• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • प्यारी सी बच्ची की हैं 3-3 मम्मियां ! जन्म की कहानी सुनकर आ जाएंगे आंखों में आंसू

प्यारी सी बच्ची की हैं 3-3 मम्मियां ! जन्म की कहानी सुनकर आ जाएंगे आंखों में आंसू

बड़ी बहन के घर किलकारी न गूंजती देख छोटी बहनों ने कुछ ऐसा किया, जिसे सुनकर लोगों की आंखें नम हो रही हैं. (Credit- Mercury Press )

बड़ी बहन के घर किलकारी न गूंजती देख छोटी बहनों ने कुछ ऐसा किया, जिसे सुनकर लोगों की आंखें नम हो रही हैं. (Credit- Mercury Press )

तीन बहनों (Love of Sisters) के बीच इतना प्यार था कि सबसे बड़ी बहन (Aunties give birth to Niece) के घर जब बच्चे न होने से वो डिप्रेशन में थी, तो दोनों छोटी बहनों ने मिलकर उसके बच्चे को जन्म दिया. बहनों के बीच का ये प्यार अब सुर्खियों में है.

  • Share this:

    कहते हैं रिश्तों से बड़ी कोई पूंजी नहीं है. वो भी प्यार अगर बहनों (Love of Sisters) के बीच हो, तो वे एक-दूसरे के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार रहती हैं. कुछ ऐसा ही प्यार दिखा Sam Bryant नाम की 44 साल की महिला के साथ. जिसके घर में तमाम कोशिशों के बाद भी बच्चे का जन्म नहीं हो पा रहा था. ऐसे में उसकी दो छोटी बहनों ने मिलकर (Aunties give birth to Niece) उसके घर में चिराग को रोशन करने की ज़िम्मेदारी उठा ली.

    साल 2003 में ओवेरियन कैंसर (Ovarian Cancer) की शिकार हुईं Sam Bryant के बच्चे होने की उम्मीद लगभग खत्म हो चुकी थी. उन्होंने 14 बार IVF के ज़रिये बच्चा पाने की कोशिश की, लेकिन सब कुछ बेकार चला गया. उनके सारे प्रयास फेल होने के बाद सैम की दो छोटी बहनों ने उनका साथ दिया और अपनी बड़ी बहन की प्यारी सी बेटी को जन्म देकर (Aunties give birth to Niece) उनकी दुनिया खुशियों से भर दी.

    लाखों बर्बाद करके भी नहीं हो पाया बच्चा
    Sam Bryant और उनके पति Ben कई सालों से कोशिश कर रहे थे कि उनका परिवार बढ़ सके. उन्हें साल 2003 में ओवेरियन कैंसर होने की बात पता चली, तब से वो IVF के ज़रिये बच्चे पैदा करना चाहते थे. लाखों रुपये खर्च होने के बाद भी उन्हें कामयाबी नहीं मिल पा रही थी. उनकी एक दोस्त ने उन्हें एग्स भी डोनेट किए, लेकिन इससे भी बात नहीं बनी. आखिरकार उनके इस बुरे दौर को दूर करने में उनकी दो छोटी बहनें साथ आईं और उन्होंने सैम को वो खुशी दी जिसका उन्हें कई सालों से इंतज़ार था.

    ये भी पढ़ें- बेटे के दोस्त से परेशान मां ने बुला ली पुलिस, कहा- ‘इसे घर छोड़कर आइए प्लीज़’

    एक बहन ने डोनेट किया एग, दूसरी बनी सरोगेट
    सैम की दोनों बहनों की उम्र 40 साल और 27 साल है. ऑस्ट्रेलिया की रहने वाली इन तीन बहनों की कहानी वाकई इमोशनल है. छोटी बहन निकिता ने अपने एग्स डोनेट किए, जबकि 40 साल की रशेल अपनी बहन के लिए सरोगेट मदर बनीं. एक IVF फेल होने के बाद, उन्हें दूसरे प्रयास में सफलता मिल गई और सैम को स्टार्ला नाम की छोटी सी बच्ची मिली. अब स्टार्ला की उम्र 4 साल हो चुकी है और उसकी तीन-तीन मांएं हैं. बच्ची को अपनी दोनों ही मौसियों से बेहद प्यार है, क्योंकि उनसे उसका बेहद स्पेशल रिश्ता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज