Home / News / uttarakhand /

wasim rizvi alias jitendra narayan will now take retirement expressed desire to propagate sanatan dharma

वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र त्यागी अब लेंगे संन्यास, सनातन धर्म के प्रचार-प्रसार की जताई इच्छा

जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिज़वी को सुप्रीम कोर्ट ने तीन महीने की सशर्त ज़मानत दी है.

जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिज़वी को सुप्रीम कोर्ट ने तीन महीने की सशर्त ज़मानत दी है.

हरिद्वार की धर्मसंसद में भड़काऊ भाषण देने के मामले में जमानत मिलने के बाद वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी मंगलवार को हरिद्वार पहुंचे थे. यहां उन्होंने निरंजनी अखाड़े के महंत रवींद्र पुरी से मुलाकात की और संन्यास लेने की इच्छा जताई.

हरिद्वार. उत्तर प्रदेश के शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन और मुस्लमान से हिंदू बने वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी अब संन्यास ले सकते हैं. दरअसल हरिद्वार की धर्मसंसद में भड़काऊ भाषण देने के मामले में जमानत मिलने के बाद त्यागी उर्फ रिजवी मंगलवार को हरिद्वार पहुंचे थे. यहां उन्होंने निरंजनी अखाड़े के महंत रवींद्र पुरी से मुलाकात की और संन्यास लेने की इच्छा जताई.

रवींद्र पुरी ने इस मुलाकात की जानकारी देते हुए कहा, ‘जितेंद्र त्यागी अब संन्यास लेकर सनातन धर्म का प्रचार-प्रसार करना चाहते हैं. अखाड़े के पदाधिकारी और संत समाज से चर्चा के बाद उनको संन्यास दिलाने के बारे में निर्णय लिया जाएगा.’

ये भी पढ़ें- यूपी में आज इन जगहों पर हो सकती है बारिश, 10 जिलों में यलो अलर्ट जारी

आपके शहर से (लखनऊ)

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का शुभारंभ करने जालौन आएंगे पीएम मोदी और सीएम योगी, अधिकारियों ने भगवामय किया माहौल

UP: हिंदू नेता कमलेश तिवारी की पत्नी को मिली सुरक्षा, जान से मारने की मिली थी धमकी

UPSSSC PET 2022: यूपी में किन-किन पदों के लिए अनिवार्य है यूपीएसएसएससी पीईटी परीक्षा ? जानें यहां

सोनेलाल की जयंती पर दो बहनों में खींचतान, लखनऊ पुलिस की हिरासत में MLA पल्लवी पटेल समेत कई नेता

UP: योगी सरकार ने किया 21 IPS अफसरों के तबादले, बदले गए प्रयागराज के पुलिस कप्तान

UPSESSB TGT PGT Sarkari Naukri 2022: यूपी में सरकारी शिक्षक बनने का सुनहरा मौका, आवेदन करने की कल आखिरी डेट

अखिलेश यादव ने किया डॉ. कफील की किताब का विमोचन, पढ़ें- 'गोरखपुर अस्पताल त्रासदी'

समाजवादी पार्टी में बड़े बदलाव की तैयारी में अखिलेश, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सहित सभी संगठन और प्रकोष्ठ किए भंग

UP में चुने गए 133 असिस्टेंट प्रोफेसर ने नहीं किया ये काम तो निरस्त होगा चयन

Lucknow: आखिर क्यों भूल भुलैया की ऐतिहासिक गैलरी हो गई खामोश? 3 साल से रहस्यमयी आवाज बनी सपना

बीजेपी सांसद निरहुआ ने सपा को बताया 'समाप्तवादी पार्टी', कहा- मुगलों की नीति पर चल रहे हैं अखिलेश


शांभवी पीठाधीश्वर और शंकराचार्य परिषद के अध्यक्ष ने कहा, ‘वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र त्यागी हिंदू बन गए हैं और अब संन्यास लेना चाहते हैं. जेल से बाहर आने के बाद उन्होंने फिर से अपनी इच्छा जाहिर की है कि वह संन्यास लेना चाहते हैं. इसके लिए अखाड़ा परिषद व अखिल भारतीय विद्वत परिषद से सलाह लेनी पड़ेगी कि वह क्या परंपरा होगी जिसके तहत संन्यास दिलवाया जाएगा.’


ये भी पढ़ें- भाई बनकर ससुराल पहुंच गया प्रेमी, फिर पति ने देख लिया कुछ ऐसा कि पहुंच गया थाने

गौरतलब है कि जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी को हरिद्वार में आयोजित धर्म संसद में भड़काऊ भाषण देने के मामले में 13 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें 17 मई को 3 महीने की सशर्त अंतरिम जमानत मंजूर की थी. सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में शर्त रखी कि वे इस जमानत अवधि के दौरान कोई भड़काऊ भाषण नहीं देंगे. इसके बाद कुछ दिन पहले ही वह जिला कारागार से रिहा होकर बाहर आए हैं.

Tags:Haridwar news, Wasim Rizvi