विज्ञापन

Your browser doesn't support HTML5 video.

VIDEO: नाबालिग से दुष्कर्म के बाद दबंगों के खौफ़ में परिजन, पुलिस मौन

सरकार और पुलिस महिला सुरक्षा को लेकर दावे करती है, लेकिन दावे उस समय फेल हो जाते हैं, जब एक नाबालिग से दुष्कर्म होता है और कार्रवाई के नाम पर रिजल्ट शून्य निकलता है. सीकर जिले के दांता रामगढ़ इलाके के करड़ गांव में एक नाबालिग छात्रा के साथ गांव के ही युवकों ने दुष्कर्म किया और अब परिजनों को जान से मारने की धमकी दी जा रही है. छात्रा और उसके परिजन बदमाशों के खौफ के साये में जीने के लिए मजबूर है. मामले की जानकारी मिलने के बाद परिजनों ने दांतारामगढ़ थाने में नामजद रिपोर्ट करवाई, लेकिन पुलिस ने दो दिन बाद मुकदमा दर्ज किया. इसके बाद परिजनों को मिल रही धमकियों के बारे में भी पुलिस को बताया गया, लेकिन फिर भी पुलिस मौन है. मामले में पुलिस ने अभी तक पीड़िता के 164 के तहत बयान भी नहीं करवाए और ना ही आरोपियों को गिरफ्तार किया. पीड़िता का भाई मामले को लेकर एसपी और महिला आयोग तक में भी पत्र लिखकर शिकायत दर्ज करवा चुका है, लेकिन इसके बावजूद कार्रवाई के नाम पर कुछ नहीं हुआ. पुलिस से सहयोग नहीं मिलने से परेशान पीड़िता के परिजन जगह-जगह गुहार लगा रहे हैं, लेकिन न्याय नहीं मिल रहा है.