Home / News / sports /

विराट कोहली के साथी खिलाड़ी को दिल्‍ली पुलिस ने पीटा, जानें पूरा मामला

विराट कोहली के साथी खिलाड़ी को दिल्‍ली पुलिस ने पीटा, जानें पूरा मामला

विकास टोकस 2016 में विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का हिस्‍सा थे. (Virat Kohli/kooapp)

विकास टोकस 2016 में विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का हिस्‍सा थे. (Virat Kohli/kooapp)

बात 26 जनवरी की है, जब विराट कोहली की कप्‍तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का हिस्‍सा रह चुके एक खिलाड़ी की कार को उनके गांव के करीब पुलिस ने रोक लिया और 2 हजार रुपये की मांग की. विरोध करने पर पुलिस वाले विकास की कार में आकर बैठ गए और गलत व्‍यवहार करने लगे.

नई दिल्‍ली. विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्‍तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) टीम का हिस्‍सा रह चुके भारतीय खिलाड़ी के साथ दिल्‍ली पुलिस की मारपीट का मामला सामने आया है. एएनआई की खबर के अनुसार आईपीएल (IPL) खिलाड़ी विकास टोकस को दिल्‍ली पुलिस ने 26 जनवरी को बुरी तरह पीटा था. इस पिटाई में उनकी आंख के नीचे भी एक जोरदार मुक्‍का लगा. 2016 में आरसीबी टीम का हिस्‍सा रह चुके विकास ने इसके बाद दिल्‍ली पुलिस हेड क्‍वार्टर में शिकायत दर्ज कराई है.

विकास के अनुसार 26 जनवरी को उनके गांव के नजदीक (भीकाजी कामा पुलिस स्‍टेशन के क्षेत्र में आता है) कुछ पुलिस वालों ने उनकी कार को रोका और 2 हजार रुपये की मांग की. पुलिस ने आरोप लगाया कि उन्‍होंने मास्‍क नहीं पहना हुआ था. जिसका विकास ने विरोध किया तो पुलिस वाले उनकी कार में बैठ गए और उनके साथ गाली गलौज करने लगे. इस दौरान एक पुलिस वाले ने उन्‍हें जोरदार मुक्‍का मारा.


Brendan Taylor Spot Fixing: स्पॉट फिक्सिंग का खुलासा करने वाले कप्तान पर आईसीसी ने लगाया बैन

बात दोपहर 12 बजे की है, जब वो अपने एक क्रिकेटर दोस्‍त के घर से अपने घर जा रहे थे.विकास ने बताया पुलिस वाले उन्‍हें स्‍टेशन ले गए और आरोप लगाया कि वो राइफल लेकर भाग रहे हैं. उन्‍होंने उनका फोन छीन लिया. इसके बाद स्‍टेशन के एक पुलिस वाले ने उनसे समझौता करने के लिए कहा कि उन्‍होंने गलती की है. इसके बाद विकास ने डीसीपी और सीपी को ईमेल भेजकर आंख के नीचे मुक्‍का मारने वाले और एक अन्‍य पुलिस वाले को निलंबित करने की मांग की.

Under 19 World Cup पर कोरोना का अटैक, 2 मैच रद्द, कनाडा के 9 खिलाड़ी संक्रमित

वहीं डीसीपी साउथ वेस्‍ट गौरव शर्मा ने आरोपों को बेबुनियाद बताया. उन्‍होंने कहा कि विकास को चेकिंग के लिए रोका गया था. इसके बाद उन्‍होंने यह कहकर गलत व्‍यवहार करना शुरू कर दिया कि एक कॉन्स्टेबल की कैसे नेशनल स्‍तर के क्रिकेटर को रोकने की हिम्‍मत हुई. इसके बाद उन्‍हें पुलिस स्‍टेशन लाया गया, जहां विकास और उनके ससुर ने लिखित में माफीनामा दिया. जिसके बाद उन्‍हें छोड़ दिया गया और अब वो गलत आरोप लगा रहे हैं. डीसीपी ने बताया कि विकास की आंख के नीचे चोट पुलिस स्‍टेशन लाते समय लगी थी.

Tags:Delhi police, IPL, Royal Challengers Bangalore, Virat Kohli