Home /News /ajab-gajab /

अमेरिकी एक्सपर्ट का दावा-फैक्ट्री में इंसान बना रहे हैं एलियन, हमारे आसपास घूम रहे हैं नकली आदमी

अमेरिकी एक्सपर्ट का दावा-फैक्ट्री में इंसान बना रहे हैं एलियन, हमारे आसपास घूम रहे हैं नकली आदमी

31 साल पहले एलियंस के कैंप से भागे शख्स ने किये सनसनीखेज खुलासे

31 साल पहले एलियंस के कैंप से भागे शख्स ने किये सनसनीखेज खुलासे

अमेरिका (America) के न्यू मैक्सिको (New Mexico) के रेगिस्तान में डल्स बेस (Dulce Base) है. ये बेस काफी विवादित (Controversial) है. दावा किया जाता है कि इस जगह पर एलियंस (Aliens) से जुड़े कई राज दफ़न है. साथ ही यहां एलियंस और यूएफओ (UFO) से जुड़े कई एक्सपेरिमेंट्स भी किये जाते हैं. इस बीच अब एक अमेरिकी एक्सपर्ट ने दावा किया है कि इस बेस पर एलियंस कई पैरों वाले इंसानों को ब्रीड करवा रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...
    काफी समय से दुनिया के कई देश यूएफओ शोध (Research On UFO And Aliens) कर रहे हैं. ये रिसर्चर्स अभी तक एलियंस और यूएफओ पर मिले सबूतों के हिसाब से अपने रिसर्च को आगे बढ़ा रहे हैं. इन सभी शोधों में मेक्सिको के डल्स बेस का जिक्र जरूर होता है. बीते कुछ समय से अमेरिका पर एलियंस और यूएफओ से जुड़ी बातें छिपाने का आरोप लग रहा है. कई अमेरिकी अधिकारियों ने दावा किया है कि उन्होंने कई बार एलियंस और यूएफओ देखे. उन्होंने इसकी जानकारी बड़े अधिकारीयों को दी. लेकिन इन सारी बातों को हमेशा दबा दिया गया.

    अब यूएफओ पर रिसर्च करने वाले एक्सपर्ट्स ने सनसनीखेज दावा किया है. उन्होंने बताया कि जिस न्यू मेक्सिको के डल्स बेस की सच्चाई अमेरिका छिपाता है, वहां असल में एलियंस का राज है. वहां एलियंस ही एक्सपेरिमेंट करते हैं ना कि इंसान. वो पूरा एरिया एलियंस द्वारा कंट्रोल किया जाता है. इसमें से लेटेस्ट एक्सपेरिमेंट है एलियंस द्वारा कई पैरों वाले इंसान को बनाना. जी हां, एलियंस ने कई पैरों वाले इंसान के ब्रीड का निर्माण किया है. इस सीक्रेट को UFO ट्रूथर्स बुक में डिटेल से बताया गया है.

    31 साल पहले भी दी थी चेतावनी
    न्यू मेक्सिको के इस सीक्रेट बेस के बारे में 1990 में भी चर्चा हुई थी. इसे लेट ऑथर कमांडर एक्स ने लिखा था, जिनका असली नाम मिल्टन विलियम कूपर है. उन्होंने द अल्टीमेट डिसेप्शन नाम की इस किताब में लिखा था कि रेगिस्तान का ये सीक्रेट बेस एलियंस द्वारा चलाया जाता है. दरअसल,कूपर का दावा था की वो इस कैंप से बचकर बाहर आ गया था. उसने जो कुछ अंदर देखा उसे किताब में लिखा. इस एरिया को एलियंस से छुड़ाने के लिए अमेरिकी नेवी ने कोशिश की थी. लेकिन तब एलियंस ने 66 सैनिकों को मार डाला था. इनकी बॉडी नहीं मिली थी. इस वजह से कूपर ने अंदाजा लगाया था कि इनके डीएनए के जरिये एलियंस हाइब्रिड बना सकते हैं.

    ऑक्टोपस जैसे इंसान का निर्माण
    कूपर के मुताबिक़, बेस कैंप में एलियंस ने कई पैरों वाले इंसान को बना लिया था. ये ऑक्टोपस जैसे दिखते थे. ऊपर से इंसान लेकिन नीचे से पैर ऑक्टोपस की तरह दिखाई देते हैं. इन्हें पिंजरे में बंद कर रखा जाता था. इसके अलावा भी कई तरह के हाइब्रिड कैंप में बनाए गए हैं. इसमें आधे इंसान और आधे चिड़िया जैसे ब्रीड भी शामिल हैं. एक और दावे के मुताबिक, एलियंस द्वारा बनाए गए हाइब्रिड उन इंसानों के डीएनए से बने हैं, जिन्हें पकड़कर एलियंस कोल्ड स्टोरेज यूनिट में रखते हैं. हालांकि, अमेरिकी सरकार इन सारे आरोपों को नकारती आ रही है. एलियंस और यूएफओ से जुड़ी बातों को काल्पनिक बताती है. अब शायद आगे कभी किसी रिसर्च में असलियत सामने आ जाए, इसका ही इन्तजार किया जा रहा है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर