• 1/06

    इंफ्रास्ट्रक्चर कारोबार से जुड़ी भारतीयों की पसंदीदा कंपनी अपना इलेक्ट्रिकल कारोबार बेचने जा रही है. इसके लिए कंपनी ने फ्रांस की कंपनी से हाथ मिलाया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक ये डील 14 हजार करोड़ रुपये में हुई है. अगली स्लाइड में जानते है कि कौन सी भारतीय कंपनी अपने कौन से कारोबार को बेचने जा रही है.

  • 2/06

    इंफ्रा सेक्टर से जुड़ी कंपनी  एलएंडटी (L&T) ने ऐलान किया है कि वह अपने इलेक्ट्रकल कारोबार को बेचेगी. यह डील पूरी तरह कैश में की गई है.  पिछले वित्त वर्ष में एलएंडटी की आय 5,038 करोड़ रुपए रही थी. अगली स्लाइड में जानिए कौन सी 180 साल पुरानी कंपनी को L&T अपना कारोबार बेच रही है...

  • 3/06

    फ्रांस की श्‍नाइडर इलेक्ट्रिक को  एलएंडटी अपना कारोबार बेच रही है. यह 180 साल पुरानी कंपनी है. यह मुख्‍य रूप से एनर्जी मैनेजमेंट, ऑटोमेशन सॉल्‍यूशन सहित कई अन्‍य कारोबार में है.

  • 4/06

    इलेक्ट्रिकल कोराबार बेचने के लिए एलएंडटी ने स्नाडर इलेक्ट्रिक से करार किया है. L&T करार के तहत  इलेक्ट्रिकल, ऑटोमिशन कारोबार बेचेगी. एलएंडटी ने कहा है कि 18 महीने में बिक्री प्रक्रिया पूरी हो सकती है. आपको बता दें कि रेंडस्‍टैड इम्‍प्‍लॉयर ब्रांड रिसर्च (REBR) 2018 की एक रिपोर्ट में इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर एंड कंस्‍ट्रक्‍शन के क्षेत्र में काम करने वाली लार्सन एंड टूब्रो (एलएंडटी) को पसंदीदा इम्‍पलॉयर ब्रांड चुना गया. अगली स्लाइड में जानिए एलएंडटी क्यों बेच रही है अपना बिजनेस...

  • 5/06

    L&T ने कहा है कि उसका फोकस कोर बिजनेस पर है. इसी प्‍लानिंग के तहत वह E&A बिजनेस को बेच कर कोर बिजनेस में निवेश बढ़ा रही है, जिससे निवेशकों लॉग टर्म में अच्‍छी वैल्‍यू मिल सके. कंपनी के मुख्‍य कार्यकारी और प्रबंध निदेशक एसएन सुब्रमण्यम ने अपने बयान में कहा कि कंपनी अपनी इसी प्‍लानिंग के तहत आगे बढ़ रही है. उन्‍होंने कहा कि श्‍नाइडर इलेक्ट्रिक से रिश्‍ते बढ़ना दोनों कंपनियों के लिए फायदेमंद है. इसके कर्मचारियों सहित बिजनेस पार्टनर और शेयरहोल्‍डर्स को फायदा होगा.अगली स्लाइड में डील के बारे में जानिए...

  • 6/06

    एलएंडटी के मुख्‍य कार्यकारी और प्रबंध निदेशक एसएन सुब्रमण्यम का कहना है कि इस सौदे के लिए अभी रेग्‍युलेटरी मंजूरी मिलना बाकी है. उन्‍होंने कहा कि इस E&A सौदे के तहत मरीन, स्विचगियर सहित अन्‍य कारोबार नई कंपनी को ट्रांसफर किए जाएंगे. इसमें लो वोल्‍टेज में कई सारे लो और मीडियम वोल्‍टेज स्विचगियर, इलेक्ट्रिक सिस्‍टम, मरीन स्विचगियर सहित ऑटोमेशन के ढेर सारे प्रॉडक्‍ट हैं.