लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबबजट 2023क्रिकेटफूडमनोरंजनवेब स्टोरीजफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrency
होम / न्यूज / उत्तर प्रदेश /

वाराणसी के बाबा विश्वनाथ मंदिर के प्रसाद से महिलाओं की किस्मत चमकी, बनीं आत्मनिर्भर

वाराणसी के बाबा विश्वनाथ मंदिर के प्रसाद से महिलाओं की किस्मत चमकी, बनीं आत्मनिर्भर

महिला समूह की अध्यक्ष सुनीता जायसवाल ने बताया कि अब हर दिन लगभग दो से तीन क्विंटल प्रसाद की खपत हो रही है. इसे हम 24 महिलाएं मिल कर पूरे दिन तैयार करती हैं. प्रसाद की डिमांड बढ़ने के कारण अब इन महिलाओं के आय में भी वृद्धि हुई है. बता दें कि, इससे अब यह महिलाएं प्रतिदिन 500 से 800 रुपये कमा रही हैं

  • News18Hindi 
  • Last Updated :

अभिषेक जायसवाल

वाराणसी. धार्मिक नगरी वाराणसी के बाबा विश्वनाथ मंदिर के प्रसाद में चमत्कार है… यह बात आपने भी जरूर सुनी होंगी. लेकिन न्यूज़ 18 लोकल आज उस चमत्कार की कहानी बताने जा रहा है जिसके कारण एक दो नहीं बल्कि 24 महिलाओं की किस्मत चमक गई. बनारस की यह 24 महिलाएं आज बाबा विश्वनाथ के इस प्रसाद के कारण न सिर्फ आत्मनिर्भर बनी हैं बल्कि अच्छी खासी कमाई कर अपना परिवार भी चला रही हैं.

दरअसल, तीन साल पहले विश्वनाथ धाम के बाहर बाबा के नाम पर बिकने वाले प्रसाद की शुद्धता और क्वालिटी को लेकर मंदिर प्रशासन तक कई बार शिकायतें आती थीं. जिसके बाद श्री काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास की तरफ से बाबा के महाप्रसाद को शुद्धता के साथ तैयार करने की जिम्मेदारी ग्रामीण महिलाओं के एक समूह को दी गई. जिस वक्त यह शुरुआत हुई, उस समय प्रसाद की खपत महज कुछ किलो थी, लेकिन अब बाबा विश्वनाथ के नए भव्य धाम के बाद भक्तों की संख्या बढ़ने से इसकी मांग में काफी बढ़ोतरी हुई है. इसके कारण इस प्रसाद को तैयार करने वाली 24 महिलाएं अब कर्मचारी से व्यापारी बन गई हैं.

आपके शहर से (वाराणसी)

Varanasi News: ब्लाइंड स्टूडेंट्स से BHU के सुरक्षाकर्मियों ने की बदसलूकी, देखिए वीडियो

Gold-Silver Price in Varanasi: सोना धड़ाम, चांदी भी टूटी, फटाफट चेक करें लैटेस्ट कीमत

Varanasi News: 5 साल के मासूम का पहले हुआ अपहरण फिर गला दबाकर की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

Varansi News: धोती कुर्ता में खिलाड़ी, संस्कृत में कमेंट्री; काशी में हुआ अनोखा क्रिकेट मैच

Varanasi News: BHU में मनचलों को लड़कियां पढ़ाएंगी शराफत का पाठ, कहा- विवि और पुलिस के बूते की बात नहीं

Varanasi Crime News: यूपी में पिटाई का खौफनाक बदला, साढ़े चार साल के बच्चे की ले ली जान, जानें मामला

Good news: संत रविदास की जन्मस्थली पर बनेगा 24 करोड़ का म्यूजियम, 15वीं शताब्दी का होगा एहसास

Varanasi: पुलिस के खिलाफ BHU में छात्रों का धरना जारी, बंद किया 'सिंह' द्वार, जानें पूरा मामला

इस माह वंदेभारत ट्रेनों की संख्‍या हो जाएगी 10, जानें इस सभी ट्रेनों के रूट

BHU में ब्लाइंड स्टूडेंट्स से छेड़खानी के आरोपी को मिली जमानत, धरने पर बैठी छात्राएं, जानें मामला

Gold Price in Varanasi Today: वेडिंग सीजन के बीच फिर ठहरा सोना-चांदी, जानिए लेटेस्ट कीमत


हर रोज 2 क्विंटल से ज्यादा प्रसाद की खपत
महिला समूह की अध्यक्ष सुनीता जायसवाल ने बताया कि अब हर दिन लगभग दो से तीन क्विंटल प्रसाद की खपत हो रही है. इसे हम 24 महिलाएं मिल कर पूरे दिन तैयार करती हैं. प्रसाद की डिमांड बढ़ने के कारण अब इन महिलाओं के आय में भी वृद्धि हुई है. बता दें कि, इससे यह महिलाएं अब प्रतिदिन 500 से 800 रुपये कमा रही हैं. सोनी देवी ने बताया कि बाबा के इस महाप्रसाद ने उनकी किस्मत बदल दी है.

इन चीजों से तैयार होता है प्रसाद
बाबा विश्वनाथ मंदिर के इस महाप्रसाद को आटा, देशी घी, बादाम के मिश्रण से बनाया जाता है. इसे बनाने में महिलाएं शुद्धता का पूरा ख्याल रखती हैं. बाबा के प्रसाद के लिए मंदिर में जगह-जगह काउंटर बनाए गए हैं जिससे श्रद्धालु बाबा का प्रसाद खरीदते हैं.

बता दें कि, बाबा के प्रसाद की कीमत 500 रुपये प्रति किलो है. इसकी कमाई का 20 प्रतिशत हिस्सा विश्वनाथ धाम प्रशासन इन महिलाओं से लेता है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Banaras news, Kashi Vishwanath Temple, Up news in hindi, Varanasi news

FIRST PUBLISHED : November 24, 2022, 14:56 IST
अधिक पढ़ें