होम »

ब्लॉग

हाथरस केस को लेकर अब नया विवाद, दलित शब्द के इस्तेमाल पर छिड़ी बहस

October 09, 2020, 07:00 PM IST

नई दिल्ली. हाथरस मामले (Hathras Case) को लेकर अब एक नया विवाद छिड़ गया है. पीड़ित परिवार वंचित समाज से आता है. टीवी पर इसे लेकर चल रही बहस में जिसने भी 'दलित' शब्द का इस्तेमाल किया, उसे बीजेपी (BJP) अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय प्रशिक्षण प्रभारी रह चुके शांत प्रकाश जाटव ... और भी पढ़ें

जोखिम लेकर अपने बच्चे स्कूल भेजने को तैयार नहीं अभिभावक

October 09, 2020, 12:03 PM IST

केन्द्र सरकार ने 15 अक्टूबर से देश से स्कूल खोलने के लिए गाइडलाइंस (Guideline) को हरी झंडी तो दे दी है, लेकिन बच्चों में कोरोना संक्रमण (Corona infection) फैलने की स्थिति में खुद नतीजों की जिम्मेदारी लेने से बचते हुए इसका फैसला करने का अधिकार राज्य सरकारों पर छोड़ दिया ... और भी पढ़ें

OPINION: TRP गेम के बाद सबसे बड़ा सवाल, रिया चक्रवर्ती का गुनहगार कौन?

October 08, 2020, 08:29 PM IST

वो जादूगरनी है, वो क़ातिल है, वो ड्रग माफिया का हिस्सा है. उसने एक मासूम और टैलेंटेड अभिनेता को अपने प्रेम के जाल में फंसाया और फिर हत्या कर दी. वो तो काला जादू करना जानती है, वो सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के पैसों पर ऐश करती थी, ... और भी पढ़ें

अमेरिकी चुनाव में क्यों हो रही है डोनाल्ड ट्रंप के झूठ पर बहस

October 08, 2020, 02:32 PM IST

अमरीकी राष्ट्रपति के चुनाव में राष्ट्रपति के डिबेट का बड़ा महत्व होता है. उपराष्ट्रपति पद के डिबेट का उतना महत्व नहीं माना जाता लेकिन इस बार पूरे देश का ध्यान उपराष्ट्रपति के डिबेट पर भी था. शायद इसका कारण यह है कि राष्ट्रपति के पद के दोनों ही उम्मीदवारों की ... और भी पढ़ें

चुनावी मैथमैटिक्स में हर बार उलझ जाती है बिहारी वोटरों की पॉलिटिक्स!

October 08, 2020, 12:37 PM IST

पिछली शाम सब्जी खरीदने गया था तो हमारी बिल्डिंग के सब्जी वाले के पास मजमा लगा था. सब्जी वाला 60 रुपये किलो परवल तोलते हुए बता रहा था कि चुनौवा में तो अबले मजा आया है. चिराग पासमान नीतीश बाबू का लंका लगा दिया है. बताइये, ई पलटू बाबा कभी ... और भी पढ़ें

जो होगा असली गंगापुत्र, उसे ही दिखेगी सूंस

October 08, 2020, 11:22 AM IST

एक राजा को सबसे अलग दिखने की बड़ी भूख थी. अपनी भूख मिटाने के लिए वो कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहता था. एक दिन दरबार में एक कारीगर आया. उसने दावा किया कि उसे ऐसे कपड़े सिलने आते हैं, जो सिर्फ देवी-देवता ही पहनते हैं. कपड़े चूंकि देवताओं ... और भी पढ़ें

OPINION: आखिर शासकों की पुलिस कब बनेगी जनता की पुलिस

October 08, 2020, 12:27 AM IST

हाथरस की घटना पर छिड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय बहस के बीच पुलिस सुधार का सवाल फिर अहम हो गया है. यह सवाल सिर्फ इसलिए नहीं प्रासंगिक है, क्योंकि पिछले दिनों देश भर के 90 से ज्यादा रिटायर आईएएस, आईपीएस और आईएफएस अधिकारियों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर ... और भी पढ़ें

OPINION: सीबीआई, एम्स जैसी संस्‍थाओं को संदिग्‍ध बनाकर हम क्‍या हासिल कर रहे?

October 07, 2020, 11:01 PM IST

इन दिनों हमारे आसपास जो कुछ हो रहा हैं उसमें सिर्फ प्रत्‍यक्ष तौर पर दिखने वाली घटनाएं ही नहीं हैं. इन घटनाओं के पीछे या इनके कारण भी, बहुत कुछ ऐसा हो रहा है जो इनके असर से भी ज्‍यादा गंभीर और ज्‍यादा गहरा घाव करने वाला है. आज भले ... और भी पढ़ें

चुनाव के रोचक किस्सेः कहीं जनता तय करती है सरकार तो कहीं MLA नहीं होता रिपीट

October 07, 2020, 05:19 PM IST

मध्‍य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों के चुनाव किसी छोटे राज्यों के आम चुनाव से कम नहीं हैं. यूं भी इतनी तादात में विधानसभा सीटों का उपचुनाव इतिहास में पहली बार होने जा रहा है. 22 विधायकों के साथ पाला बदल कर भाजपा में जाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया के कारण ... और भी पढ़ें

शिवाजी और सयाजी से ली है मोदी ने ‘सुशासन की प्रेरणा!

October 07, 2020, 01:22 PM IST

सात अक्टूबर 2001, यही वो दिन था जब नरेंद्र मोदी ने पहली  बार प्रशासन के क्षेत्र में प्रवेश किया था. उससे पहले नरेंद्र मोदी का कैरियर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक के तौर पर रहा था, जिसकी औपचारिक शुरुआत 1971 में हुई थी. पूरे तीन दशक तक संघ के प्रचारक ... और भी पढ़ें

धरती पर उतरेगा सूरज!

October 07, 2020, 01:15 PM IST

मानव विकास के लिए ज्यादा से ज्यादा ऊर्जा की जरूरत होती है. बिजली (Electricity) पर हमारी बढ़ती निर्भरता के कारण भविष्य में ऊर्जा की खपत और भी बढ़ेगी. मगर इतनी ऊर्जा आएगी कहां से? यह तो हम सब जानते हैं कि धरती पर कोयले और पेट्रोलियम के भंडार सीमित हैं. ... और भी पढ़ें

रंगीले राजस्थान की रंगभूमि पर एक ख्याल गाथा

October 05, 2020, 05:01 PM IST

नगाड़ा, खंजरी या खड़ताल को लय-ताल पर अपने आराध्य देवता की मनुहार भरा स्वर उभरता है. प्रार्थना के पवित्र भाव लोक कल्याण की कामना लिए मंच और दर्शकों (Stage and audience) की आत्मा में घुल जाते हैं और खेल शुरू हो जाता है. राग-रागिनियों में बंधी रस भरी बंदिशों में ... और भी पढ़ें

सरकारी स्कूल में थे इकलौते शिक्षक, एक तरकीब से मुसीबत को ताकत में बदल दिया

October 05, 2020, 01:19 PM IST

अगर किसी प्राथमिक स्कूल में पहली से पांचवीं तक के सभी बच्चों के लिए सिर्फ एक शिक्षक हो तो बच्चों को अच्छी तरह से पढ़ाना उस शिक्षक के लिए बड़ी मुसीबत की वजह बन सकता है. लेकिन, ऐसी स्थिति में भी एक शिक्षक ने इस मुसीबत को अपनी ताकत में ... और भी पढ़ें

उपनिवेशवाद ने भारत को गरीब ही नहीं, सांप्रदायिक भी बनाया है!

October 05, 2020, 09:49 AM IST

200 साल उपनिवेश यानी गुलाम बने रहने के दौरान जो गलतियां हुईं और ब्रिटिश सत्ता ने जो षड्यंत्र रचे, हमें उनसे मुक्त होने की पहल करनी चाहिए थी. इसके उलट हम उन्हें और प्रभावी बनाते गए. मसलन सांप्रदायिकता की फसल. ब्रिटिश उपनिवेशवाद ने भारत को जो सबसे गहरा घाव दिया ... और भी पढ़ें

यह सिलेक्टिव संवेदनाओं का दौर है...

October 04, 2020, 09:11 PM IST

हम सोचते हैं कि ‘अमुक घटना अब तक की सबसे बुरी घटना (Worst Incident) है, पर उसके बाद उससे भी ज्यादा वीभत्स कहानी (More gruesome story) हमारे सामने आकर खड़ी हो जाती है. घटनाएं अब केवल हिंसा (Violence) के रूप में नहीं वह क्रूर और बर्बर हो चुकी है. यह ... और भी पढ़ें

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज