Home / News / uttar-pradesh /

shivpal yadav hails cm yogi adityanath attacks akhilesh yadav in up assembly upat

शिवपाल यादव की किस सलाह को अखिलेश ने नहीं दिया तवज्जो.... जानें क्यों कहा- हमारा साथ लेते तो आज सत्ता में होते

Shivpal Yadav-Akhilesh Yadav Infight: शिवपाल यादव ने चर्चा के दौरान कहा कि सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मन्त्र पर काम कर रही है. इसके बाद शिवपाल ने मुख्यमंत्री की तारीफ में कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री संत है. योगी भी हैं, योग का मतलब जोड़ना होता है. मुख्यमंत्री ईमानदार और मेहनती है. वह प्रदेश को उंचाइयों पर ले जाना चाहते हैं. लेकिन वह अकेले उस ऊंचाइयों पर नहीं पहुंच सकते इसके लिए उन्हें सभी को साथ लेना होगा. इसके बाद बीजेपी विधायकों ने मेज थपथपा कर उनकी बात का समर्थन किया.

लखनऊ. यूपी विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान शिवपाल यादव और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच जारी खींचतान एक बार फिर सामने आई. प्रसपा प्रमुख व समाजवादी पार्टी के विधायक शिवपाल यादव ने सदन में ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ की और अप्रत्यक्ष रूप से अखिलेश यादव पर निशाना साधा. शिवपाल यादव ने कहा कि अगर उनकी सलाह मान लेते और उन्हें साथ ले लेते तो विधानसभा का नजारा कुछ और होता. सत्ता पक्ष विपक्ष में बैठा नजर आता. दरअसल, विधानसभा चुनाव से पहले शिवपाल यादव ने 100 सीटों की मांग की थी, लेकिन सिर्फ उन्हें एक सीट ही दी गई. शिवपाल यादव ने कहा कि अगर उनके लोगों  को टिकट मिलता तो अखिलेश आज विपक्ष नहीं सत्ता पक्ष में बैठे होते.

शिवपाल यादव ने चर्चा के दौरान कहा कि सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मन्त्र पर काम कर रही है. इसके बाद शिवपाल ने मुख्यमंत्री की तारीफ में कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री संत है. योगी भी हैं, योग का मतलब जोड़ना होता है. मुख्यमंत्री ईमानदार और मेहनती है. वह प्रदेश को उंचाइयों  पर ले जाना चाहते हैं. लेकिन वह अकेले उस ऊंचाइयों पर नहीं पहुंच सकते इसके लिए उन्हें सभी को साथ लेना होगा. इसके बाद बीजेपी विधायकों ने मेज थपथपा कर उनकी बात का समर्थन किया.


मेरे 100 लोगों को टिकट देते तो आज सत्ता में होते
इसके बाद शिवपाल ने सीधे अखिलेश यादव पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जहां तक साथ मिलने का सवाल है तो अगर विपक्ष उनका साथ ले लेता तो आज जहां सत्ता पक्ष है वहां विपक्ष बैठा होता और विपक्ष की जगह सत्ता पक्ष. शिवपाल यादव ने कहा कि मैंने अपनी पार्टी से 100 लोगों को टिकट देने की बात कही थी. उनके नाम भी दो साल पहले घोषित कर दिए थे. अगर उन 100 लोगों को टिकट  दिया होता तो विपक्ष आज सत्ता में होता. लेकिन टिकट नहीं दिया, इसलिए विपक्ष में बैठे हैं.

आपके शहर से (लखनऊ)

अखिलेश यादव ने किया डॉ. कफील की किताब का विमोचन, पढ़ें- 'गोरखपुर अस्पताल त्रासदी'

UP: हिंदू नेता कमलेश तिवारी की पत्नी को मिली सुरक्षा, जान से मारने की मिली थी धमकी

UP में चुने गए 133 असिस्टेंट प्रोफेसर ने नहीं किया ये काम तो निरस्त होगा चयन

बीजेपी सांसद निरहुआ ने सपा को बताया 'समाप्तवादी पार्टी', कहा- मुगलों की नीति पर चल रहे हैं अखिलेश

Lucknow: आखिर क्यों भूल भुलैया की ऐतिहासिक गैलरी हो गई खामोश? 3 साल से रहस्यमयी आवाज बनी सपना

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का शुभारंभ करने जालौन आएंगे पीएम मोदी और सीएम योगी, अधिकारियों ने भगवामय किया माहौल

UPSSSC PET 2022: यूपी में किन-किन पदों के लिए अनिवार्य है यूपीएसएसएससी पीईटी परीक्षा ? जानें यहां

UP: योगी सरकार ने किया 21 IPS अफसरों के तबादले, बदले गए प्रयागराज के पुलिस कप्तान

समाजवादी पार्टी में बड़े बदलाव की तैयारी में अखिलेश, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सहित सभी संगठन और प्रकोष्ठ किए भंग

UPSESSB TGT PGT Sarkari Naukri 2022: यूपी में सरकारी शिक्षक बनने का सुनहरा मौका, आवेदन करने की कल आखिरी डेट

सोनेलाल की जयंती पर दो बहनों में खींचतान, लखनऊ पुलिस की हिरासत में MLA पल्लवी पटेल समेत कई नेता


Tags:Akhilesh yadav, CM Yogi Adityanath, Lucknow news, Shivpal Yadav