लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबबजट 2023क्रिकेटफूडमनोरंजनवेब स्टोरीजफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrency
होम / न्यूज / उत्तर प्रदेश /

MEERUT : ये हैं सरिता, पेशे से कॉन्स्टेबल और पैशन से एथलीट, क्या है इस गोल्ड मेडलिस्ट का सपना?

MEERUT : ये हैं सरिता, पेशे से कॉन्स्टेबल और पैशन से एथलीट, क्या है इस गोल्ड मेडलिस्ट का सपना?

पुलिस विभाग से पहले भी कई खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने राज्य या देश का नाम रोशन कर चुके हैं. यूपी के पुलिस विभाग में एक महिला एथलीट इन दिनों चर्चा में है, जिसने हाल में तीन स्पर्धाओं में गोल्ड जीता है. अब वह पिता के सपने को साकार कर देश का मान बढ़ाना चाहती है.

रिपोर्ट – विशाल भटनागर

मेरठ: कुछ करने का अगर हौसला हो तो कठिन से कठिन डगर में भी मुकाम हासिल किया जा सकता है. कुछ इसी तरह का उदाहरण पेश कर रही हैं मेरठ में तैनात पुलिस कांस्टेबल सरिता. जो ड्यूटी के साथ-साथ अपने सपने को संजोए हैं. दरअसल सरिता जब ट्रैक पर दौड़ती हैं तो अन्य सभी खिलाड़ी पीछे रह जाते हैं. उड़न परी का सपना है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में भारत का नाम रोशन करें. अमेठी में आयोजित 31वीं यूपी मास्टर एथलेटिक्स मीट में तीन स्वर्ण पदक जीतने पर पुलिस के आला अधिकारी भी सरिता को सम्मानित करेंगे.

बढ़ला कैथवाड़ा की रहने वाली सरिता शर्मा सहारनपुर में कॉन्स्टेबल के पद पर कार्यत हैं. वह एक बेहद साधारण परिवार से हैं. उनके पिता भी पुलिस में थे लेकिन वर्ष 2019 में वह गुजर गए. सरिता के पिता का सपना था कि उनकी बेटी ओलंपिक प्रतियोगिता में मेडल लाकर देश का नाम रोशन करे. उसी सपने को पूरा करने के लिए सरिता अपने फर्ज के साथ अपनी प्रैक्टिस में लगी हुई हैं. जनपद हो या स्टेट लेवल की विभिन्न प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन कर रही हैं.

आपके शहर से (मेरठ)

गंगापुत्र भीष्म जब भी होते थे परेशान, मेरठ के इस जगह करते थे मां का ध्यान; आज भी गवाही देते हैं निशान

हस्तिनापुर में शुरू हुआ बूढ़ी गंगा को जीवित करने का कार्य, प्रशासन को मिली अविरल धारा

विवाद सुलझाने पहुंची पुलिस पर ही हो गया लाठी-डंडों से हमला, भागकर बचाई जान, 26 के खिलाफ FIR

Crime in Meerut: एनकाउंटर के बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा कुख्यात गैंगस्टर अनिल, अब उसके गुर्गों की तलाश

आरोप: पश्चिमी उत्तर प्रदेश में देवबंद कर रहा है धर्मांतरण की बड़ी सजिश, दबाव में मेरठ के युवक ने किया सुसाइड

CCSU News : डिग्री अवधि पूरी करने से हो गया है अधिक समय, फिर भी मिलेगा चांस, जानें नियम

NCR Weather Update: अगले दो घंटे में तूफान के साथ बदलेगा NCR और यूपी का मौसम, तेज बारिश का अनुमान

फिल्मी सीन नहीं है रियल लाइफ, एक दिन की दुल्हन, शादी की अगली सुबह नहाने गई तो...

पत्नी से 40 मिनट हुई फोन पर बात फिर कर लिया सुसाइड, परिवार का आरोप - धर्मांतरण के दबाव की वजह से था डिप्रेशन में

Meerut: इस लाइब्रेरी में आपको मिल जाएगा 50 साल पुराना अखबार, देखने वालों की लगती है भीड़

मेडिकल कॉलेज के दीक्षांत समारोह में डॉक्टर बिटिया ने लगाई मेडल्स की झड़ी, जीते छह गोल्ड


पुलिस अधिकारियों का सहयोग

NEWS 18 LOCAL से बात करते हुए सरिता ने बताया पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी नियमों के अंतर्गत उनको खेलने के लिए भरपूर समर्थन कर रहे हैं. वहीं पुलिस कांस्टेबल सरिता अपने जज्बे और जुनून के दम पर अधिकारियों के विश्वास को मेडल में तब्दील कर रही हैं. गौरतलब है अमेठी में आयोजित स्टेट लेवल एथलीट प्रतियोगिता में भी 5 किलोमीटर, 3 किलोमीटर और 10 किलोमीटर में प्रथम स्थान हासिल कर चुकी हैं. अब वह ओलंपिक के लिए दिन-रात तैयारी कर रही हैं.

सरिता की इस सफलता में उनकी बड़ी बहन का भरपूर योगदान है. एथलीट सरिता ने बताया कि उनकी बड़ी बहन अंजना खुद भी कुश्ती की कोच हैं और इस समय अलवर में तैनात हैं. बहन ही उनकी प्रेरणा हैं. सुबह प्रैक्टिस के लिए वही फोन करके जगाती हैं और कहीं भी दुविधा होने पर विभिन्न टिप्स भी देती हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Meerut news, UP police

FIRST PUBLISHED : November 23, 2022, 15:33 IST
अधिक पढ़ें