अपना शहर चुनें

  • No filtered items

राज्य

होम »

ब्लॉग

भारत की खोज: गांधी का गंगौर और बदलता बिहार

June 13, 2022, 10:40 AM IST

जिस सुबह की ख़ातिर जुग जुग से हम सब मर मर के जीते हैं जिस सुबह के अमृत की धुन में हम ज़हर के प्याले पीते हैं इन भूखी प्यासी रूहों पर इक दिन तो करम फ़रमाएगी वो सुबह कभी तो आएगी -साहिर लुधियानवी  एनएसओ के आंकड़े जो भी कहें, एक्टिविस्ट कितना भी ... और भी पढ़ें

क्या ऋषभ पंत वाकई में भविष्य में कप्तानी के विकल्प हैं?

June 12, 2022, 03:45 PM IST

एक पुरानी कहावत है कि भाग्य उसी की मदद करता है जो खुद अपनी मदद करता है और क्रिकेट में अक्सर ऐसा देखा जाता है कि सिर्फ आपका भाग्य ही नहीं बल्कि कई मौकों पर आपके साथी खिलाड़ियों का दुर्भाग्य भी अंजाने में ही सही आपके लिए बड़ा मददगार साबित ... और भी पढ़ें

जातीय जनगणना और जनसंख्या कानून के दोराहे पर बिहार और सरकार

June 11, 2022, 10:35 AM IST

चुनाव आयोग की घोषणा के अनुसार देश के अगले राष्ट्रपति का चुनाव 18 जुलाई को होगा. इन चुनावों में विधायक और सांसदों के वोटों की वैल्यू सन 1971 की जनगणना के अनुसार निर्धारित होगी. योजनाओं के लाभ, रोजगार और चुनावों में आरक्षण आदि के नाम पर बिहार में जातीय जनगणना ... और भी पढ़ें

बुलडोजर तेरे कितने रंग, किसी को लगता हितैषी तो कोई समझता दुश्मन

June 11, 2022, 10:31 AM IST

बुलडोजर अहसास है शक्ति का. बलशालियों के बल कम करने का. बुलडोजर देखकर ताकतवर भी खुद को असहाय महसूस करने लगते हैं. वर्तमान में तो हर किसी की बातों में इसका जिक्र होना आम हो गया है. जहां भी इसके दर्शन होते हैं लोगों के झुण्ड दिखाई देने लगते हैं. ... और भी पढ़ें

बावरा मन: केके से वो छोटी सी गुज़ारिश...

June 11, 2022, 09:56 AM IST

रेडियो पर आरजे वाले कॅरियर ने मेरे फिल्मी ज्ञान चक्षु खोलने में बहुत मदद की थी. एक तो रोज़ाना के फिल्मी शोज़ के कारण नई नई फिल्मी जानकारी पढ़ने को होती थी. ढूंढनी पड़ती थी और दूसरा आए दिन फिल्मी हस्तियों को देखने, जानने का मौका मिला करता था. दोनों ... और भी पढ़ें

मध्य प्रदेश: शिवराज की अपील का असर, समरस हो रही पंचायतें

June 10, 2022, 10:05 PM IST

त्रिस्तरीय पंचायतों के चुनाव दलीय आधार पर होते तो शायद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान निर्विरोध निर्वाचन के लिए पंचायतों को कोई पुरस्कार घोषित ही नहीं करते. जो भी चुनाव दलीय आधार पर होते हैं,उनमें भाजपा की रणनीति अपने वोट बैंक को बढ़ाने की रहती है. त्रिस्तरीय पंचायतों के चुनाव में ... और भी पढ़ें

World Oceans Day: अभी तो धरती की फिक्र नहीं, समंदर की कब सोचेंगे?

June 08, 2022, 09:06 PM IST

क्या करे समुद्र क्या करे इतने सारे नमक का कितनी नदियाँ आईं और कहाँ खो गईं क्या पता कितनी भाप बनाकर उड़ा दीं इसका भी कोई हिसाब उसके पास नहीं फिर भी संसार की सारी नदियाँ धरती का सारा नमक लिए उसी की तरफ़ दौड़ी चली आ रही हैं ... कवि नरेश सक्‍सेना की कविता की इन पंक्तियों में ... और भी पढ़ें

लोकल से जुड़कर कैसे ग्लोबल हुआ हबीब तनवीर का 'नया थिएटर'

June 08, 2022, 09:01 PM IST

वो आठ जून की मनहूस सुबह थी. भोपाल नेशनल हॉस्पिटिल में हबीब तनवीर की सांसों का कारवाँ थम गया था. जीवन के रंगमंच को एक मकबूल कि़रदार ने अलविदा कहा और इस दुनिया-ए-फ़ानी में अपने नक़्शे क़दम छोड़ते हुए उसका जिस्म सुपूर्दे ख़ाक कर दिया गया. हबीब तनवीर यानी हिन्दी ... और भी पढ़ें

अभिव्‍यक्ति की आजादी की जरूरी शर्त है 'तोल-मोल के बोलना'

June 08, 2022, 08:58 PM IST

हिन्‍दी में एक प्रचलित मुहावरा है- तोल-मोल के बोलना, यानी कोई भी बात कहने या बताने से पहले उसका आगा-पीछा सोचना, उसके कारण होने वाले परिणामों को जानना, समझना. लेकिन ऐसा लगता है कि इन दिनों यह मुहावरा अपनी अहमियत पूरी तरह से खोता जा रहा है. अब लोग तोल-मोल ... और भी पढ़ें

Uttarakhand Bus Accident: इन्ही संवेदनाओं के कारण आप मामा हैं शिवराज जी

June 06, 2022, 12:54 PM IST

एमपी के पन्ना जिले के तीर्थयात्रियों की उत्तराखंड में बस पलटने से हुए निधन के मसले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जो तत्परता दिखाई है, वो सराहनीय है. ये ठीक है कि किसी भी राज्य में हों, हादसे रोके नहीं जा सकते क्यूंकि इनके होने और नहीं होने के ... और भी पढ़ें

भारत की खोज: गांधी का गंगौर और मैला आंचल

June 06, 2022, 09:02 AM IST

भारत माता, ग्रामवासिनी.  खेतों में फैला है श्यामल धूल भरा मैला सा आँचल … - सुमित्रानंदन पंत सुराज आने के बाद सुनने में आया कि अगर सोशलिस्ट पाटी वालों का राज आएगा तो लोगों को जमीन के साथ-साथ एक कारी गाय भी मिलेगी. दूध दूहो और चैन से रहो:जो जोतेगा सो बोयेगा, ... और भी पढ़ें

World Environment Day 2022: वह जिससे उम्‍मीद ने पाया है हरा रंग

June 05, 2022, 04:43 PM IST

आग का गोला बने सूरज की तपिश से सड़क का तारकोल पिघल चुका है... आप नंगे पैर भागे जा रहे हैं... कदम सड़क पर टिकते ही नहीं, इतनी तपिश... कोसों दूर तक तिनके के छांह तक नसीब नहीं...हलक सूख रहा है, इतना कि प्राण अब गए, तब गए समझो… काश! ... और भी पढ़ें

क्या वेटर तक पंहुच रही है सर्विस चार्ज की रकम?

June 05, 2022, 04:29 PM IST

सरकारी विभागों में सुविधा शुल्क के नाम पर अफसरों की वसूली भ्रष्टाचार और अपराध है. उसी तरीके से संगठित क्षेत्र के लाखों रेस्टोरेंट द्वारा सर्विस टैक्स की आड़ में की जा रही सर्विस चार्ज की वसूली गलत और गैर-कानूनी है. केंद्र सरकार के अनुसार मनमाने तरीके से सर्विस चार्ज या ... और भी पढ़ें

बावरा मन: The Nautch Girl और इश्‍क सूफियाना

June 04, 2022, 01:11 PM IST

हसन शाह और खानम जान ने एक रात दुनिया से छुप कर चार अनजान गवाहों के सामने शादी कर ली थी. इस तरह रुक्कों पर शेरो शायरी के आदान प्रदान से शुरू हुआ उनका ये छुपा हुआ प्रेम अब छुपे हुए इकरारनामे पर आ गया था. ये इकरारनामा दरअसल एक ... और भी पढ़ें

Pandit Bhajan Sopori: वे सोपोरी बाज के बेताज फ़नकार थे

June 03, 2022, 08:33 PM IST

जम्मू-कश्मीर सरज़मीं के एक और विलक्षण संगीतकार पंडित भजन सोपोरी ने भी इस नश्वर संसार को अलविदा कह दिया. दो जून को दिल्ली के निकट गुरूग्राम में उन्होंने आखि़री सांस ली. वे सोपोरी बाज परंपरा में संतूर को नई प्रतिष्ठा देने वाले गुणी कलाकार और संगीत के गहरे जानकार थे. ... और भी पढ़ें

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज