राज्य

मंत्री धुर्वे ने कृषि संसद से गायब दो कर्मचारियों को किया सस्पेंड

मध्य प्रदेश के खाद्य मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे उमरिया जिले में नए अंदाज में दिखे. उन्होंने मंच से भाषण नहीं देकर गांव के लोगों से सीधी बातचीत की. अफसरों की क्लास लगाई और कृषि संसद से गायब रहे दो कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया. उन्होंने ग्रामीणों की समस्याओं का मौके पर ही समाधान किया.

Bijendra Tiwari | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 30, 2017, 10:13 AM IST
मंत्री धुर्वे ने कृषि संसद से गायब दो कर्मचारियों को किया सस्पेंड
फोटो- ईटीवी
Bijendra Tiwari | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 30, 2017, 10:13 AM IST
अपने तेज तर्रार स्वभाव को लेकर विवादों में रहने वाले मध्य प्रदेश के खाद्य मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे उमरिया जिले में नए अंदाज में दिखे. उन्होंने मंच से भाषण नहीं देकर गांव के लोगों से सीधी बातचीत की. अफसरों की क्लास लगाई और कृषि संसद से गायब रहे दो कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया. उन्होंने ग्रामीणों की समस्याओं का मौके पर ही समाधान किया.

दुब्बार गांव में लगी थी कृषि संसद

उमरिया जिले के दुब्बार गांव में गत शनिवार को 'ग्राम उदय से भारत उदय' अभियान की कृषि संसद आयोजित थी. जिले के प्रभारी मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे भी उमरिया में थे, लिहाजा प्रदेश स्तर पर चलाए जा रहे ग्राम उदय अभियान को देखने दुब्बार पहुंच गए.

जमीनी हकीकत बताई

मंत्री ने भाषण के बजाय सीधे सरकारी योजनाओं पर चर्चा की और अफसरों को सामने लाकर योजनाओं की जमीनी हकीकत समझने में आम लोगों की मदद की. इससे लोग खुश थे और उन्हें नेता और जनता के बीच भी नजदीकी रिश्ता नजर आया.

इस दौरान खाद्य मंत्री का कहना था कि सरकार की योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचे यही प्रदेश की शिवराज सरकार का मकसद है.

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर