• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • गजब ! कोरोना के चलते बंद पड़ गई थीं टैक्सियां, ड्राइवर्स ने छत पर उगा डाले बैंगन-टमाटर और खीरे

गजब ! कोरोना के चलते बंद पड़ गई थीं टैक्सियां, ड्राइवर्स ने छत पर उगा डाले बैंगन-टमाटर और खीरे

 करीब 2 साल से खड़ी टैक्सियों की छत पर ड्राइवर्स ने टेरिस गार्डन (Car roof garden) बना लिया है.

करीब 2 साल से खड़ी टैक्सियों की छत पर ड्राइवर्स ने टेरिस गार्डन (Car roof garden) बना लिया है.

Coronavirus के दौरान बंद पड़ गईं करीब 2500 टैक्सियों को ड्राइवर्स (Idle Taxies are being used for growing vegetables) ने अनोखे काम में ले लिया है. इन टैक्सियों की छत पर हरी सब्ज़ियां (Vegetable growing on car roof) पैदा की जा रही हैं. ये अनूठा प्रयोग इस वक्त दुनिया भर की सुर्खियों में है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    आमतौर पर टैक्‍सी या कार की छत (Car Roof) पर ड्राइवर्स यात्रियों का सामान रखते हैं, लेकिन थाइलैंड के 2 टैक्‍सी कोऑपरेटिव समितियों ने कार की छत का अलग ही इस्तेमाल किया है. करीब 2 साल से खड़ी टैक्सियों की छत पर ड्राइवर्स ने टेरिस गार्डन (Car roof garden) बना लिया है और उस पर सब्जियां (Vegetables) उगा डाली है.

    जो भी इतने बड़े पैमाने पर खड़ी हुई टैक्सियों के ऊपर टमाटर, बैंगन और खीरे की फसल देख रहा है, उसे अजीब ज़रूर लग रहा है, फिर भी इस नए प्रयोग की दाद देनी पड़ेगी. को ऑपरेटिव समितियों की ओर से किए जा रहे प्रयोग से टैक्सी ड्राइवर्स को थोड़ा बहुत फायदा तो हो ही रहा है, भले ही वो पहले जैसा मुनाफा नहीं कमा पा रहे हैं.

    टैक्सी की छत पर लहलहा रही है फसल
    दोनों टैक्‍सी संगठनों ने खड़ी टैक्सियों की छत को किसी खेत की तरह इस्तेमाल किया है. उन्होंने टैक्‍सी की छत पर बांस की मदद से बाउंडरी बनाई और फिर कचरा फेंकने में इस्‍तेमाल होने वाली प्‍लास्टिक बिछाकर उस पर मिट्टी फैलाई है. इस पर खाद वगैरह डालकर उन्‍होंने टमाटर, खीरे और बीन्स जैसी सब्जियों के पौधे लगाए हैं. इस सबके बाद कारों की भीड़ में भी इन संगठनों की कारें अलग नजर आती हैं. थाइलैंड की सड़कों पर अब भी कारों की संख्या कम ही है, जबकि हज़ारों की संख्या में ये कारें खड़ी ही नज़र आ रही हैं.

    ये भी पढ़ें- 73 करोड़ के लिए शख्स ने अपने ही मर्डर की सुपारी दी, कहानी सुनकर जज ने दिया कुछ ऐसा फैसला …

    कोरोना काल में हुए नुकसान की भरपाई
    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कार की छत पर खेती करने का ये आइडिया इन दोनों संगठनों ने इसलिए लगयाा, ताकि सबका ध्यान कोरोना वायरस के कारण पैदा हुए आर्थिक संकट की ओर जा सके. कोरोना वायरस के कारण टैक्‍सी ड्राइवर्स को बहुत नुकसान हुआ है. उन्‍हें पैसेंजर बुकिंग नहीं मिल रही है. ज्यादातर ड्राइवर्स कोरोनाकाल में ही अपनी कारें सरेंडर करके गांव चले गए. जो ड्राइवर बचे भी थे, वे कोरोना की दूसरी और तीसरी लहर के दौरान नौकरी छोड़कर जाते रहे. यही वजह है कि अब बैंकॉक की सड़कों पर टैक्सियां भी कम हैं और किराये को लेकर प्रतिस्पर्धा भी ज्यादा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज