Home /News /haryana /

14 year old teenager commits suicide after beating up principal in haryana case registered nodbk

हरियाणा में प्रधानाचार्य की पिटाई से आहत 14 वर्षीय किशोर ने की आत्महत्या, केस दर्ज

परिवार की शिकायत के मुताबिक, मृतक कक्षा नौ का छात्र था और प्रधानाचार्य ने उसे कई बार डांटा और पीटा था. (सांकेतिक फोटो)

परिवार की शिकायत के मुताबिक, मृतक कक्षा नौ का छात्र था और प्रधानाचार्य ने उसे कई बार डांटा और पीटा था. (सांकेतिक फोटो)

Haryana News: हिसार जिले की राजकीय रेलवे पुलिस के प्रभारी नरेश कुमार ने बताया कि 10 अगस्त को किशोर ने एक ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली थी. उन्होंने कहा कि परिवार को शुरू में लगा कि उनके बच्चे ने यह कदम किसी और वजह से उठाया है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

मृतक कक्षा नौ का छात्र था और प्रधानाचार्य ने उसे कई बार डांटा और पीटा था.
नरेश कुमार ने बताया कि 10 अगस्त को किशोर ने एक ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली थी.
आरोपी प्रधानाचार्य के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है.

चंडीगढ़. हरियाणा के आदमपुर में स्कूल के प्रधानाचार्य द्वारा कथित रूप से डांटने और पीटे जाने के कुछ दिनों बाद 14 वर्षीय किशोर ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. पुलिस के मुताबिक, किशोर के परिवार की शिकायत के आधार पर निजी स्कूल के आरोपी प्रधानाचार्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. परिवार की शिकायत के मुताबिक, मृतक कक्षा नौ का छात्र था और प्रधानाचार्य ने उसे कई बार डांटा और पीटा था.

हिसार जिले की राजकीय रेलवे पुलिस के प्रभारी नरेश कुमार ने बताया कि 10 अगस्त को किशोर ने एक ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली थी. उन्होंने कहा कि परिवार को शुरू में लगा कि उनके बच्चे ने यह कदम किसी और वजह से उठाया है. कुमार के मुताबिक, किशोर की बहन और उसके कुछ सहपाठियों ने परिवार को बताया कि पिछले कई दिनों से प्रधानाचार्य किशोर को डांटने के अलावा उसकी पिटाई भी कर रहे थे. इसके बाद परिवार ने आरोपी प्रधानाचार्य के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है.

छात्र इंद्र कुमार ने अहमदाबार के सिविल अस्पलताल में दम तोड़ दिया
बता दें कि बीते दिनों कुछ इसी तरह की खबर राजस्थान के जालोर जिला स्थित एक स्कूल में सामने आई थी. यहां प्राइवेट स्कूल में दलित छात्र की टीचर के हाथों पिटाई और इसके 23 दिन बाद उसकी मौत का मामला सामने आया था. यह पिटाई कथिततौर पर दलित छात्र के मटके से पानी पीने पर की गई थी. टीचर ने बच्चे को इतने जोर से थप्पड़ जड़ा की उसकी तबीयत बिगड़ गई. कई दिनों तक बच्चे के परिजन उसे अलग-अलग शहरों के अस्पतालों में इलाज को लेकर भटकते रहे. आखिरकार शनिवार को अस्पताल से बुरी खबर सामने आई. शनिवार सुबह 11 बजे दलित छात्र इंद्र कुमार ने अहमदाबार के सिविल अस्पलताल में दम तोड़ दिया.

Tags: Chandigarh news, Haryana news, Haryana police, Suicide

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर