भाषा चुनें :

हिंदी

VIDEO: हिमाचल में निजी बस ऑपरेटरों की हड़ताल से दो करोड़ का नुकसान

हिमाचल प्रदेश में निजी बस ऑपरेटर यूनियन की हड़ताल दो दिन चली. इन दो दिनों में बस ऑपरेटरों को करीब दो करोड़ के करीब नुकसान होने का आकलन लगाया गया है. दोनों दिन करीब 4000 निजी बसों के पहिए थमे रहे. इस अवसर पर यूनियन के राज्य कार्यकारिणी के सदस्यों और पदाधिकारियों ने बीते मंगलवार के दिन शाम के समय लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह सुंदरनगर परिसर में एकत्रित हुए और अपनी मांगों को लेकर जोरदार नारेबाजी की.

News18Hindi |

Your browser doesn't support HTML5 video.

हिमाचल प्रदेश में निजी बस ऑपरेटर यूनियन की हड़ताल दो दिन चली. इन दो दिनों में बस ऑपरेटरों को करीब दो करोड़ के करीब नुकसान होने का आकलन लगाया गया है. दोनों दिन करीब 4000 निजी बसों के पहिए थमे रहे. इस अवसर पर यूनियन के राज्य कार्यकारिणी के सदस्यों और पदाधिकारियों ने बीते मंगलवार के दिन शाम के समय लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह सुंदरनगर परिसर में एकत्रित हुए और अपनी मांगों को लेकर जोरदार नारेबाजी की. बस ऑपरेटर यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राजेश पराशर का कहना है कि अगर प्रदेश सरकार निजी बस ऑपरेटरों की मांगों को अनसुना करती है, तो निजी बस ऑपरेटरों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का मन बना लिया है और अगर कोई भी अनहोनी निजी बस ऑपरेटरों के साथ घटित होती है, तो इसके लिए प्रदेश सरकार जिम्मेदार होगी.