• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • विश्व शांति के लिए 34 सालों से पदयात्रा

विश्व शांति के लिए 34 सालों से पदयात्रा

बुंदेलखंड में विश्व शांति और कुरीतियों को मिटाने के मकसद से 34 सालों से लगातार पैदल यात्रा कर रहा ग्रुप आज कल बुंदेलखंड की यात्रा पर हैं ।

बुंदेलखंड में विश्व शांति और कुरीतियों को मिटाने के मकसद से 34 सालों से लगातार पैदल यात्रा कर रहा ग्रुप आज कल बुंदेलखंड की यात्रा पर हैं ।

बुंदेलखंड में विश्व शांति और कुरीतियों को मिटाने के मकसद से 34 सालों से लगातार पैदल यात्रा कर रहा ग्रुप आज कल बुंदेलखंड की यात्रा पर हैं ।

  • Share this:
    हमीरपुर। यूपी के बुंदेलखंड में पर्यावरण संरक्षण, आपसी भाईचारा विश्व शांति और कुरीतियों को मिटाने के मकसद से 34 सालों से लगातार पैदल यात्रा कर रहा ग्रुप आज कल इस इलाके की यात्रा पर हैं। चित्रकूट बांदा महोबा होते हुए पैदल यात्रियों का यह दल हमीरपुर पहुंचा है।

    9 देशों की 273 हजार किलोमीटर का सफर तय करने के बाद नौजवानों का यह दल हमीरपुर पहुंचा है। अवध बिहारी लाल के नेतृत्व में तीन दशक पूर्व बचपन में घर बार छोड़कर दुनिया को पर्यावरण संरक्षण और शांति का पाठ पढ़ाने निकले नौजवानों के ग्रुप में हरदोई के महेदर प्रताप लखीमपुर खीरी के, अवध बिहारी सीतापुर के, जीतेन्दर समेत 20 लोग हैं। जिनमें चार महिलाएं भी हैं। लगातार 34 सालों से यह लोग पैदल चले जा रहे हैं। इस दल के किसी भी सदस्य ने शादी नहीं की है और कोई भी अपने घर नहीं गया है ।

    आजकल यह दल तीन चार के ग्रुप में बंटकर बुंदेलखंड के अलग-अलग जिलों में घूम-घूमकर शांति का संदेश बांट कर कन्या भ्रूण हत्या दहेज प्रथा मिटाने और पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरुक कर रहे हैं। एक दिन में 40 किलोमीटर पैदल सफर तय करने वाले इस ग्रुप के सदस्य जंगली रास्तों के जरिए गांव-गांव जाते हुए अपना संदेश बांटते हैं। दुनिया की सबसे बड़ी इस यात्रा का नाम पांच बार लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्डस में दर्ज हो चुका है।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज