होम / न्यूज / राजस्थान /

11 माह के नवजात को पिता ने नहर में जिंदा फेंका, दो साल पहले की थी लव मैरिज

11 माह के नवजात को पिता ने नहर में जिंदा फेंका, दो साल पहले की थी लव मैरिज

Jalore News Today: राजस्थान के जालोर जिले के सांचौर में 11 माह के नवजात को पिता ने नर्मदा नहर में जिंदा फेंक दिया.

Jalore News Today: राजस्थान के जालोर जिले के सांचौर में 11 माह के नवजात को पिता ने नर्मदा नहर में जिंदा फेंक दिया.

Jalore News: राजस्थान के जालोर जिले के सांचौर में दिल दहलाने वाली वारदात हुई. 11 माह के नवजात को पिता ने नर्मदा नहर में जिंदा फेंक दिया. पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया. आरोपी ने दो साल पहले लव मैरिज की थी. आरोपी ने अपनी पत्नी को बताया था कि वह बेटे को दादा-दादी के पास छोड़ने जा रहा था.

श्याम बिश्नोई.

जालोर. जिले के सांचौर में दिल दहलाने वाली घटना सामने आई. पड़ोसी राज्य गुजरात के रहने वाले एक पिता ने अपने ही 11 माह के नवजात बेटे को जिंदा नर्मदा नहर में फेंक दिया. घटना की जानकारी मिलने पर सांचौर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और पिता को हिरासत में ले लिया. पुलिस ने नवजात की तलाश शुरू की और 24 घंटे बाद शव तेतरोल गांव के पास नहर में मिला. आरोपी मुकेश बेरवाल गुजरात का रहने वाला है. आरोपी ने दो साल पहले लव मैरिज की थी और फिलहाल बेरोजगार था.

पुलिस के मुताबिक, गुजरात का रहने वाला मुकेश बेरवाल अपनी पत्नी उषा और बेटे राजवीर के साथ जालोर के सांचौर इलाके में पहुंचा था. सांचौर के थानाधिकारी प्रवीण कुमार ने कहा, ‘दंपति अपने बेटे को एक अच्छा जीवन देना चाहते थे, लेकिन मुकेश कुछ ज्यादा कमा नहीं पा रहा था. वह बच्चे को पूरा खाना भी नहीं खिला पा रहा था, इसलिए उसने उसे मारने का फैसला किया.’ कुमार के अनुसार, ‘मुकेश जानता था कि नर्मदा नहर जालोर में बहती है. इसलि‍ए वह लगभग 50 किलोमीटर दूर नर्मदा नहर के पास पहुंचा, ताकि बच्‍चे को उसमें फेंक सके.’


आपके शहर से (जालोर)

महिला ने रात में की पति की हत्या, फिर रची साजिश; सुबह करवा दिया अंतिम संस्कार; लेकिन तभी...

Ravana Dahan: रावण की ऐसी दुर्गति...दहन से पहले ही टूट गई गर्दन, डेढ़ लाख में तैयार हुआ था पुतला

भरतपुर में नीतू किन्नर की अनोखी पहल, 10 साल में 100 गरीब बेटियों के हाथ करवाए पीले

Nagaur: लालटेन की रोशनी से पढ़ाई कर ट्रक ड्राइवर का बेटा बना अफ़सर, UPSC में मिला यह रैंक

Dholpur: पाताल तोड़ 7 मंजिला बावड़ी में 4 मंजिल पानी की सतह में नीचे, 3 हैं ऊपर, जाने खासियत

राजस्थान सरकार की बॉन्ड नीति का विरोध, जयपुर में रेजिडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल शुरू, राज्य में सांकेतिक विरोध जारी

राजस्थानः बेरोजगारों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, दांडी यात्रा पर निकल पड़े युवा

नाइट टूरिज्म, वाइल्ड लाइफ ट्रेल और डेजर्ट एस्ट्रो समेत राजस्‍थान में पर्यटकों के ल‍िए होगा बहुत कुछ खास

Nagaur: 'आलू किंग' रोहित शर्मा 45 साल से परोस रहे चाट, लाजवाब स्‍वाद बना देगा आपको दीवाना

यूरोप के Sea Beach पर बिकनी गर्ल्स के बीच लुगड़ी में भारत की महिला, बोलती हैं फर्राटेदार इंग्लिश

OMG: बड़ा ढीठ निकला भरतपुर का रावण, पेट्रोल-डीजल डालने के बावजूद जलने से करता रहा इनकार


थानाधिकारी के मुताबिक, मुकेश और उषा ने प्रेम विवाह किया था. उन्होंने बताया कि मुकेश ने अपनी पत्नी से झूठ बोला था कि उसके पिता सांचौर के एक गांव में रहते हैं और दोनों अपने बेटे को उनके पास छोड़ सकते हैं.

कुमार के अनुसार, ‘मुकेश अपनी पत्‍नी और बच्चे के साथ सांचौर पहुंचा. उसने उषा से कहा कि वह बच्‍चे को अपने पिता के पास छोड़कर आ रहा है, तब तक वह वहीं रुके। मुकेश ने कहा कि चूंकि, दोनों ने अंतरजातीय विवाह किया है, इसलिए उसके पिता उन्हें स्वीकार नहीं करेंगे.’

थानाधिकारी ने बताया कि इसके बाद युवक ने मासूम बच्‍चे को ले लिया और करीब 150 से 200 मीटर दूर जाकर नहर में फेंक दिया. कुमार के मुताबिक, मुकेश ने अपने बेटे को नहर में फेंकने से पहले चारों तरफ देखा और जब उसे विश्वास हो गया कि कोई उसे नहीं देख रहा है, तब उसने बच्‍चे को नहर में फेंक दिया. हालांकि, एक स्थानीय व्यक्ति ने मुकेश को दूर से ऐसा करते हुए देख लिया.कुमार के अनुसार, मुकेश ने लौटकर उषा से कहा कि लड़का अब अपने दादा के पास है और दोनों जैसे ही वहां से आगे बढ़े, उस स्थानीय व्यक्ति ने उसे पकड़ लिया. कुमार ने बताया कि संबंधित व्यक्ति ने पुलिस को भी सूचित किया, जिसके बाद मुकेश को हिरासत में लिया गया और उससे पूछताछ की गई. उन्होंने बताया कि पूछताछ में मुकेश ने युवक को नहर में फेंकने की बात कबूल की है.

Tags:Rajasthan news, Rajasthan news live

अधिक पढ़ें