• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • आधी रात शमशान घाट से आने लगी तेज आवाजें, जमीन खोदते ही निकली 150 'भौंकती' लाशें!

आधी रात शमशान घाट से आने लगी तेज आवाजें, जमीन खोदते ही निकली 150 'भौंकती' लाशें!

एनिमल रेस्क्यू टीम ने जैसे ही जमीन खोदा, अंदर से 150 कुत्ते निकले (इमेज- सांकेतिक)

एनिमल रेस्क्यू टीम ने जैसे ही जमीन खोदा, अंदर से 150 कुत्ते निकले (इमेज- सांकेतिक)

कर्नाटक (Karnataka) के शिवमोग्गा जिले (Shivamogga district) से 4 सितंबर को अजीबोगरीब मामला सामने आया. यहां लोगों को शमशान घाट (Weird Noises From Mass Grave) से आधी रात तेज आवाजें आने लगी. जब लोगों ने वहां जाकर देखा तो आवाज जमीन के नीचे से आ रही थी. खुदाई करते ही अंदर से 150 जिंदा कुत्ते (150 Dogs Buried Alive) निकले.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    अगर रात को आपको शमशान घाट से आवाजें आने लगे, तो कैसा लगेगा? शायद डर के मारे कई दिनों तक आप अपने घर से नहीं निकलेंगे. कर्नाटक के शिवमोग्गा जिले (Shivamogga district) में रहने वाले लोगों के साथ ऐसा ही कुछ हुआ. यहां 4 सितंबर को अचानक लोगों को शमशान घाट से तेज आवाजें आने लगी. जब लोग वहां गए तब उन्हें अहसास हुआ कि शोर जमीन के नीचे से आ रही है. जमीन के नीचे की खुदाई की गई तो अंदर से 150 जिंदा कुत्ते (150 Dogs Buried Alive) बाहर निकले.

    ये शमशान घाट ताम्माडिहल्ली (Tammadihalli) जंगल के पास मौजूद है. जंगल के पास रहने वाले लोगों को अचानक ही आवाजें आने लगी थी. इसके बाद कई लोग हिम्मत करके शमशान घाट के पास पहुंचे. 15 से 20 फ़ीट गड्ढे की खुदाई के बाद वहां से 150 कुत्ते मिले. इसके बाद पुलिस ने मामले को लेकर एफआईआर दर्ज कर ली. अब जांच की जा रही है कि आखिर किसने वहां 150 कुत्ते दफनाए थे?

    150 dogs buried alive

    द न्यूज मिनट (की खबर के मुताबिक़, लोकल लोगों ने शमशान घाट से आवाजें आने की बात एनिमल राइट्स एक्टिविस्ट को बताई. इसके बाद टीम वहां पहुंची. उन्होंने पहुंचकर जमीन की खुदाई की तो देखा कि अंदर 150 कुत्ते दफनाए गए थे. सभी कुत्ते जिंदा थे. खुदाई करते ही सारे कुत्ते एक-एक कर बाहर भाग गए. इस मामले को लेकर इंडिया पीनल कोड के आधार पर FIR दर्ज की गई है.

    150 dogs buried alive

    पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि 150 कुत्तों में किसी की मौत नहीं हुई है. लेकिन सभी हैरान हैं कि आखिर कैसे एक गड्ढे में इतने कुत्ते दफना दिए गए और किसने ये हरकत की. बता दें कि कुछ हफ्ते पहले भी कर्नाटक से हस्सान जिले में 38 बंदर मरे हुए पाए गए थे. इसके बाद कर्नाटक हाई कोर्ट ने इसकी जांच के आदेश दिए. इंडिया डॉट कॉम की खबर के मुताबिक, इन बंदरों को झोले में भरकर जंगल भेजा जा रहा था. लेकिन झोले में ही दम घुटने की वजह से उनकी मौत हो गई.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज