भाई की शादी में थी बच्चों की 'No Entry', गुस्से में बहन ने कर दिया जाने से इनकार, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ पोस्ट

फोटो: सोशल मीडिया से

फोटो: सोशल मीडिया से

जब महिला ने शादी (Wedding) में जाने से मना किया तो उसकी अन्य बहनों ने भी ये निर्णय लिया कि वो शादी में नहीं जाएंगी क्योंकि उनके भी बच्चे छोटे थे और वो उन सबको 4 दिन तक अकेले नहीं छोड़ना चाहती थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 4:36 PM IST
  • Share this:

घर के किसी जश्न या समारोह में शामिल होने का अलग ही मजा होता है. घर के फंक्शन में जाना खास इसलिए भी होता है क्योंकि वो ऐसा मौका होता है जब आप अपने कंजिन भाई-बहनों और दूर के रिश्तेदारों से मिल सकते हैं. आपने भी अपने घर के किसी फंक्शन में जमकर मौज उड़ाई होगी. परिवार के सदस्यों के साथ रात-रातभर जागकर ढेर सारी बातें की होंगी, नाच-गाना किया होगा और फिर फंक्शन खत्म होने के बाद उन पलों को बहुत मिस भी किया होगा. घर से जुड़े उत्सवों की इसीलिए बात ही कुछ और होती है! मगर सोचिए कि आपके किसी नजीदिक रिश्तेदार के घर पर कोई फंक्शन हो और आप उसमें जाने के लिए काफी उत्सुक रहें मगर जाने से कुछ दिन पहले आपको बताया जाए कि आपको उस उत्सव में अपने छोटे बच्चों के बिना ही आना पड़ेगा तब आप क्या करेंगे? काफी हद तक ये मुमकिन है कि आपको ये बात बहुत बुरी लगेगी और आप अपने बच्चों के बिना उस समारोह में शामिल नहीं होंगे.

महिला ने रेडिट पर शेयर की पूरी बात

ऐसा ही कुछ इस महिला ने भी किया जिसका हम जिक्र करने जा रहे हैं. दरअसल एक महिला ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म रेडिट का इस्तेमाल अपने गुस्से को जाहिर करने के लिए किया है. एक रेडिट यूजर ने पोस्ट में बताया कि उसके भाई की शादी होने वाली थी जिसके लिए वो बहुत उत्साहित थी मगर बाद में उसे पता चला कि उसकी होने वाली भाभी ने शादी में बच्चों की एंट्री पर बैन लगा दिया है. इस बात से महिला काफी निराश हुई. उसने रेडिट पर अपनी निराशा का इजहार किया है. उसने लिखा कि मेरी 3 अन्य बहनें भी हैं और उन सबके बच्चे छोटे हैं. जब मुझे पता चला कि शादी में बच्चों को ले जाने से मना कर दिया गया है तो मेरा शादी में जाने का बिल्कुल भी मन नहीं कर रहा था. महिला ने लिखा कि ये सिर्फ एक दिन का समारोह नहीं था. भाई और उसकी होने वाली पत्नी ने चार दिन के समारोह का इंतजाम किया था जिसमें करीब 6 फंक्शन होने थे. महिला ने कहा कि जब उसे इस बात का पता चला कि वो अपने बच्चों को नहीं ले जा सकती तो उसने भी शादी में जाने से इनकार कर दिया.

reddit
रेडिट पर महिला द्वारा लिखा गया पोस्ट (फोटो: रेडिट से)

जब महिला ने शादी में जाने से मना किया तो उसकी अन्य बहनों ने भी ये निर्णय लिया कि वो शादी में नहीं जाएंगी क्योंकि उनके भी बच्चे छोटे थे और वो उन सबको 4 दिन तक अकेले नहीं छोड़ना चाहती थीं. इसके बाद महिला के दूसरे कजिंस ने भी शादी में आने से मना कर दिया जिनके पास बच्चे थे. महिला ने कहा कि ऐसा करने से परिवार में काफी बात बढ़ गई और लोग नाराज हो गए. महिला के भाई ने उसे फोनकर काफी गुस्सा किया और कहा कि ये सब उसकी वजह से हो रहा है.

महिला को मिला-जुला रिस्पॉन्स मिला

महिला ने अपने पोस्ट में लिखा कि बिना बच्चों के शादी करने में कोई बुराई नहीं है, उसे इस बात से कोई समस्या नहीं है कि शादी बिना बच्चों के हो रही है मगर वो अपने बच्चे से इतने दिन दूर नहीं रहना चाहती इसलिए वो शादी में जाने से इनकार कर रही थी. महिला की होने वाली भाभी अपने निर्णय पर टिकी रही और उसने शादि में बच्चों की एंट्री पर बैन को नहीं हटाया इस वजह से महिला ने भी जाने से मना कर दिया. महिला ने रेडिट पर लोगों से ये जानने की कोशिश की कि क्या उसने सही किया, तो इस बात पर लोगों ने मिला-जुला सुझाव दिया. कई लोग महिला के खिलाफ थे. उनका कहना था कि अगर कोई लड़की अपनी शादी में बच्चों को नहीं बुलाना चाहती तो ये उसका निर्णय है, उसके निर्णय को जबरदस्ती बदलने की क्या आवश्यकता है. वहीं कुछ लोगों ने महिला का सपोर्ट करते हुए कहा कि अगर कोई महिला दूसरे शहर कुछ दिनों के लिए जा रही है तो बच्चों के लिए उसकी चिंता जायज है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज