राज्य

LIVE NOW

झारखंड में तसर का उत्पादन दोगुना करने की योजना, खुशहाल होंगे किसान

Hindi.news18.com | June 19, 2017, 11:10 PM IST
facebook Twitter google Linkedin
Last Updated January 1, 1970
auto-refresh

हाइलाइट्स

झारखंड के रांची में केंद्रीय तसर अनुसंधान संस्थान का स्थापना दिवस समारोह मनाया गया. इस मौके पर राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने टेक्नोलॉजी पार्क, जीन बैंक और छात्रावास का उद्घाटन किया. तसर प्रदर्शनी का भी राज्यपाल ने मुआयना किया.

राज्यपाल ने अपने संबोधन में संस्थान के काम की खूब सराहना की. उन्होंने कहा कि झारखंड के ग्रामीण लोगों को संस्थान ने रोजगार के बड़े अवसर दिए. स्थापना समारोह के दौरान राज्यपाल ने संस्थान में पढ़ाई किए लोगों को मेडल भी दिए. संस्थान के वैज्ञानिकों को भी सम्मानित किया गया.

केंद्रीय रेशम बोर्ड के अध्यक्ष के.एम. हनुमंथारायप्पा भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए. उन्होंने कहा कि झारखंड में तसर का काम बहुत अच्छा चल रहा है. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के हवाले से कहा कि आनेवाले दिनों में तसर का उत्पादन झारखंड में दोगुना कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि झारखंड में किसान लोग गरीब हैं. उनकी आमदनी बढ़ जाएगी तो अच्छा होगा. उन्होंने कहा कि तसर का उत्पादन बढ़ाए जाने के लिए जिन सुविधाओं को उपलब्ध कराए जाने की जरूरत है उसे पूरा किया जाएगा.

वहीं राज्य खादी बोर्ड के अध्यक्ष संजय सेठ ने कहा कि झारखंड में तसर का बड़ा काम हो रहा है. झारखंड के अंदर 80 प्रतिशत तसर का उत्पादन किया जा रहा है. लगभग तीन हजार मीट्रिक टन तसर का उत्पादन झारखंड में किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि तसर का उत्पादन पांच हजार मीट्रिक टन तक ले जाए. उन्होंने कहा कि तसर उद्योग में बड़ी संभावनाएं हैं. एक्सपोर्ट भी बड़ी मात्रा में की जा सकती है. उन्होंने आगे कहा कि देश का सबसे बड़ा प्रोडक्शन सेंटर आमदा में खोला जाएगा. वहां 200 चरखे चलेंगे और रोज 26 किलो तसर का धागा बनाया जाएगा.
LOAD MORE