लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबबजट 2023क्रिकेटफूडमनोरंजनवेब स्टोरीजफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrency
होम / न्यूज / उत्तर प्रदेश /

Uttar Pradesh: आखों का मुफ्त ऑपरेशन बना आफत, छह मरीजों ने गंवाई रोशनी, कई की आंखें सड़ीं

Uttar Pradesh: आखों का मुफ्त ऑपरेशन बना आफत, छह मरीजों ने गंवाई रोशनी, कई की आंखें सड़ीं

UP News: अस्पताल और डॉक्टरों की लापरवाही से 6 मरीजों के आंखों की रोशनी गंवाने का ये मामला उत्तर प्रदेश के कानुपर का है. ऑपरेशन के बाद आंखें संक्रमण के कारण गल गईं. सभी मरीजों ने मुफ्त में आंखों का ऑपरेशन करवाया था.

उत्तर प्रदेश के कानपुर में मुफ्त में आंखों का ऑपरेशन कराना कुछ लोगों को खासा महंगा पड़ गया (ऑपरेशन करवाने वाले लोग)

उत्तर प्रदेश के कानपुर में मुफ्त में आंखों का ऑपरेशन कराना कुछ लोगों को खासा महंगा पड़ गया (ऑपरेशन करवाने वाले लोग)

हाइलाइट्स

इस पूरे मामले में अस्पताल की लापरवाही सामने आने के बाद कार्रवाई हुई है.
मामले की जांच के बाद डॉक्टर नीरज गुप्ता जिन्होंने ऑपरेशन किया था का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है
2 नवंबर को कानपुर के बर्रा स्थित आराध्या आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन का कैंप लगाया गया था

कानपुर. उत्तर प्रदेश के लोगों के लिये आंखों का मुफ्त ऑपरेशन करवाना जी का जंजाल बन गया. मामला कानपुर से जुड़ा है. जिले के शिवराजपुर स्थित एक गांव का है जहां के रहने वाले तकरीबन दो दर्जन लोगों ने चैरिटी के तहत होने वाले आंखों के मोतियाबिंद ऑपरेशन मुफ्त कराने के चक्कर में छह लोगों ने अपनी आंखें गंवा दीं, इसके बाद मरीजों ने सीएमओ कानपुर से शिकायत की और अब उनमें से चार मरीजों की आंखें सड़ चुकी हैं. ये बातें मेडिकल कॉलेज के नेत्र विभाग ने जांच के बाद कही.

दरअसल 2 नवंबर को कानपुर के बर्रा स्थित आराध्या आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन का कैंप एक चैरिटी के तहत किया गया जिसमें मरीजों की आंखों का ऑपरेशन किया गया लेकिन 10 दिन बाद ही जब मरीजों को कुछ दिक्कत हुई जिसमें से 6 मरीज ने अपनी आंखों की रोशनी खो दी. इसकी शिकायत लेकर पहले वह अस्पताल के जब वहां किसी ने नहीं सुनी तो उन्होंने कानपुर मुख्य चिकित्सा अधिकारी से शिकायत की, जिसके बाद जांच के आदेश दिए गए और 6 मरीजों का इलाज कानपुर के मेडिकल कॉलेज में शुरू किया गया.

छह मरीजों की आंखों की रोशनी चली गई है जब मेडिकल कॉलेज में नेत्र रोग विभाग में इनकी जांच की गई तो मालूम चला कि संक्रमण की वजह से कार्निया गर्ल कर सफेद हो गई हैं हालांकि डॉक्टर इलाज में जुट गए हैं लेकिन उम्मीद कम ही दिखाई दे रही है. इस पूरे मामले में अस्पताल की लापरवाही और डॉक्टर नीरज गुप्ता जिन्होंने ऑपरेशन किया था जांच के बाद अस्पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया गया और डॉक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. सीएमओ डॉ आलोक रंजन का कहना है कि जांच आगे बढ़ते ही अन्य धाराओं पर भी मुकदमा दर्ज कराया जाएगा.

आपके शहर से (कानपुर)

kanpur news :अनोखा विरोध प्रदर्शन, बैंड-बाजे के साथ निकली कुत्ते की शव यात्रा ,पुलिस कारवाई नहीं होने से थे निराश

UP में शादी का बदलता ट्रेंड, अब पंडितों के साथ बढ़ी एंकर्स की डिमांड, पढ़ें रोचक खबर

कुत्तों ने देखकर भोंका तो पिस्टल निकाल मार दी गोली, एक की मौत, आरोपी पर FIR दर्ज

Kanpur News: चिड़ियाघर में ही मिली कैश से भरी तिजोरी, भारी होने के कारण चोरों ने छोड़ा; आरोपी की तलाश जारी

Success Story: कानपुर में B.Tech डिग्री वाला समोसा बना चर्चा का केंद्र, पढ़ें इनसाइड स्टोरी

बीजेपी नहीं छोड़ी तो सपा नेता का भाई कर रहा दूसरा निकाह, महिला ने CP से लगाई गुहार

हार्ट अटैक-ब्रेन स्ट्रोक के बाद कानपुर में काल बना निमोनिया, लोगों की जा रही है जान

Acid Attack: रात 12 बजे घर लौटने पर पति ने पूछी देरी से आने की वजह, तो गुस्साई पत्नी ने फेंक दिया तेजाब

UP MLC Chunav: कानपुर में MLC चुनाव को लेकर वोटिंग जारी, मतदान केंद्रों पर उमड़ी भारी भीड़

क‍िसान को लूटने आए थे बदमाश पर प‍ीटने लगे माथा, लूट की यह वारदात जानकर आप भी हंसकर हो जाएंगे लोटपोट

Kanpur News : स्लम और गरीब बच्चों के भविष्य को सींच रहें 'सचान' जीवन अब असहाय नहीं 'उद्देश्य' से भरा है


ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: UP news

FIRST PUBLISHED : November 24, 2022, 10:50 IST
अधिक पढ़ें