Home » Photo
News18 हिंदी | January 29, 2022, 10:26 IST

Jaun Eliya Shayari: 'मैं भी बहुत अजीब हूं...' पढ़ें, मशहूर शायर जौन एलिया की क्लासिक शायरी

जौन एलिया शायरी (Jaun Eliya Shayari): जौन एलिया (Jaun Eliya) का जन्म 14 दिसंबर 1931 को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अमरोहा में हुआ था. उनका मूल नाम सय्यद हुसैन जौन असग़र था. पढ़ें, उनके मशहूर शेर (Sher)

1/ 6

जो गुज़ारी न जा सकी हम से हम ने वो ज़िंदगी गुज़ारी है

2/ 6

मैं भी बहुत अजीब हूँ इतना अजीब हूँ कि बस ख़ुद को तबाह कर लिया और मलाल भी नहीं

3/ 6

बहुत नज़दीक आती जा रही हो बिछड़ने का इरादा कर लिया क्या

4/ 6

हमला है चार सू दर-ओ-दीवार-ए-शहर का सब जंगलों को शहर के अंदर समेट लो

5/ 6

मेरी बाँहों में बहकने की सज़ा भी सुन ले अब बहुत देर में आज़ाद करूँगा तुझ को

6/ 6

कैसे कहें कि तुझ को भी हम से है वास्ता कोई तू ने तो हम से आज तक कोई गिला नहीं किया (साभार-रेख़्ता)