Home / News / uttar-pradesh /

यूपी चुनाव से पहले 30 हजार से ज्यादा फर्जी 'आधार कार्ड' बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, 8 गिरफ्तार

यूपी चुनाव से पहले 30 हजार से ज्यादा फर्जी 'आधार कार्ड' बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, 8 गिरफ्तार

Ghaziabad: उन्होंने कई नेपाली और बांग्लादेशी युवकों के भी स्थानीय नाम-पते पर 30 हजार फर्जी आधार कार्ड बनाए हैं.

Ghaziabad: उन्होंने कई नेपाली और बांग्लादेशी युवकों के भी स्थानीय नाम-पते पर 30 हजार फर्जी आधार कार्ड बनाए हैं.

Ghaziabad News: पुलिस ने जब आरोपियों से पूछताछ की तो मालूम हुआ कि अंकित गुप्ता नाम का शख्स इस सेंटर का संचालक है. उसके पास बीएससी की डिग्री है. पूछताछ में जानकारी मिली कि अंकित ने असम की एक कंपनी आसूजा से कॉन्टैक्ट कर आधार कार्ड बनाने के लिए आईडी बनवा ली. फिर नोएडा की फ्रंटेक सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी से सुपरवाइजर और ऑपरेटर की कई आईडी बनवाईं.

गाजियाबाद. उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) को लेकर चुनाव प्रचार का दौर जोरशोर से चल रहा है. इसी बीच गाजियाबाद पुलिस (Ghaziabad Police) ने अवैध तरीके से किसी भी पते पर आधार कार्ड (Aadhar Card) बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में शुक्रवार को आठ महिला-पुरुषों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों से बड़ी संख्या में अंगूठे के निशान, लैपटॉप, मोबाइल और अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं. पुलिस के मुताबिक पूछताछ के दौरान आरोपियों ने कबूला है कि उन्होंने कई नेपाली और बांग्लादेशी युवकों के भी स्थानीय नाम-पते पर 30 हजार फर्जी आधार कार्ड बनाए हैं.

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, ये आरोपी झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले लोगों को टारगेट करते थे. इसके बाद उनका फर्जी आधार कार्ड बनाते थे. यह गिरोह आधार कार्ड बनाने के लिए 5 हजार रुपये लेता था. इतना ही नहीं, नाम और पता बदलने के लिए भी 2-3 हजार रुपये वसूलता था. बताया जा रहा है कि यह गैंग अभी तक कम से कम 30 हजार नकली आधार कार्ड बना चुकी है.


आपके शहर से (गाजियाबाद)

गाजियाबाद नगर निगम ने बदला नियम, संपत्ति में नाम दर्ज कराना हुआ महंगा

गाज़ियाबाद :- आईएएमआर कॉलेज में हुई न्यू एजुकेशन पॉलिसी 2020 पर चर्चा, शिक्षा मंत्रालय को सौंपेंगे सुझाव 

पासपोर्ट से संबंधित समस्‍याओं का लोक अदालत में हो सकता है समाधान, इस दिन लगेगी अदालत

गाजियाबाद से दिल्ली के बीच सफर करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी,अब नहीं बदलना पड़ेगा ऑटो

गाजियाबाद में पहली बार मरीज को बिना वायर वाला पेसमेकर लगाया गया

रैपिड रेल के ऊपर से जाएगा रोपवे, जानें कितना ऊंचा होगा रोपवे ? 

गाज़ियाबाद :- डाक टिकट की ऐसी लगी लत, की तोड़ डाले सारे रिकॉर्ड 

गाजियाबाद पुलिस के ऑपरेशन पाताल से खलबली, 75 तमंचे बरामद और 25 अपराधी गिरफ्तार

सड़क हादसा: डिवाइडर से टकराकर पलटा वाहन, आग लगने से दो लोग जिंदा जले

गाजियाबाद:-ग्रामीण क्षेत्रों में अब नवजात बच्चों को रखने के लिए बनेंगी पांच नर्सरी,इलाज के लिए नहीं लगाने होंगे श?

ड्रोन महोत्‍सव में पहली बार दिखेगी ड्रोन टैक्‍सी, आम जनता भी उड़ा सकेगी ड्रोन


ऐसे करते थे जालसाजी
पुलिस ने जब आरोपियों से पूछताछ की तो मालूम हुआ कि अंकित गुप्ता नाम का शख्स इस सेंटर का संचालक है. उसके पास बीएससी की डिग्री है. पूछताछ में जानकारी मिली कि अंकित ने असम की एक कंपनी आसूजा से कॉन्टैक्ट कर आधार कार्ड बनाने के लिए आईडी बनवा ली. फिर नोएडा की फ्रंटेक सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी से सुपरवाइजर और ऑपरेटर की कई आईडी बनवाईं.

क्या है यूपी में चुनाव का पूरा शेड्यूल
उत्तर प्रदेश में सात चरणों में मतदान होना है. इसकी शुरुआत 10 फरवरी को राज्य के पश्चिमी हिस्से के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान के साथ होगी. दूसरे चरण में 14 फरवरी को राज्य की 55 सीटों पर मतदान होगा. उत्तर प्रदेश में तीसरे चरण में 59 सीटों पर, 23 फरवरी को चौथे चरण में 60 सीटों पर, 27 फरवरी को पांचवें चरण में 60 सीटों पर, तीन मार्च को छठे चरण में 57 सीटों पर और सात मार्च को सातवें चरण में 54 सीटों पर मतदान होगा. वहीं यूपी चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे.

Tags:Aadhar card, Election Commission of India, Fake Aadhar Card, Ghaziabad News, Ghaziabad Police, UP Assembly Election 2022, UP crime, UP news, UP police