Home / News / rajasthan /

udaipur murder case thousands of people gathered in jaipur to given tribute to tailor kanhaiyalal rjsr

उदयपुर मर्डर केस: कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि देने उमड़ा जयपुर, हनुमान चालीसा का किया पाठ

उदयपुर में हत्या के शिकार हुये कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि देने के लिये उमड़े लोग.

उदयपुर में हत्या के शिकार हुये कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि देने के लिये उमड़े लोग.

जयपुर में हजारों लोगों ने दी कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि: उदयपुर के टेलर कन्हैयालाल की निर्मम हत्या (Udaipur Murder Case) से आहत जयपुरवासियों ने रविवार को श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया. सभा में कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि (Tribute to Kanhaiyalal) देने के लिये हजारों लोगों का सैलाब उमड़ा. सभा में हनुमान चालीसा का पाठ किया गया. सभा में मौजूद लोगों ने कन्हैयालाल के कातिलों को फांसी की सजा देने की मांग की है.

जयपुर. उदयपुर में नृशंस हत्या (Udaipur Murder Case) के शिकार हुये टेलर कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि (Tribute to Kanhaiyalal) देने के लिये रविवार को जयपुर उमड़ पड़ा. कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि देने के लिये राजधानी जयपुर के स्टेच्यू सर्किल पर हजारों की तादाद में उमड़े लोगों ने एक सुर में घटना का जमकर विरोध जताया. विरोध प्रदर्शन में शामिल हर कोई कन्हैया के हत्यारों को फांसी की मांग कर रहा था. इस दौरान आम लोगों के साथ साध-ुसंत और महंतों ने भी कन्हैयालाल को श्रद्धाजंलि दी. उदयपुर में जिस अमानवीय तरीके से कन्हैयालाल की हत्या को अंजाम दिया गया उसका गुस्सा यहां मौजूद हर शख्स के चेहरे पर नजर आ रहा था.

कन्हैयालाल को श्रद्धासुमन अर्पित करने वालों ने हनुमान चालीसा का पाठ किया. बाद में मौन रखकर दिवगंत की आत्मा की शांति की प्रार्थना की. कन्हैया की हत्या ने समाज के हर तबके को झकझोर कर रख दिया है. शांति, सौहार्द्र और भाईचारे की मिसाल माने जाने वाले सूबे में हुई इस घटना से लोग हैरान हैं, श्रद्धाजंलि सभा में आये लोगों का कहना था कि आखिर कट्टरपंथ का पाठ पढकर इस तरह इंसान को मौत के घाट उतार देना भला कौन बर्दाश्त कर सकता है.


कन्हैया की हत्या से केवल राजस्थान ही नहीं बल्कि समूचा देश आहत है
इस घटना से न केवल राजस्थान बल्कि समूचा देश आहत है. घटना के विरोध में गांव से लेकर शहर तक बंद हो रहे हैं. सभ्य समाज इस हिंसा के विरोध में हर जगह खड़ा है. इंसानियत को बचाने के लिए लोग आगे आ रहे हैं. लोगों का कहना था कि हिंसा का जवाब हिंसा नहीं हो सकता. जरूरत आतंक के उन चेहरों को पहचानने की है जो मजहब की आड़ लेकर हैवानियत की हदें पार कर रहे हैं. भारत ने सदियों से हर धर्म के लिए दरवाजे खुले रखे हैं. उसकी रग-रग में धर्मनिरपेक्षता बसती है.

आपके शहर से (जयपुर)

किसके चेहरे पर कांग्रेस लड़ेगी 2023 विधानसभा चुनाव, राजस्थान के मंत्री उदयलाल आंजना ने दिया जवाब

Rajasthan Student Union Election: मंत्री की बेटी निहारिका जोरवाल को नहीं मिला टिकट, निर्दलीय लड़ने की तैयारी

RBSE 10th 12th Exam 2023: राजस्थान बोर्ड परीक्षाओं के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, जान लें जरूरी बातें

यहां हाथ में जूता-चप्पल लेकर परीक्षा देने पहुंचे कॉलेज स्टूडेंट, छात्र नेता बोले- हाल है बेहाल

11 माह के नवजात को पिता ने नहर में जिंदा फेंका, दो साल पहले की थी लव मैरिज

राजस्थान: आत्मदाह करने वाले पुजारी की मौत, 18 घंटे चला उपचार; कड़ी सुरक्षा में होगा अंतिम संस्कार

राजस्‍थान में भीषण सड़क हादसा, 8 श्रद्धालुओं की मौत, 16 से अधिक घायल

Rajasthan: गहलोत सरकार महिलाओं को देगी बड़ा तोहफा, मुफ्त में मिलेगा स्मार्टफोन, जानें सबकुछ

कटीली झाड़ियों में मिली थी नवजात, अस्पताल पहुंचते ही बन गई परी, डॉक्टर्स के चेहरे पर आई मुस्कान

उदयपुर के व्यापारियों के लिए खुशखबरी! एयरपोर्ट परिसर पर बनेगा एयर कार्गो, मिलेगा ये फायदा

घर पर सो रहा था पति, पत्नी ने दिया बड़े कांड को अंजाम, जागा तो निकाला चाकू और फिर...


जयपुर ने भी सद्भावना के इस यज्ञ में अपनी आहुति दी
उदयपुर के इन दोनों गुनहगारों ने समाज के हर वर्ग को झकझोरा है. इसलिए आज हर कोई अपने गुस्से का इजहार कर रहा है. जयपुर ने भी सद्भावना के इस यज्ञ में अपनी आहुति दी. उदयपुर मर्डर केस के बाद प्रदेशभर में लगी धारा-144 के बीच आयोजित इस श्रद्धाजंलि सभा के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस सुरक्षा बल तैनात रहा.

Tags:Jaipur news, Murder case, Rajasthan news, Udaipur news