लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबफूडविधानसभा चुनावमनोरंजनफोटोकरियर/ जॉब्सक्रिकेटलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नरMission Swachhta Aur Paani#RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrencyNetra Suraksha
होम / न्यूज / उत्तर प्रदेश /

पूर्व विधायक अभय नारायण समेत परिवार के चार सदस्यों को उम्रकैद, 24 साल पुराना है मामला

पूर्व विधायक अभय नारायण समेत परिवार के चार सदस्यों को उम्रकैद, 24 साल पुराना है मामला

Azamgarh News: अभियोजन पक्ष के अनुसार रामनयन सिंह पुत्र रामबहोर सिंह निवासी उर्दिहा नई बस्ती कोलवा थाना रौनापार के भाई संतराज को कोटे की दुकान आवंटित हुई थी. इससे पहले यह दुकान अभय नारायण पटेल को आवंटित थी. इस बात से गांव के अभय नारायण रंजिश रखते थे. 22 अक्टूबर 1998 की शाम करीब 7 बजे जब संतराज चांदपट्टी से घर लौट रहे थे तो रास्ते में अभय नारायण, लाल बिहारी सिंह, लाल बहादुर सिंह और हरेंद्र पुत्र लालू ने संतराज को रोक लिया और गोली मार दी. जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

Azamgarh: पूर्व विधायक अभय नारायण समेत चार को उम्रकैद

Azamgarh: पूर्व विधायक अभय नारायण समेत चार को उम्रकैद

हाइलाइट्स

22 अक्टूबर 1998 की शाम को संतराज की हुई थी हत्या
मामले में कोर्ट ने 2001 में अभय नारायण को बनाया आरोपी

आजमगढ़. हत्या के 24 साल पुराने मामले में बुधवार को एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट के न्यायाधीश ओम प्रकाश वर्मा तृतीय ने पूर्व विधायक व बीजेपी नेता अभय नारायण पटेल सहित चार आरोपितों को आजीवन कारावास और 20-20 हजार रूपये अर्थदंड की सजा सुनाई। सजा का एलान होने के बाद पूर्व विधायक को कड़ी सुरक्षा के बीच जेल भेज दिया गया.

अभियोजन पक्ष के अनुसार रामनयन सिंह पुत्र रामबहोर सिंह निवासी उर्दिहा नई बस्ती कोलवा थाना रौनापार के भाई संतराज को कोटे की दुकान आवंटित हुई थी. इससे पहले यह दुकान अभय नारायण पटेल को आवंटित थी. इस बात से गांव के अभय नारायण रंजिश रखते थे. 22 अक्टूबर 1998 की शाम करीब 7 बजे जब संतराज चांदपट्टी से घर लौट रहे थे तो रास्ते में अभय नारायण, लाल बिहारी सिंह, लाल बहादुर सिंह और हरेंद्र पुत्र लालू ने संतराज को रोक लिया और गोली मार दी. जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. पुलिस ने जांच पूरी करने के बाद अभय नारायण का नाम निकालते हुए तीन आरोपियों के विरुद्ध चार्जशीट न्यायालय में प्रेषित कर दिया.

पांच गवाहों को किया गया पेश
दौरान मुकदमा वादी रामनयन के बयान पर अदालत ने 2001 में अभय नारायण पटेल को बतौर आरोपी न्यायालय में तलब किया. अभियोजन पक्ष की तरफ से सहायक शासकीय अधिवक्ता दीपक मिश्रा ने वादी मुकदमा समेत पांच गवाहों को न्यायालय में पेश कराया. दोनों पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद अदालत ने आरोपी अभय नारायण पटेल, लाल बहादुर, लाल बिहारी तथा हरेंद्र को आजीवन कारावास और प्रत्येक को बीस हजार रूपए अर्थदंड की सजा सुनाई.

आपके शहर से (आजमगढ़)

उत्तर प्रदेश में भी सामने आया आफताब जैसा प्रिंस, प्रेमिका के 6 टुकड़े कर अलग-अलग जगह फेंके

शर्मनाक: आजमगढ़ में कलयुगी पिता ने अपनी ही बेटी की लूटी अस्मत, पुलिस ने किया गिरफ्तार 

प्रेमिका का मर्डर कर शव के छह टुकड़े करने वाले हत्यारे को UP पुलिस ने एनकाउंटर में दबोचा

आजमगढ़ में फिर बढ़ा अपराधियों का मनोबल, स्कूल जा रहे शिक्षक की गोली मारकर हत्या

Indian Railways: बलिया और आजमगढ़ से 18 को खुलेगी स्पेशल ट्रेन, जानें बिहार में स्‍टॉपेज और टाइम

आजमगढ़: छठ पूजा के दौरान बड़ा हादसा, नदी के तेज बहाव में बहे 4 किशोर

स्कूल में मासूम छात्र को दी तालिबानी सजा, बेरहमी से पिटाई के बाद प्रिंसिपल ने काटा बच्चे का बाल

आजमगढ़ में प्रेमी ने फिल्मी अंदाज में की प्रेमिका की हत्या, फिर खुद पर किया जानलेवा हमला

आजमगढ़ में कई टुकड़ों में मिले शव का खुलासा: प्रेम-प्रसंग में हुई थी हत्या, आरोपी गिरफ्तार

आजमगढ़: बसपा नेता के जुलूस में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, पुलिस महकमे में मचा हड़कंप

Big News: दिल्ली के बाद अब आजमगढ़ में मिला टुकड़े-टुकड़े में युवती का शव, पुलिस महकमे में मचा हड़कंप


ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Azamgarh news, UP latest news

FIRST PUBLISHED : September 15, 2022, 07:13 IST
अधिक पढ़ें