होम »

ब्लॉग

Corona: अब डॉक्टरी पेशे के लिए खतरनाक हो रहे हैं हालात

September 29, 2020, 11:18 AM IST

कोरोना काल जब शुरू हुआ था उसके बाद एक समय ऐसा भी आया था जब पूरे देश ने चिकित्‍सा जगत से जुड़े लोगों को भगवान मानते हुए उनके प्रति कृतज्ञता जताई थी. देश में डॉक्‍टरों को कोरोना वॉरियर्स ही नहीं, बल्कि भगवान की संज्ञा दी जाने लगी थी. डॉक्‍टरों, पैरा ... और भी पढ़ें

PMFBY: किसान ही राज्य सरकारें भी फसल बीमा कंपनियों के दुष्चक्र दुखी

September 29, 2020, 10:36 AM IST

नई दिल्ली. किसानों की भलाई के नाम पर शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY- Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) की असली फसल इंश्योरेंस कंपनियां काट रही हैं. वो लगातार प्रॉफिट में हैं और किसानों को पैसा जमा करने के बाद भी क्लेम के लिए भटकना पड़ रहा है. ... और भी पढ़ें

हिंदी कैनन की तलाश

September 29, 2020, 05:49 AM IST

खड़ी बोली के मानकीकरण के साथ ही कैनन बनने की प्रक्रिया औपनिवेशिक काल के दौरान शुरु हो जाती है. ज़ाहिर है यह आरम्भिक कैनन राष्ट्रवादी होगा, उन कथित शाश्वत मूल्यों की स्थापना करेगा जिनके सहारे हिंदी साहित्य को अंग्रेज़ी राज के बरक्स खड़ा कर सके. लेकिन शाश्वत होने का दावा ... और भी पढ़ें

मइया मइया... एक मधुर गीत की दिलचस्प और कंट्रास्टिंग जर्नी

September 28, 2020, 04:12 PM IST

एक सौदा रात का, एक कौड़ी चांद की चाहे तो चूम ले, तू ठोड़ी चांद की एक चांद की कश्ती में, चल पार उतरना है तू हल्के हल्के खेना, दरिया ना छलकेतू नील समंदर है, मैं रेत का साहिल हूं आगोश में ले ले, मैं देर से प्यासी हूंगुलज़ार की ... और भी पढ़ें

चौकों-छक्कों के मेले में कप्तानों के लिए आखिर 1 रन क्यों है सबसे अहम?

September 28, 2020, 02:05 PM IST

नई दिल्ली. आईपीएल (IPL) के हर सीज़न, हर मुकाबले में इतने चौके-छक्के लगतें हैं कि आपको असाधारण से असाधरण शॉट भी कुछ दिनों के बाद याद नहीं रहते हैं. बावजूद इसके चौके-छक्के के मेले वाले आईपीएल (IPL) में कप्तानों के लिए अक्सर 1 रन की अहमियत बहुत ज़्यादा होती है. ... और भी पढ़ें

हेमा से लता और फिर ‘भारत रत्न लता मंगेशकर: ये संघर्ष, सादगी के सफर का नाम है!

September 28, 2020, 12:30 PM IST

लता मंगेशकर की ज़िंदगी का शायद ही कोई पहलू ऐसा होगा, जिसे छुआ न गया हो. जिसके बारे में लिखा या पढ़ा न गया हो. फिर भी आज जब वे जीवन के 92वें पड़ाव पर पहुंची हैं, तो उनके बीते 91 साल के सफर के कुछ अहम पड़ावों पर फिर ... और भी पढ़ें

बेकदरी ऐसी कि हर साल बाढ़ में डूब जाती हैं बिहार की ऐतिहासिक धरोहरें

September 28, 2020, 11:45 AM IST

पटना. इन दिनों एक दफा फिर से उत्तर बिहार बाढ़ (Bihar Flood) के पानी में डूब रहा है. हिमालय के तराई इलाके में हुई भारी बारिश की वजह से सभी नदियां उफनाई हैं और उनका पानी बिहार के पश्चिमी और पूर्वी कोने में तेजी से फैल रहा है. मगर इस ... और भी पढ़ें

संविधान की विकास गाथा: भारत में वास्तविक आर्थिक क्रान्ति की रूपरेखा

September 28, 2020, 10:32 AM IST

भारत की संविधान सभा के एक सदस्य का नाम था प्रो. केटी शाह. प्रो. केटी शाह ने लन्दन स्कूल आफ इकोनामिक्स से स्नातक किया था. फिर वे मैसूर विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के प्रोफ़ेसर बन गए थे. फिर वर्ष 1938 में वे राष्ट्रीय योजना आयोग के महासचिव बने. इस आयोग का मकसद ... और भी पढ़ें

एक सबक ने बदली जिंदगी; जो बच्चे घोसले तोड़ते थे, अब चिड़ियों को दाने डालते हैं

September 28, 2020, 09:22 AM IST

महाराष्ट्र में बुलढ़ाणा जिला परिषद मराठी प्राथमिक स्कूल चिंचोली में एक शिक्षिका द्वारा पिछले दो वर्षों से संवैधानिक मूल्यों पर आधारित गतिविधियों का परिणाम है कि ज्यादातर बच्चों के व्यवहार में सकारात्मक बदलाव आ रहे हैं. वे शिष्ट और विनम्र बन रहे हैं. साथ ही महान व्यक्तित्वों के बुनियादी गुण ... और भी पढ़ें

देश के रीयल हीरो भगत सिंह को आजाद भारत में भी सरकार क्यों नहीं मानती शहीद?

September 28, 2020, 08:45 AM IST

नई दिल्ली. देश की आजादी में भगत सिंह (Bhagat singh) का योगदान किसी से छिपा नहीं है. जनता उन्‍हें शहीद-ए-आजम कहती है. लेकिन सरकार अपने ऑफिशियल रिकॉर्ड में ऐसा नहीं मानती. देश को आजाद हुए 73 साल हो गए, लेकिन हम अपने रीयल हीरो के साथ न्‍याय नहीं कर सके. ... और भी पढ़ें

Daughters Day: दूसरे की बेटियां ‘माल, आइटम, पीस नहीं...

September 27, 2020, 07:16 PM IST

आजकल ‘माल शब्द ने कोहराम मचा रखा है. देश की जानीमानी एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण से  ‘माल के बारे में एनसीबी पूछताछ कर रही है. सारा अली खान और श्रद्धा कपूर भी इस पूछताछ के घेरे में है.  पता लगाया जा रहा है कि इनके व्हाट्स ग्रुप में जो चैट है ... और भी पढ़ें

कोरोना मामले में आशावादी रवैया जोखिम भरा

September 27, 2020, 05:10 PM IST

कहावत है कि हर संकट की एक उम्र होती है और आखिर हर मुद्दा मर ही जाता है. लेकिन कोरोना के मामले में ऐसी उम्मीद लगाकर बैठना जोखिम भरा है. कोरोना कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है बल्कि एक महामारी है. ऐसी महामारी जिससे पूरी दुनिया की जान जोखिम में पड़ी ... और भी पढ़ें

World Tourism Day: यात्रा का मतलब सिर्फ दूरी तय करना ही नहीं

September 27, 2020, 09:14 AM IST

यात्राएं जीवनानुभव का महत्वपूर्ण हिस्सा होती हैं. जब आप किसी यात्रा पर होते हैं तो सिर्फ एक स्थान से दूसरे स्थान की दूरी भर तय नहीं कर रहे होते बल्कि जीवनानुभवों में बहुत कुछ जोड़ रहे होते हैं. इसी क्रम में यात्राएं आपको समृद्ध करती जाती हैं. दुनिया के कई ... और भी पढ़ें

Daughters Day: नजरिया बदलिए, बेटियों की दुनिया बदल जाएगी

September 27, 2020, 05:26 AM IST

जब तक बेटी के जन्म का बेटे के जन्म की तरह स्वागत नहीं किया जाता, उत्सव नहीं मनाया जाता, हमें यह मान लेना चाहिए कि भारत आंशिक अपंगता से पीड़ित है- महात्मा गांधी आज डॉटर्स डे (Daughters Day) यानी बेटी दिवस है. आप भी बेटियों के जन्म का उत्सव मनाइये, उन्हें ... और भी पढ़ें

यूरोपीय भाषा दिवस को जानिए, यह हमें हिंदी से जुड़े विवादों का समाधान सिखाता है

September 26, 2020, 01:42 PM IST

अभी इसी महीने 14 तारीख को 'हिन्दी दिवस मनाया गया था. हर साल मनाया जाता है. लेकिन हर बार हिन्दी के प्रसार के लिए होने वाले सार्थक प्रयासों की जगह भाषायी विवाद ज्यादा सुर्ख़ियां बटोरते हैं. इस बार भी यही हुआ. कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का बयान 'हिन्दी ... और भी पढ़ें

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज