Home / News / uttar-pradesh /

UP Chunav: जहां से बेटा BJP विधायक, उसी सीट पर Akhilesh Yadav ने बाहुबली पिता को दे दिया टिकट, जानें कहां होगा संग्राम?

UP Chunav: जहां से बेटा BJP विधायक, उसी सीट पर Akhilesh Yadav ने बाहुबली पिता को दे दिया टिकट, जानें कहां होगा संग्राम?

बेटा BJP विधायक, बाहुबली पिता को अखिलेश ने दे दिया टिकट (फोटो- न्यूज18)

बेटा BJP विधायक, बाहुबली पिता को अखिलेश ने दे दिया टिकट (फोटो- न्यूज18)

UP Elections 2022: खास बात यह है कि बाहुबली नेता रमाकांत यादव के पुत्र अरुणकांत यादव फूलपुर पवई सीट से बीजेपी के विधायक हैं और उनका फिर इसी सीट से चुनाव लड़ना लगभग तय माना जा रहा है. ऐसे में इस बार यहां चुनाव दिलचस्प होता दिख रहा है. कारण कि यहां पिता-पुत्र के बीच सीधी लड़ाई देखने को मिल सकती है.

आजमगढ़ : यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Chunav 2022) में सत्ता के सिंहासन तक पहुंचने के लिए सभी दलों को मजबूत प्रत्याशियों की तलाश है. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने आजमगढ़ (Azamgarh News) में बड़ा दाव खेल दिया है. पार्टी ने चार बार सांसद व चार बार विधायक रहे रमाकांत यादव को फूलपुर पवई सीट से उम्मीदवार बनाया है. खास बात यह है कि रमाकांत यादव के पुत्र अरुणकांत यादव यहां से बीजेपी के विधायक हैं और उनका फिर इसी सीट से चुनाव लड़ना लगभग तय माना जा रहा है. ऐसे में इस बार यहां चुनाव दिलचस्प होता दिख रहा है. कारण कि यहां पिता-पुत्र के बीच सीधी लड़ाई देखने को मिल सकती है.

दरअसल, बाहुबली रमाकांत यादव की गिनती पूर्वांचल के कद्दावर नेताओं में होती है. वे फूलपुर विधानसभा क्षेत्र से चार बार विधायक और आजमगढ़ संसदीय सीट से चार बार सांसद रह चुके हैं. वर्ष 2019 में बीजेपी से टिकट न मिलने पर रमाकांत यादव ने कांग्रेस का दामन थाम लिया था और भदोही से लोकसभा चुनाव लड़े थे लेकिन उन्हें मात्र 26 हजार वोट मिला था. इसके बाद से रमाकांत यादव राजनीति में हाशिए पर दिख रहे थे. पिछले दिनों उन्होंने सपा ज्वाइन कर ली थी.


माना जा रहा था कि सपा उन्हें जौनपुर जिले की मल्हनी सीट से मैदान में उतारेगी ताकि धनंजय सिंह को कड़ी टक्कर दी जा सके लेकिन पार्टी ने सभी को चौंकाते हुए रमाकांत यादव को फूलपुर पवई सीट से प्रत्याशी बना दिया है. रमाकांत यादव को टिकट देकर सपा ने बड़ा दांव खेल दिया है लेकिन यहां पार्टी में अंतरकलह बढ़ सकती है. कारण कि पूर्व विधायक श्याम बहादुर यादव का रमाकांत यादव से 36 का आंकड़ा है. श्याम बहादुर भी टिकट की दावेदारी कर रहे थे.

आपके शहर से (आजमगढ़)

मकान के अंदर चल रहा था धर्मांतरण का खेल, VHP की शिकायत पर पुलिस ने की रेड, जानें फिर क्‍या हुआ?

अखिलेश ने फिर किया करारा हमला, कहा-बीजेपी के अदृश्य सहयोगी बाहर आते हैं और नफरत के बीज बोते हैं

गुडलक हत्याकांड में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुख्य आरोपी अंकुल यादव उर्फ डॉन मुठभेड़ में हुआ घायल

आजमगढ़ में कोटेदार के इकलौते बेटे की गोली मारकर हत्या, 5 जून को होनी थी शादी

आजमगढ़ में बड़ा सड़क हादसा, पिकअप-ऑटोरिक्शा की भिड़ंत, तीन की दर्दनाक मौत, 9 गंभीर रूप से घायल

आजमगढ़ उपचुनाव के लिए डिंपल यादव की जमीन तैयार करने में जुटे अखिलेश? 5 दिन में दूसरे दौरे से लग रहे कयास

मोटरसाइकिलों की आमने-सामने ‌भिड़ंत, 3 युवकों की दर्दनाक मौत

पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू हत्याकांड में माफिया कुंटू सिंह समेत 7 को उम्रकैद की सजा

बसपा नेता बाहुबली भूपेन्द्र सिंह मुन्ना की बढ़ी मुश्किलें, घर पर नोटिस चस्‍पा, जानें पूरा मामला

गुडलक हत्याकांड में हाईवोल्टेज ड्रामाः परिजन ने थाने में किया आत्मदाह का प्रयास

आजमगढ़ के गुडलक हत्याकांड का खुलासा, सामने आई चौंकाने वाली वजह, 3 गिरफ्तार


वहीं जो सबसे अधिक दिलचस्प बात है कि रमाकांत यादव के पुत्र विधायक अरुणकांत यादव भी इसी सीट से ताल ठोकने की तैयारी में हैं. वह पूर्व में कह भी चुके हैं कि पिता लड़ें या कोई और लेकिन वे चुनाव जरूर लड़ेंगे. ऐसे में लड़ाई दिलचस्प होने की संभावना है.  कारण कि पहली बार आजमगढ़ में ऐसा होगा जब पिता-पुत्र एक दूसरे के खिलाफ ताल ठोकते नजर आएंगे. वैसे मतदान यहां सातवें चरण में होना है लेकिन पिता-पुत्र के बीच कड़ी जंग की चर्चा जोरदार है.

Tags:Assembly elections, Azamgarh news, Uttar Pradesh Assembly Elections, ​​Uttar Pradesh News