होम / न्यूज / उत्तर प्रदेश /

नोएडा: दीवार गिरने से 4 मजदूरों की मौत मामले में प्राधिकरण के 5 अधिकारियों को पुलिस का नोटिस

नोएडा: दीवार गिरने से 4 मजदूरों की मौत मामले में प्राधिकरण के 5 अधिकारियों को पुलिस का नोटिस

Noida News: प्राधिकरण की पहले स्तर की जांच में, ठेकेदार दोषी प्राधिकरण ने ठेकेदार को दोषी बताया है. क्योंकि साइट पर काम के दौरान ठेकेदार ने मजदूरों को सुरक्षा उपकरण मुहैया नहीं कराए थे. साथ ही मजदूरों द्वारा दीवार गिरने की बात कहने पर भी मजूदरों पर दबाव बनाकर काम जारी रखवाया गया. वहीं प्राधिकरण के अवर अभियंता की गलती भी सामने आई है.

दीवार गिरने से 4 मजदूरों की मौत के मामले में पुलिस ने नोएडा प्राधिकरण के 5 अधिकारियों को नोटिस भेजा.

दीवार गिरने से 4 मजदूरों की मौत के मामले में पुलिस ने नोएडा प्राधिकरण के 5 अधिकारियों को नोटिस भेजा.

हाइलाइट्स

4 मजदूरों की मौत के मामले में पुलिस ने प्राधिकरण के 5 अधिकारियों को जारी किया नोटिस
प्राधिकरण की जांच में ठेकेदार को पाया गया दोषी
कंस्ट्रक्शन कंपनी का मालिक अनुज यादव अब भी फरार

नोएडा: नोएडा में दीवार गिरने से चार मजदूरों की मौत के मामले में नोएडा पुलिस ने प्राधिकरण के पांच अधिकारियों को सीआरपीसी 91 का नोटिस भेजा है. इस नोटिस के बाद पुलिस कभी भी इन पांचों अधिकारियों को पूछताछ के लिए बुला सकती है. इनमें प्राधिकरण के डीजीएम, मैनेजर, जेई और 2 सुपरवाइजर शामिल हैं. ये सभी प्राधिकरण के सर्किल-2 के हैं. अगर, अधिकारी नोटिस पर नहीं पहुंचते तो उन पर कार्रवाई का भी प्रावधान है.

दरअसल, जलवायु विहार सोसाइटी में नाली बनाने के दौरान पेरीफेरल दीवार गिर गई थी. इसके मलबे में दबकर चार मजदूरों की मौत हो गई थी. इस मामले की जांच नोएडा प्राधिकरण, पुलिस और जिला प्रशासन कर रहा है. हाल ही में पुलिस ने प्राधिकरण के डीजीएम श्री पाल भाटी को कोतवाली सेक्टर-20 बुलाया था. जिसका प्राधिकरण के अधिकारियों ने थाने में एकत्र होकर विरोध किया था.

पहले स्तर में ठेकेदार दोषी
प्राधिकरण की पहले स्तर की जांच में, ठेकेदार दोषी प्राधिकरण ने ठेकेदार को दोषी बताया है. क्योंकि साइट पर काम के दौरान ठेकेदार ने मजदूरों को सुरक्षा उपकरण मुहैया नहीं कराए थे. साथ ही मजदूरों द्वारा दीवार गिरने की बात कहने पर भी मजूदरों पर दबाव बनाकर काम जारी रखवाया गया. वहीं प्राधिकरण के अवर अभियंता की गलती भी सामने आई है.

आपके शहर से (नोएडा)

Noida News: जिला कारागार में AIDS ब्‍लास्‍ट, 26 कैदी मिले HIV संक्रमित

UP: खबरदार! यात्रियों के पास टिकट नहीं होने पर बस स्टॉफ पर गिरेगी गाज, नोएडा में कंडक्‍टर को नौकरी से निकाला

अनोखा है नोएडा का सरपंच बाग रेस्टोरेंट, खुद खाना बनाकर खाते हैं लोग, जानें पूरा कॉन्सेप्ट...

Noida: नोएडा के इस मार्केट से करें सस्‍ती शॉपिंग, आसानी से मिलेंगी मनचाही चीजें

Viral Letter : चौथी क्लास की काश्वी ने लिखी PM मोदी को चिठ्ठी, क्या है वायरल हो रही यह मासूम अपील?

Noida: नोएडा के 13 बच्चों ने बॉक्सिंग में दिखाया कमाल, सिल्वर और गोल्ड मेडल हुई बौछार

Greater Noida: अपने कुत्ते को घर से बाहर ले जाएं तो ध्यान रखें ये नियम, उल्लंघन किया तो सख्त एक्शन

MTV के रियलिटी शो हसल 2.0 में दिखा नोएडा के 'स्पेक्ट्रा' का जलवा, इस तरह रैपर बना शुभम

NEWS18 IMPACT: दादरी में क्यों बुरी तरह फैल रहा है कैंसर? 24 गांवों में मेडिकल टीम ऐसे लगाएगी पता

पॉश इलाके के बंगले से 1 करोड़ कैश-ज्वेलरी की चोरी, दिनदहाड़े 100 किलो की तिजोरी भी ले गए चोर

नोएडा : घर का सपना लिए हजारों निवेशकों के बिल्डर्स पर करोड़ों रुपए बकाया, प्राधिकरण ने 75 को थमाया नोटिस


2 आरोपी पहले ही गिरफ्तार
पूरे मामले को लेकर एसीईओ मानवेंद्र सिंह ने बताया कि जांच रिपोर्ट निर्धारित समय में पूरी कर सीईओ को सौंप दी जाएगी. वहीं थर्ड पार्टी से यदि कोई व्यू लेना होगा, तो लिया जाएगा. प्राधिकरण ने बताया कि जांच में देखा गया कि यहां पर मैन्यूवल काम होना चाहिए था या नहीं. कार्य के लिए जो मसौदा तैयार किया गया था, वह मैन्युअल वर्क के लिए था या फिर काम मशीनरी से किया जा सकता था. इस मामले में पुलिस ने ठेकेदार सुंदर यादव और गुल मोहम्मद को पहले ही गिरफ्तार कर लिया है. हालांकि अभी एमडी कंस्ट्रक्शन कंपनी का मालिक अनुज यादव फरार है. पुलिस की कई टीमें उसकी गिरफ्तारी का प्रयास कर रही हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Noida Authority, Noida news, Uttarpradesh news

FIRST PUBLISHED : September 29, 2022, 10:58 IST
अधिक पढ़ें