देखें: कुत्ते के जबड़ों में तड़पती रही वो मासूम

अहमदाबाद के मकरबा इलाके की एक सोसायटी में एक 10 साल के बच्चे ने हौसले की मिसाल पेश की है। 10 साल के कशिश ने अपनी डेढ़ साल की बहन कांची को एक कुत्ते से बचा लिया।

News18India
Updated: December 30, 2014, 3:07 AM IST
News18india.com
News18India
Updated: December 30, 2014, 3:07 AM IST
अहमदाबाद। अहमदाबाद के मकरबा इलाके की एक सोसायटी में एक 10 साल के बच्चे ने हौसले की मिसाल पेश की है। 10 साल के कशिश ने अपनी डेढ़ साल की बहन कांची को एक कुत्ते से बचा लिया। दरअसल दोनों भाई-बहन एक साथ पार्क में खेल रहा था। तभी वहां बैठे एक जर्मन शेफर्ड ने बच्ची पर हमला कर दिया।

कशिश कुत्ते के इस अचानक हमले से नहीं घबराया और अकेले ही अपनी बहन को बचा लिया। ये सीसीटीवी फुटेज 23 दिसंबर का है। तस्वीरों में साफ दिख रहा है कि कैसे कशिश अपनी जान की परवाह किए बिना अपनी बहन को बचा रहा है। कुत्ता बच्ची को खींचकर ले जा रहा था लेकिन कुत्तों से डरने वाला कशिश अपनी परवाह किए बिना कुत्ते से भिड़ गया।

अपार्टमेंट के लोग भी आए लेकिन कुछ नहीं कर पाए और कशिश ने अपनी सूझबूझ के अपनी बहन की जान बचा ली। कशिश की इस बहादुरी से उसके घरवाले भी गर्व महसूस कर रहे हैं। कशिश ने बताया कि कुत्ता उसकी बहन को पार्किंग के पास ले गया फिर वहां पर छोड़ दिया। उसने बताया कि मुझे डर लगा था, लेकिन मेरी बहन है इसलिए बचाना चाहता था। छोड़ देता तो उसे बाहर ले जाता सिर फट जाता। डर था कहीं वो मर जाती तो, कुछ भी हो सकता था।

वहीं कशिश की मां कामिनी अपने बेटे की बहादुरी से काफी खुश हैं। उन्होंने कहा कि अगर मेरा बेटा नहीं बचाता तो मेरी बेटी का बचना काफी मुश्किल था। इनका परिवार आठवें मंजिल पर रहा था। जब ये घटना घटी उस वक्त कामिनी अपने घर की बॉलकनी में मौजूद थीं उनके अपार्टमेंट की लिफ्ट भी काम नहीं कर रही थी। किसी तरह को सीढ़ियों से भागती हुई पार्क में पहुंची तबतक उनके बेटे ने अपनी बहन को बचा लिया था।

फोटो
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर