राज्य

किसान आंदोलनः हार्दिक पटेल को रोकने के लिए एमपी-राजस्थान बॉर्डर सील

गुजरात पाटीदार आंदोलन के संयोजक एवं पटेल नव निर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक पटेल और भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय महासचिव हन्नान मौला मंगलवार को मध्यप्रदेश के मंदसौर पहुंचेंगे.

Mustafa Hussain | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 12, 2017, 11:35 PM IST
किसान आंदोलनः हार्दिक पटेल को रोकने के लिए एमपी-राजस्थान बॉर्डर सील
फोटो: हार्दिक पटेल (मुस्तफा हुसैन)
Mustafa Hussain
Mustafa Hussain | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 12, 2017, 11:35 PM IST
गुजरात पाटीदार आंदोलन के संयोजक एवं पटेल नव निर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक पटेल और भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय महासचिव हन्नान मौला मंगलवार को मध्यप्रदेश के मंदसौर पहुंचेंगे. वे यहां पुलिस की गोली से मारे गए छह किसानों के परिजनों से मिलेंगे.

हार्दिक पटेल सोमवार को राजस्थान के उदयपुर पहुंच गए हैं. यहां जिला प्रशासन ने उन्हें किसान सभा की अनुमति नहीं दी, जिसके बाद वह स्नेह भोज के माध्यम से अपने समर्थकों से मुलाकात कर रहे है. बताया जा रहा है कि गुजरात पुलिस के अलावा राजस्थान पुलिस भी उनके मूवमेंट पर नजर रखे हुए हैं.

उदयपुर पहुंचे हार्दिक पटेल ने कहा, 'रोकने वाले रोके हम किसानों से मिलेंगे'
 एमपी पुलिस ने भी हार्दिक को रोकने के लिए राजस्थान-मध्यप्रदेश बॉर्डर सील कर दी है. पुलिस को अंदेशा है कि हार्दिक चोरी-छिपे बॉर्डर पार कर सकते हैं. हार्दिक ने उदयुपर में मीडिया से चर्चा में कहा, 'मध्य प्रदेश किसान आंदोलन में पुलिस की गोली से मारे गए किसानों के परिवार से मिलने जा रहे हैं. हमें जानबूझकर रोकने की कोशिश की जा रही है लेकिन जिनका रोकने का काम है वो रोकें, हम मंदसौर जाएंगे. और किसानों के परिवारों से मिलेंगे.'


मध्यप्रदेश पुलिस ने नीमच सीमा पर ही हार्दिक की घेराबंदी की तैयारी कर ली है. करीब 200 एसएएफ व एमपी पुलिस के 100 जवान नयागांव बार्डर पर तैनात किये जाने की खबर है. नयागांव बॉर्डर को सील कर दिया गया है.

नीमच कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि, हार्दिक पटेल को मंदसौर नहीं जाने दिया जाएगा. वहीं, एसपी तुषार कान्त विद्यार्थी ने कहा कि, किसी को क़ानून और व्यवस्था हाथ में लेने नहीं दिया जाएगा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर