होम /न्यूज /अजब गजब /87 साल की दादी ने साबित किया कि पढ़ने की नहीं होती कोई उम्र! दूसरी बार हासिल की M.A. की डिग्री

87 साल की दादी ने साबित किया कि पढ़ने की नहीं होती कोई उम्र! दूसरी बार हासिल की M.A. की डिग्री

सौ.इंस्टाग्राम/vijaythanigasalam: भारतीय मूल की 87 साल की बुज़ुर्ग वरथा शनमुगनाथन का विदेश में बजा डंका, इस उम्र में किया मास्टर्स

सौ.इंस्टाग्राम/vijaythanigasalam: भारतीय मूल की 87 साल की बुज़ुर्ग वरथा शनमुगनाथन का विदेश में बजा डंका, इस उम्र में किया मास्टर्स

भारतीय मूल की कैनेडियन वरथा शनमुगनाथन ने 87 की उम्र में दूसरी बार मास्टर्स डिग्री हासिल कर इतिहास रच दिया. ऐसा करने वाल ...अधिक पढ़ें

पढ़ने लिखने की कोई उम्र नहीं होती यह बात सिर्फ कहने के लिए नहीं होती कुछ लोग इसे गंभीरता से लेते हैं और अपने जज़्बे के बलबूते साबित भी कर दिखाते हैं. लोगों को लगता है कि अधिकांश तर सब चीज़ से 30 आते आते पढ़ाई लिखाई की उम्र खत्म हो जाती है. कॉलेज तो 20-22 की उम्र में ही पूरा हो जाता है. बाकी की उम्र लोग कॉम्पटीशन की तैयारी या फिर रिसर्च जैसे स्टडीज़ में बिता देते हैं. लेकिन 80 पार के बाद भी किसी में एकेडमिक स्टडीज़ का जज्बा कायम हो, ऐसा दुर्लभ ही देखने को मिलेगा. लेकिन 87 साल की भारतीय मूल की दादी अम्मा ने इसे सच कर दिखाया और दुनिया में लोगों के लिए मिसाल बन गई.

भारतीय मूल की कैनेडियन वरथा शनमुगनाथन ने 87 की उम्र में दूसरी बार मास्टर्स डिग्री हासिल कर इतिहास रच दिया. ऐसा करने वाली वो दुनिया की सबसे उम्रदराज़ महिला बन गई है. जिसके लिए उन्हें ओंटारियो विधानमंडल में सम्मानित किया गया. जिसका वीडियो वायरल हो रहा है.

87 साल की दादी अम्मा ने दोबारा हासिल की मास्टर्स की डिग्री
कनाडा की वरथा शनमुगनाथन ने 87 साल की उम्र में अपनी मास्टर्स की डिग्री पूरी की ऐसा कर उन्होंने पूरी दुनिया को चौंका दिया. यह कारनामा उन्होंने अचानक नहीं कर दिखाया. बल्कि पढ़ने को लेकर उनका जज्बा हमेशा से कायम था. बस मौके का इंतजार रहता था. इससे पहले उन्होंने लंदन यूनिवर्सिटी से 50 साल की उम्र में मास्टर्स डिग्री पूरी की थी. और उसके बाद 87 साल की उम्र में दोबारा मास्टर्स की डिग्री हासिल की. जिसके लिए उन्हें हाल ही में ओंटारियो विधान मंडल में प्रांतीय संसद के सदस्यों ने सम्मानित किया. जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर आने के बाद वायरल हो रहा है.

87 साल की उम्र में मास्टर्स कर दूसरों को प्रेरणा दे रही हैं वरथा अम्मा
87 साल की वरथा अम्मा के वीडिओ को विजय थानीगालसम ने अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किया. जो कि स्कारबोरो-रूज पार्क के प्रांतीय संसद के सदस्य और इंफ्रास्ट्रक्चर मिनिस्ट्री के संसदीय सहायक भी हैं. वीडियो पर कैप्शन लिखा है- वरथा अम्मा ने अपने पूरे जीवन में चार अलग अलग महाद्वीपों में पढ़ाई की. अपनी पहली मास्टर डिग्री तक पूरी की जब वो यूनाइटेड किंगडम में लंदन यूनिवर्सिटी के बिर्कबेक कॉलेज में 50 की उम्र में थी. इसके बाद वो 2004 में कनाडा चली गई. 2019 में वरथा अम्मा को पता चला कि यॉर्क यूनिवर्सिटी वरिष्ठों के मास्टर कोर्स शुरू कर रही है, जिसके लिए उनकी बेटी ने प्रोत्साहित किया. 87 साल की वरथा अम्मा के प्रेरणादायी वीडियो को 1.39 लाख लाइक्स मिल चुके हैं. वरथा अम्मा यॉर्क विश्वविद्यालय से मास्टर डिग्री के साथ स्नातक करने वाली सबसे उम्रदराज व्यक्ति और पूरे कनाडा में स्नातक की डिग्री हासिल करने वाली जैसे उम्रदराज महिलाओं में से एक हैं.

Tags: Ajab Gajab news, Inspiring story, Khabre jara hatke, OMG News, Viral on Internet

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें