ये है Twitter killer - अजीब ट्वीट से कर डाले 9 कत्ल, पुलिस भी रह गई हैरान

ट्विटर पर खुद को खुदकुशी में मदद करने का एक्सपर्ट बताकर यह 27 वर्षीय सीरियल किलर शिकार को फंसाता था और अपने फ्लैट पर बुलाकर हत्या कर देता था. जापान के टोक्यो स्थित इस फ्लैट यानी हॉरर हाउस पर जब दबिश दी गई तो पुलिस भी कांप गई.

Bhavesh Saxena , News18Hindi
'मैं सब कुछ भूल जाना चाहता हूं. मैं गायब हो जाना चाहता हूं.' शिराइशी ने अगस्त 2017 में अपने ट्विटर पर लिखा था. अस्ल में उसका मतलब खुदकुशी करने से था. उसका यह पोस्ट पढ़ने के बाद एक शख्स ने उससे कॉंटैक्ट किया जो खुद भी आत्महत्या करना चाहता था. शिराइशी ने उसे अपने फ्लैट पर आने को कहा. जापान की राजधानी टोक्यो के ज़ामा स्थित इस छोटे से फ्लैट पर जब वह शख्स पहुंचा तो शिराइशी ने उसका खून कर दिया.
फिर सितंबर में शिराइशी ने ट्विटर पर लिखा - 'अगर कोई ज़िंदगी के ऐसे मोड़ पर पहुंच गया है और आगे रास्ता नहीं है तो खुदकुशी करने में मैं आपकी मदद कर सकता हूं.' शिराइशी ने खुद को सुसाइड एक्सपर्ट बताया और सितंबर में चार ऐसे लोग मिले जो खुदकुशी करना चाहते थे. एक एक कर चारों को उसने अपने फ्लैट पर बुलाया और बेदर्दी से कत्ल कर दिया. इसी तरह अगले महीने अक्टूबर में भी उसने चार और शिकार किए.
उसके ट्विटर अकाउंट पर इस तरह के मैसेज पढ़ने के बाद जब खुदकुशी करने के इच्छुक शिराइशी से संपर्क करते थे तो वह उनसे कहता था कि 'मुझे भी खुदकुशी करना है, चलो साथ मरते हैं.' नौ कत्ल कर चुका शिराइशी कत्ल को लेकर एक फैंटेसी की दुनिया रखता था. पहले सेक्स वर्कर के तौर पर काम कर चुके इस कातिल ने हर लाश को छोटे छोटे टुकड़ों में काटा और अपने छोटे से फ्लैट में इन टुकड़ों को आठ बक्सों में बंद करके रखा था.
शिराइशी की इस करतूत का शायद कभी पता नहीं चलता अगर उसके हाथों मारी गई 23 साल की एक लड़की के भाई ने अपनी बहन के ट्विटर अकाउंट को हैक नहीं किया होता. इस लड़के ने अपनी बहन का ट्विटर अकाउंट हैक किया तो शिराइशी के साथ हुई चैट के बारे में पता चला और उसने पुलिस को खबर दी. पुलिस को पता चला कि शिराइशी के दो ट्विटर अकाउंट थे जिनमें से एक वह 'हैंगिंग प्रो' के नाम से यूज़ करता था. इन डिटेल्स के आधार पर शिराइशी के फ्लैट पर पुलिस पहुंची तो सन्न रह गई.
फ्लैट में एक अजीब गंध थी जिससे चक्कर आने लगते थे. इस फ्लैट में बहुत सी डरावनी चीज़ें थीं और किसी तरह जब फ्लैट की तलाशी ली गई तो लाशों की हड्डियों के 240 टुकड़े अलग अलग बक्सों में रखे हुए पाए गए. इस मकान को हॉरर हाउस कहा जाने लगा जहां 15 से 23 साल की उम्र की 8 लड़कियों और एक लड़के की लाशों के टुकड़े बरामद हुए थे. अब कातिल शिराइशी को लेकर कई तरह के सवाल उठे. उसे 'ट्विटर किलर' और 'सोशल मीडिया किलर' कहा जाने लगा.
अगले पांच महीनों तक सीरियल किलर ताकाहीरो शिराइशी की मनोवैज्ञानिक जांच चलती रही और साइकायट्रिस्ट की रिपोर्ट में कहा गया कि उसने ये कत्ल किसी बीमारी के चलते नहीं बल्कि पूरे होश में किए हैं और उस पर कानूनी मुकदमा चलाया जा सकता है. इस रिपोर्ट के आने के बाद हाल में शिराइशी के खिलाफ चार्जशीट पेश की गई है. आॅर्गेनाइज़ेशन फॉर इकोनॉमिक कॉपरेशन एंड डेवलपमेंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया में खुदकुशी के मामले में जापान सबसे आगे है.

Trending Now