होम /न्यूज /अजब गजब /अनोखा कैफे जहां काम करते हैं सिर्फ HIV पॉजिटिव लोग, मालिक से लेकर वेटर तक को है एड्स

अनोखा कैफे जहां काम करते हैं सिर्फ HIV पॉजिटिव लोग, मालिक से लेकर वेटर तक को है एड्स

लोगों में जागरूकता फैला रहा कैफ़े पॉजिटिव (इमेज- इंटरनेट)

लोगों में जागरूकता फैला रहा कैफ़े पॉजिटिव (इमेज- इंटरनेट)

भारत के कोलकाता में मौजूद कैफ़े पॉजिटिव ख़ास कारण से चर्चा में है. इस कैफ़े का नाम यूं ही पॉजिटिव नहीं रखा गया है. दरअसल, ...अधिक पढ़ें

दुनिया में काफी समय से एचआईवी को लेकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है. इस वायरस की चपेट में आने के बाद इससे छुटकारा नहीं मिल पाता. हालांकि, दवाइयों और केयर से इससे इन्फेक्टेड इंसान नॉर्मल लाइफ जी सकता है. ये छुआछूत की बीमारी नहीं है. इसके बाद भी समाज आज भी इससे ग्रसित इंसान को हीन भावना से देखता है और उसके साथ भेदभाव करता है. लोगों में जागरूकता लाने के लिए ही कोलकाता में खोला गया कैफ़े पॉजिटिव. इस कैफ़े में काम करने वाला हर इंसान एचआईवी पॉजिटिव है.

कोरोना वायरस को लेकर तुरंत ही सरकार ने लोगों को जागरूक किया. लोग भी समझ गए कि ये वायरस संपर्क में आने से फैलता है. लेकिन कई सालों से दुनिया में लोगों को अपना शिकार बना रहे एचआईवी वायरस के प्रति लोग आज भी अवेयर नहीं हो पाए हैं. ये वायरस छूने से नहीं फैलता. इसके बाद भी संक्रमित शख्स को भेदभाव का सामना करना पड़ता है. लोगों में अवेयरनेस लाने के लिए एक एनजीओ ने कैफ़े पॉजिटिव की शुरुआत की.

भ्रम को करना है दूर
कैफे पॉजिटिव का मुख्य मकसद लोगों को एचआईवी के प्रति जागरूक करना है. इसका मकसद लोगों के मन में बैठी एचआईवी के प्रति भ्रांतियों को दूर करना है. इसके फाउंडर का नाम कल्लोल घोष है. इस कैफ़े में करीब 10 लोग काम करते हैं. सभी एचआईवी पॉजिटिव हैं. इनका काम एकाउंट्स देखना और कस्टमर्स को सर्विस देना है. सबसे ख़ास बात ये है कि कैफ़े की पॉजिटिविटी देख लोग यहां आने से कतराते नहीं है. वीक डेज के अलावा वीक एंड्स पर भी यहां अच्छी खासी भीड़ मिल जाती है.

cafe positive

दुनियाभर में है पहचान
इस कैफ़े की पहचान ना सिर्फ कोलकाता में है, बल्कि दुनिया के कई देशों से टूरिस्ट यहां विजिट करने आते हैं. यहां आने वाले सारे कस्टमर्स को पता है कि इस कैफ़े में सर्विस देने वाले सारे लोग एचआईवी पॉजिटिव हैं. इसके बाद भी वो सारे भ्रांतियों को तोड़ते हुए यहां आकर चाय और स्नैक्स का मजा लेते हैं. एशिया में ये अपने तरह का पहला कैफ़े है. लोग एचआईवी को लेकर जागरूक करने के इस कदम को काफी सराहनीय मानते हैं.

Tags: Ajab Gajab, HIV, Khabre jara hatke, OMG, Weird news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें