कुशीनगरः पीड़ित मां के पास इलाज के लिए 65 रुपए नहीं थे और मासूम की चली गई जान

परिजनों का आरोप है कि डिस्पेंसरी ने मात्र 65 रुपये की दवा नहीं दिया जबकि कुछ देर बाद उन्होंने पैसा देने की बात कही थी, लेकिन कर्मचारियों ने दवा हाथ से छीन लिया और समय पर दवा नहीं मिलने से 8 वर्षीय मासूम की दर्दनाक मौत हो गई

news18 hindi , News18 Uttar Pradesh

Your browser doesn't support HTML5 video.

कुशीनगर जिले में एक मासूम की समय पर इलाज नहीं मिलने से मौत होने का मामला सामने आया है. एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती मासूम की मौत से गुस्साए परिजनों ने बाद में जमकर हंगामा किया. परिजनों का आरोप है कि अस्पताल में बने डिस्पेंसरी के कर्मचारियों ने पैसा के बिना दवा देने से मना कर दिया, जिससे मासूम की मौत हो गई.यह भी पढ़ें-कुशीनगर : बड़ी गण्डक नहर में मिला किशोरी का अर्धनग्न अवस्था में शवपरिजनों का आरोप है कि डिस्पेंसरी ने मात्र 65 रुपये की दवा नहीं दिया जबकि कुछ देर बाद उन्होंने पैसा देने की बात कही थी, लेकिन कर्मचारियों ने दवा हाथ से छीन लिया और समय पर दवा नहीं मिलने से 8 वर्षीय मासूम की दर्दनाक मौत हो गई. हालांकि कुछ देर बाद सूचना पाकर मौके  पर पहुंची पुलिस ने मृतक के परिजनों को कार्यवाही का आश्वासन देकर मामला शांत कराया.रिपोर्ट के मुताबिक पडरौना कोतवाली के लाजपतनगर निवासी अनीता के पुत्र की तबीयत खराब होने के बाद उसे किलकारी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के बाद उसकी हालत में सुधार भी हो गई थी, लेकिन दोबारा मासूम की तबियत अचानक खराब होने के बाद डाक्टर के कहने पर पीड़ित मां अस्पताल की डिस्पेंसरी में गई तो डिस्पेंसरी पर तैनात कर्मचारी ने बिना पैसे के दवा देने से इंकार कर दिया.यह भी पढ़ें-कुशीनगरः फंदे से लटके मिले एक ही परिवार के तीन सदस्यों के शवपीड़िता का आरोप है कि समय पर डिस्पेंसरी से दवा नहीं मिलने से मासूम की तबितय ज्यादा बिगड़ गई और उसे आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा, जहां उसकी मौत हो गई. परिजनों का कहना है कि अगर समय से दवा मिल गया होता तो बच्चे की मौत नहीं हुई होती.वहीं, चिकित्सक कमलेश वर्मा का कहना है कि बच्चे की हालत काफी खराब थी, जिसके कारण उसकी तबीयत बिगड़ी और मौत हो गई और दवा छीनने पर सफाई देते हुए डाक्टर ने कहा कि उन्होंने खुद बच्चे को दवा नहीं देने के लिए कहा था इसलिए डिस्पेंसरी के कर्मचारी ने दवा ले लिया था. फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है.(रिपोर्ट-अशोक शुक्ल, कुशीनगर)

Trending Now