Home /News /ajab-gajab /

boys attacked woman for not telling about instagram account misbehaved by being surrounded in a moving train shitri

इंस्टाग्राम अकाउंट के बारे में न बताने पर महिला पर लड़कों ने किया हमला, चलती ट्रेन में घेरकर की बदसलूकी

सौ.इंटरनेट- सैकड़ों की भीड़ के बीच महिला होती रही छेड़छाड़ का शिकार, मदद के लिए नहीं बढ़े हाथ

सौ.इंटरनेट- सैकड़ों की भीड़ के बीच महिला होती रही छेड़छाड़ का शिकार, मदद के लिए नहीं बढ़े हाथ

इंग्लैंड के ब्रिस्टल (Bristol, England) 26 साल की महिला के साथ यात्रियों से भरी चलती ट्रेन में बदसलूकी की गई. कम उम्र के लड़कों ने महिला को चारों ओर से घेरा फिर उसे जगह-जगह छू कर परेशान करने लगे. लड़कों ने महिला का इंस्टाग्राम अकाउंट जानने के लिए इतनी बद्तमीज़ी की. हैरानी तब हुई जब किसी ने उसकी मदद नहीं की.

अधिक पढ़ें ...

भारत में महिलाओं के साथ बदसलूकी और अत्याचार की खबरे बेहद आम हो गई है. कभी दिन ढलने के बाद तो कई बार दिन को उजाले में भी अपराधी अपनी गंदी हरकतों से बाज़ नहीं आते यही वजह है की देश के कई इलाकों में लड़कियों का अकेले बाहर निकलना मुश्किल हो गया है. हर वक्त किसी अनहोनी की चिंता सताती रहती है. लेकिन ऐसी घटनाएं आधुनिक और विकसित देशों में भी खुलेआम होने लगे तो आश्चर्य होता है.

घटना इंग्लैंड के ब्रिस्टल (Bristol, England) की है, जहां 26 साल की महिला के साथ यात्रियों से भरी चलती ट्रेन में कुछ लड़कों ने जी भरकर बदसलूकी की. डेली स्टार की खबर के मुताबिक, कम उम्र के लड़कों ने महिला को चारों ओर से घेरकर उसके शरीर को जगह-जगह छूना शुरु कर दिया. कभी चेहरा, कभी गर्दन, कभी होठ तो कभी कान पर उंगलियां फेर कर वो लड़के उसे शर्मसार कर रहे थे. और तो और एक ने उसे चाकू मारने की धमकी भी दी. इतना सबकुछ भीड़ भरी ट्रेन में होता रहा लेकिन न तो किसी यात्री ने न ही ट्रेन स्टाफ ने उसकी कोई मदद नहीं की. इतना सबकुछ उन लड़कों ने महिला से उसका इंस्टाग्राम अकाउंट जानने के लिए किया.

woman harassed

सौ.इंटरनेट- GWR स्टाफ ने सबकुछ देखते हुए भी कोई कार्रवाई नहीं की, खुद को मुसीबत में न डालने का दिया हवाला

भीड़ के बीच अकेली और असहाय हो गई महिला
ब्रिस्टल लाइव से बातचीत के दौरान 26 साल की डेनिएल क्लार्क ने बताया कि कैसे वो भीड़ के बीच होकर भी अकेली और असहाय महसूस कर रही थी. रविवार, 3 अप्रैल को शाम 5 बजे वो फ्रॉम से ब्रिस्टल टेम्पल मीड्स की ओर जा रही थी तभी मात्र 12 से 14 साल की उम्र के बीच के उन लड़कों ने क्या किया. आसपास सभी मूकदर्शक बने रहे जिसका पूरा फायदा उन लड़कों ने उठाया. सबकी चुप्पी से उनका हौसला और बढ़ गया. आखिर में टिकट चेक करने आए एक स्टाफ ने सभी लड़कों से अगले स्टॉप पर उतरने को कहा और महिला से टिकट मांग कर चलते बना.

लड़के उसे यहां-वहां छूते रहे और लोग देखते रहे
जब डेनियल ट्रेन से उतरने लगी तो उसने रेलवे (GWR) स्टाफ मेंबर से पूछा कि उसने उसकी मदद क्यों नहीं की? इसके जवाब में स्टाफ ने माफी मांगते हुए कहा कि वो लड़कों से दुश्मनी मोल लेकर किसी मुसीबत में नहीं पड़ना चाहता था क्योंकि इससे पहले भी उसके साथ काम के दौरान मारपीट की घटना हो चुकी थी. बाद में डेनियल को परेशान और रोता हुआ देखकर एक स्टाफ ने उसे पुलिस ऑफिस भेजा जहां लड़कों के खिलाफ कंप्लेन दर्ज की गई. वहीं GWR प्रवक्ता ने उनकी ट्रेन में महिला के साथ ऐसे दुर्व्यवहार पर अफसोस जताया. इन सबके बीच ध्यान देने वाली बात ये रही कि जिस घटना का ज़िक्र किया गया वो घटना भारत नहीं बल्कि इंग्लैंड जैसे देश की है. जहां महिलाएं यहा कि तरह कमज़ोर और अबला नहीं समझी जाती. फिर भी ऐसी असुरक्षा ने डेनियल को अंदर तक झकझोर दिया है.

Tags: Crime Against woman, Crime News, Shocking news, Weird news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर