP ने स्थगित की जनाक्रोश यात्रा, बड़े आंदोलन की तैयारी

Sardarshahar By Election | सरदारशहर का संग्राम कल, अशोक और अनिल की जंग में तीसरा कौन? | Hindi News

Raju Theth Murder Case Update | गोली निकालने के दौरान ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाए शूटर, दूर तक आई आवाज़

Congress की Delhi में बैठक, CM Ashok Gehlot भी हुए शामिल; Raipur में होगा कांग्रेस का अधिवेशन


पिछली बार की रेंकिंग से मामूली सुधार
वहीं ग्रेटर नगर निगम की स्थिति तो और भी खराब है. काम से ज्यादा राजनीति होने के कारण इसकी 33 वी रैंक आई है. ग्रेटर निगम को 3877.28 अंक प्राप्त हुए हैं. बस संतोष की बात इतनी सी है कि दोनों ही निगम ने अपनी पिछली बार की रेंकिंग में मामूली सुधार किया है. दोनों निगमों की पिछली बार की रेंकिंग क्रमश: 32वीं और 36वीं थी.

प्रमुख शहर टॉप-100 में भी शामिल नहीं
राजस्थान के अन्य शहरों की बात करें तो कोटा, उदयपुर, अजमेर, जोधपुर जैसे शहर टॉप-100 में भी अपनी जगह नहीं बना पाए हैं. एक लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में देशभर में स्वच्छता के शिखर पर इंदौर छठी बार विराजमान है. एक लाख से कम आबादी वाले शहरों में महाराष्ट्र का पंचगनी पहले और छत्तीसगढ़ का पाटन दूसरे नंबर पर है.


ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Jaipur Greater Municipal Corporation, Jaipur news

FIRST PUBLISHED : October 02, 2022, 15:43 IST
अधिक पढ़ें