• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • ढाई करोड़ साल पहले जंगल में था 'हाथी का बाप', 23 फीट ऊंचे जानवर का था 20 टन वजन

ढाई करोड़ साल पहले जंगल में था 'हाथी का बाप', 23 फीट ऊंचे जानवर का था 20 टन वजन

तिब्बती पठार के जंगलों पर राज करता था विशाल गैंडा. (Photo Credit- CAS)

तिब्बती पठार के जंगलों पर राज करता था विशाल गैंडा. (Photo Credit- CAS)

इस जीव (Giant Rhino) की खोज वैज्ञनिकों को साल 1980 से ही थी, अब जाकर इसका पता चला है. अगर ये इस वक्त जंगल में होता तो हाथी (Elephant) के सर पर सबसे बड़े स्तनधारी जानवर (Biggest Mammal on the Earth) का ताज न होता.

  • Share this:
    जंगल के सबसे बड़े और वजनदार जानवरों का नाम लेते ही पहला नाम हाथी (Elephant) का आता है. ये बात अलग है कि अब से लाखों-करोड़ साल पहले एक ऐसा जानवर (Giant Rhino) जंगल में था, जो हाथी से भी बड़ा होता था. उसका वजन हाथी का तीन गुना था और गर्दन इतनी लंबी कि जिराफ भी शरमा जाए. आपकी सहूलियत के लिए बता दें कि हम डायनासोर की बात बिल्कुल नहीं कर रहे.

    ये जानवर चीन और तिब्बत के पठारों में पाया जाता था. देखने में ये गैंडे की तरह था और इसे प्राचीन गैंडा ही माना गया है. अब तक इसकी प्रजाति का पता नहीं था, लेकिन पुरातत्व जीव वैज्ञानिकों ने इसकी खोज चीन में की है. चीन के गांसू प्रांत में मौजूद लिनजिया बेसिन में इस विशालकाय गैंडे के अवशेष मिले हैं. इन अवशेषों की उम्र करीब 2.65 करोड़ साल पुरानी है.

    जंगल पर था विशाल गैंडों का राज
    मान जा रहा है कि तिब्बत के पठारों में इन गैंडों का ही राज था. चाइनीज़ एकेडमी ऑफ साइंसेज़ (Chinese Academy of Sciences) के वैज्ञानिक ताओ डेंग और उनकी टीम ने इस ऐतिहासिक जीव को खोज निकाला है. विशालकाय गेंडे जैसे दिखने वाले इस जीव को इंड्रीकोथर्रस (Indricotheres) भी कहते हैं. वैज्ञानिकों ने गैंडे की अनोखी प्रजाति को पैरासेराथेरियम लिनलियानीज (Paraceratherium Linxiaense)का वैज्ञानिक नाम भी दिया है. इस जीव की खोज वैज्ञनिकों को साल 1980 से ही थी, जो अब जाकर अवशेष के तौर पर मिल पाया है.

    ये भी पढ़ें- बीवी को मारकर पति करता रहा इमोशनल ड्रामा, पुलिस भी रही कनफ्यूज़, फिर मिला 'असली' सबूत 

    गैंडों जैसी नहीं थी संरचना
    भले ही इस जीव को विशालकाय गैंडों (Giant Rhino) से जोड़कर देखा जा रहा है, लेकिन ये पूरी तरह से गैंडों जैसा नहीं था. इसकी सींग अब दिखने वाले गैंडों जैसी बिल्कुल नहीं थी, बल्कि इसकी खोपड़ी घोड़ों की तरह पतली थी. इनकी गर्दन कुछ-कुछ जिराफ जैसी थी और ये ऊंची टहनियों पर मौजूद पत्तों और फलों को खाते थे. ये आम तौर खुले जंगलों में मिलते थे. वैज्ञानिकों को इस जानवर की हड्डियां, जबड़े और खोपड़ी सुरक्षित तौर पर मिली हैं. ये 23 फीट ऊंचा और 21 टन वजन वाला माना जा रहा है. अब तक 2.65 करोड़ साल पहले ये धरती का सबसे बड़ा स्तनधारी जीव रहा होगा. ये हाथियों से भी बड़े होते रहे होंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज