4 करोड़ रुपए से ज्यादा में बिका 35 साल पुराना मारियो गेम, जानें क्या है मामला

वीडियो गेम को क्रिसमस गिफ्ट के तौर पर खरीदा गया था. (सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

वीडियो गेम को क्रिसमस गिफ्ट के तौर पर खरीदा गया था. (सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

Super Mario Game Auction: निन्तेंदो (Nintendo) के सुपर मारियो गेम की कॉपी सालों से एक दराज में रखी हुई थी, लेकिन किसी का इसकी तरफ ध्यान नहीं गया. यह जानकारी नीलामी कराने वाले डलास में हैरिटेज ऑक्शन हाउस ने दी है.

  • Share this:
डलास. गेमिंग इतिहास में मारियो (Mario) का नाम अमर है. ज्यादातर लोगों ने अपने जीवन में इस गेम को कम से कम एक बार तो खेला ही होगा. अब ऐसे में आपसे कोई कहे कि वह सुपर मारियो ब्रदर्स गेम खरीदकर लाया और दराज में रखकर भूल गया, तो मानने में मुश्किल होगी. लेकिन 1986 में ऐसा हुआ है. इतना ही नहीं सालों बाद जब पता चला कि गेम दराज में रखा हुआ है, तो उसकी नीलामी की गई. इस गेम को नीलामी में 6 लाख 60 हजार डॉलर में खरीदा गया है. भारतीय मुद्रा के अनुसार, गेम की कीमत 4 करोड़ 84 लाख रुपए से ज्यादा की है.

निन्तेंदो के सुपर मारियो गेम की कॉपी सालों से एक दराज में रखी हुई थी, लेकिन किसी का इसकी तरफ ध्यान नहीं गया. यह जानकारी नीलामी कराने वाले डलास में हैरिटेज ऑक्शन हाउस ने दी है. ऑक्शन हाउस का कहना है कि इस वीडियो गेम को क्रिसमस गिफ्ट के तौर पर खरीदा गया था, लेकिन यह दराज में पड़ा रहा. दराज में यह एक प्लास्टिक में सील रहा. इस साल की शुरुआत में मिलने से पहले तक प्रोडक्ट के टैग भी नहीं निकले थे.

हैरिटेज का कहना है कि नीलामी के लिए आई गेम की यह अब तक की सबसे अच्छी नकल है. सुपर मारियो ब्रदर्स पहली बार 13 सितंबर 1985 में सामने आया था. इसके निन्तेंदो ने अन्य टीमों के साथ मिलकर तैयार किया था. फोर्ब्स के मुताबिक, ऐसा पहली बार हुआ है, जब नीलामी में वीडियो गेम को इतनी बड़ी रकम मिली हो. यह असल गेम का एक संशोधित वर्जन है. इससे पहले सबसे महंगे वीडियो की नीलामी का रिकॉर्ड ओरिजिनल सुपर मारियो ब्रदर्स के नाम था. बीती जुलाई में यह गेम 1 लाख 14 हजार डॉलर में बिका था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज