Home / News / uttar-pradesh /

up budget 2022 cm yogi adityanath prepares roadmap for development of uttar pradesh upat

योगी 2.0 के पहले बजट से खींचा गया यूपी के चहुंमुखी विकास का खाका, 'उत्तम प्रदेश' बनाने के लिए उठाए ये कदम

यूपी सरकार ने छह लाख 15 हजार 518 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है.

यूपी सरकार ने छह लाख 15 हजार 518 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है.

UP Budget 2022: यूपी देश में 5 एक्सप्रेसवे वाला पहला राज्य है. वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट में यह संकल्प फिर से प्रदर्शित हुआ है. बजट में विभिन्न एक्सप्रेसवे के लिए 10,650 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. इसके साथ तीन निर्माणाधीन एक्सप्रेसवे के लिए भी 3,450 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है. इसमें बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के लिए 1,492 करोड़ रुपए, 1,107 करोड़ रुपए पूर्वांचल और 870 करोड़ रुपए गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए दिए गए हैं. बजट में मेडिकल और हेल्थ इंफ्रास्ट्रचर को मजबूत करने के लिए भी 12,242 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है.

लखनऊ. योगी सरकार ने 26 मई को उत्तर प्रदेश सरकार का नया बजट पेश किया। इस बजट में यूपी को विकास प्रदेश बनाने की दूरगामी योजना दिखाई देती है। यूपी के इतिहास का सबसे बड़े लगभग 6 लाख 15 हजार करोड़ से अधिक के अधिक बजट से यूपी में बुनियादी ढ़ांचे के विकास को ऊंचाई पर पहुंचाने की खास पहल की गई है. मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी संभालने के बाद से ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी में इंफ्रास्ट्रचर सेक्टर के विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है. इसके तहत प्रदेश भर में एक्सप्रेस वे और सड़को का जाल बिछाया जा रहा है.

यूपी देश में 5 एक्सप्रेसवे वाला पहला राज्य है. वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट में यह संकल्प फिर से प्रदर्शित हुआ है. बजट में विभिन्न एक्सप्रेसवे के लिए 10,650 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. इसके साथ तीन निर्माणाधीन एक्सप्रेसवे के लिए भी 3,450 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है. इसमें बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के लिए 1,492 करोड़ रुपए, 1,107 करोड़ रुपए पूर्वांचल और 870 करोड़ रुपए गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए दिए गए हैं. बजट में मेडिकल और हेल्थ इंफ्रास्ट्रचर को मजबूत करने के लिए भी 12,242 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है.


यूपी में एयर कनेक्टिवटी और टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए योगी सरकार निरंतर प्रयासरत है. इस साल के बजट में एयरपोर्ट के लिए 2,100 करोड़ रुपए दिए गए हैं. इसमें से 2 हजार करोड़ रुपए जेवर एयरपोर्ट और 101 करोड़ रुपए अयोध्या में एयरपोर्ट विस्तार के लिए दिए गए हैं. अयोध्या में राजजन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण तेजी से जारी है और उम्मीद है कि राम मंदिर बनने के बाद अयोध्या धार्मिक पर्यटन के प्रमुख केंद्र के रुप में उभरेगा. योगी सरकार अयोध्या के चंहुमुंखी विकास के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है.

आपके शहर से (लखनऊ)

UP: लंगूरी बंदरों का सौदा करने वाले दो तस्कर गिरफ्तार, खोपड़ी का तंत्र- मंत्र में होता है इस्तेमाल

PGI में भर्ती योगी सरकार के मंत्री 'नंदी' ने शेयर की पत्नी के साथ तस्वीर, पढ़ें उनका भावुक पोस्ट

UP में कल बंद रहेंगी शराब व बीयर की दुकानें, 'ड्राई डे' को लेकर सरकार ने जारी किया आदेश

UP JEE B.ED admit card: UP बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा का एडमिट कार्ड करें डाउनलोड

एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के समर्थन में आईं मायावती, बताई ये खास वजह

यूपी में 11 आईएएस अधिकारियों के तबादले, लखनऊ कमिश्नर हटाए गए, देखें पूरी लिस्ट

गोमती रिवरफ्रंट घोटाला: दो पूर्व मुख्य सचिव अलोक रंजन और दीपक सिंघल पर कसा शिकंजा, सीबीआई ने मांगी जांच की इजाजत

UP Loksabha Byelection Results LIVE: आजमगढ़ और रामपुर में बीजेपी ने बनाई बढ़त, सपा पिछड़ी

यूपी में 11 IPS अफसरों के तबादले, बदले गए आगरा- मेरठ के पुलिस कप्तान, देखें लिस्ट

CM योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर से टकराया पक्षी, वाराणसी में हुई इमरजेंसी लैंडिंग

UP Weather: यूपी में भीषण गर्मी और उमस से नहीं मिलेगी राहत! पढ़ें कैसा रहेगा आज का मौसम


बजट से यूपी में मेट्रो और रैपिड रेल को मिली मजबूती

योगी सरकार का संकल्प है कि यूपी के अधिकतम शहरों में मेट्रो सेवा की शुरूआत हो और इसका विस्तार किया जाए. इस वर्ष के बजट में कानपुर मेट्रो के लिए 597 करोड़ और आगरा मेट्रो के लिए 478 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. इसके साथ ही दिल्ली से मेरठ के बीच निर्माणाधीन रैपिड रेल परियोजना के लिए बजट में 1,326 करोड़ रुपए दिए गए हैं. इस परियोजना से मेरठ और दिल्ली के बीच आवाजाही करने वाले लाखों लोगों एक सुविधाजनक और अत्याधुनिक रेल सेवा का लाभ मिलेगा और मेरठ और इससे जुडे क्षेत्रो में विकास को पंख लगेंगे.

महिलाओ की सुरक्षा और रोजगार पर खास जोर

योगी सरकार के बजट में महिलाओं की सुरक्षा और रोजगार को प्राथमिकता दी गई है. महिलाओं की सुरक्षा बढ़ाने के लिए राज्य के सभी 1,535 पुलिस स्टेशन में महिला हेल्क डेस्क बनाई जाएंगी. योगी सरकार ने पुलिस बल में महिलाओं की भागीदारी बढाने के लिए लखनऊ, गोरखपुर और बदांयू में पीएएसी की तीन महिला बटालियन बनाने का फैसला लिया है. इससे साथ ही योगी सरकार ने मिशन शक्ति कार्यक्रम के तहत माइक्रो और स्मॉल स्केल इंडस्ट्री में महिलाओं के सशक्तिकरण और स्किल डेवलेपमेंट के लिए 20 करोड़ का प्रावधान भी किया है.

महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के लिए बनेगी खास फोर्स

योगी सरकार ने यूपी में महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के लिए यूपी स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स बनाने का फैसला किया है. इसके लिए बजट में 276 करोड़ रुपए दिए गए हैं.

युवाओं के लिए स्टार्टअप और इंक्यूबेटर्स की खास योजना

बजट में अगले पांच साल में 10 हजार स्टार्टअप और 100 इंक्यूबेटर्स स्थापित करने की योजना बनाई गई है. जिससे राज्य के युवाओ में इंट्रप्रेनरशिप और इवोवेशन का विकास होगा और ये रोजगार बढाने में भी कारगार साबित होंगे.

Tags:CM Yogi Adityanath, UP latest news