Home /News /ajab-gajab /

37 साल की महिला का वजन है सिर्फ 21 किलो, भुखमरी के पीछे है अजीबोगरीब बीमारी

37 साल की महिला का वजन है सिर्फ 21 किलो, भुखमरी के पीछे है अजीबोगरीब बीमारी

ब्रिटिश महिला निकोलेट बेनेट (Nicolette Baker) 37 साल की उम्र में भी बच्चों जितना वजन रखती हैं.  (Credit- Gofundme)

ब्रिटिश महिला निकोलेट बेनेट (Nicolette Baker) 37 साल की उम्र में भी बच्चों जितना वजन रखती हैं. (Credit- Gofundme)

Weird Disease Causes Pain in Eating : खाने-पीने जैसी मूलभूत ज़रूरत के लिए अगर अहनीय दर्द का सामना करना पड़े, तो इंसान भूख से मरने ही लगेगा. कुछ ऐसी ही हालत हो गई है 37 साल की महिला की, जिसका वजन महज 21 किलोग्राम है.

    खाने-पीने में अगर इंसान तसल्ली से स्वाद न ले सके, तो शरीर पर पोषण लगता ही नहीं है. ऐसे में अगर किसी को एक-एक निवाला खाने में न सहा जाने वाला दर्द हो, तो भला वज़न कहां बढ़ेगा? कुछ ऐसी ही हालत है ब्रिटिश महिला निकोलेट बेनेट (Nicolette Baker) की, जो 37 साल की उम्र में भी बच्चों जितना वजन रखती हैं.

    कॉर्नवेल की रहने वाली निकोलेट (Nicolette Baker) की स्थिति ये है कि वो अपनी ज़िंदगी कभी ठीक तरह से शुरू ही नहीं कर पाईं. उन्हें एक ऐसी बीमारी है, जिसके चलते उनका एक-एक निवाला गले से उतारना दुश्वार रहता है. उनकी आंत और किडनी इतनी सिकुड़ चुकी है कि उनके पेट में एक टुकड़ा जाते हुए भी पेट बिल्कुल भरा-भरा महसूस होता है. उनकी स्थिति ये है कि बच्चों की जेली भी खाने से उनकी आंतें फटने जैसी लगने लगती हैं.

    बीमारी ने बेकार कर दी ज़िंदगी
    Mirror की रिपोर्ट के मुताबिक निकोलेट बेकर को सुपीरियर मैसेंटरिक आर्टेरी सिंड्रोम (Superior Mesenteric Artery syndrome) यानि SMAS नाम की बीमारी है. इसकी शुरुआत 10 साल पहले ही हो गई है, जिसने उनकी आंत और किडनी जैसे अंगों को काफी संकुचित कर दिया. जब भी निकोलेट खाने के बारे में सोचती हैं तो उन्हें अकल्पनीय दर्द होने लगता है. उन्हें सालों तक लोगों ने कुपोषित समझा और ज़बरदस्ती खिलाने की कोशिश की क्योंकि उनका वज़न सिर्फ 21 किलोग्राम तक रह गया था. निकोलेट की इस बीमारी ने न तो उन्हें करियर की शुरुआत करने दी और न ही परिवार की.

    ये भी पढ़ें- ऑनलाइन बिकती थी कुत्तों के कान काटने वाली किट, विरोध के बाद वेबसाइट ने हटाया

    इलाज के लिए जुटा रही हैं पैसे
    ज़िंदगी में इतना कुछ सहने के बाद भी बेकर की जीने की इच्छा खत्म नहीं हुई है. उन्हें ऑपरेशन के लिए 80 लाख रुपये की ज़रूरत है, जिसमें से 70 लाख जमा हो चुके हैं और 10 लाख की व्यवस्था होनी है. डॉक्टरों ने उनकी सर्जरी के लिए हामी भर दी है और उन्हें डॉक्टरों की देखभाल में रहना होगा. निकोलेट को उम्मीद है कि उनकी कोशिश और हौसला रंग लाएगा और वे दोबारा एक सामान्य ज़िंदगी जी पाएंगी.

    Tags: Bizarre story, Viral news, Weird news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर