• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • Corona Vaccine ने खराब कर दी ज़िंदगी ! अब सरकार से मुआवज़ा मांग रहा है शख्स

Corona Vaccine ने खराब कर दी ज़िंदगी ! अब सरकार से मुआवज़ा मांग रहा है शख्स

Joseph Robinson का दावा है कि Corona Vaccination के बाद ही उन्हें तमाम बीमारियां हुईं. (Credit- The Sun)

Joseph Robinson का दावा है कि Corona Vaccination के बाद ही उन्हें तमाम बीमारियां हुईं. (Credit- The Sun)

ब्रिटेन (Britain) के 32 साल के शख्स ने AstraZeneca वैक्सीन (Corona Vaccine) लगवाई थी, जिसके बाद उसे Speech Impairment के साथ Memory Loss की भी दिक्कत हुई.

  • Share this:
    Corona Vaccination के बाद ब्रिटेन के एक युवक के साथ जो हुआ, वो डराने वाला है. युवक का कहना है कि Corona Vaccine लगवाने के बाद ही उसके शरीर में तमाम तरह की दिक्कतें आने लगीं. आखिरकार वैक्सीन के साइ़ड इफेक्ट (Side Effects Of Corona Vaccine) के चलते उसकी नौकरी भी चली गई और अब लड़का सरकार से मुआवज़े की मांग कर रहा है.

    ब्रिटेन के रहने वाले 32 साल के जोसेफ रॉबिन्सन (Joseph Robinson) ने कोरोना से बचने के लिए AstraZeneca की वैक्सीन ली थी. इसके उनके ब्रेन में अल्ट्रा रेयर ब्लड क्लॉट बनने लगे और देखते ही देखते उनकी याददाश्त काफी कमज़ोर हो गई. इसके बाद बोलने में भी दिक्कत हुई और उन्हें इसी की वजह से नौकरी से भी निकाल दिया गया.

    युवक ने मांगा सरकार से हर्जाना
    The Sun के मुताबक जोसेफ रॉबिन्सन (Joseph Robinson) का जीवन वैक्सीन के चलते बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. अब उन्होंने अदालत में अपील करते हुए सरकार से मुआवज़े की मांग की है. उनका दावा है कि कोरोना की वैक्सीन लगवाने के बाद भी उन्हें बोलने और याददाश्त में दिक्कत महसूस हुई. अब उनकेपास कमाई का ज़रिया भी नहीं है. जोसेफ की ही तरह 145 और लोग भी हैं, जिन्होंने सरकार से वैक्सीन के दुष्प्रभावों के चलते मुआवज़ा मांगा है. जोसेफ सरकार पर भी मदद न करने का आरोप लगाते हुए कहते हैं कि उनकी नौकरी बिना किसी गलती के चली गई और अब वे रोटी को भी तरस रहे हैं. ऐसे में सरकार ने उनकी मदद करने के बजाय उन्हें अकेला छोड़ दिया है. ये लोग वैक्सीन डैमेज पेमेंट स्कीम (VDP) के तहत £120,000 के हर्जाने की मांग कर रहे हैं. 1979 में ये नियम शुरू किया गया था, इसके तहत आवेदन करने वालों को वैक्सीन के बाद 60 फीसदी की विकलांगता शामिल करनी पड़ती है.

    ये भी पढ़ें- Internet Speed: Japan की धुआंधार Technology,सेकेंड भर में ट्रांसफर होंगी 10 हजार HD फिल्में 

    Leigh Day दे रही हैं जोसेफ का साथ
    जोसेफ रॉबिन्सन और उनके जैसे अन्य लोगों की लड़ाई लॉ फर्म हेड Leigh Day लड़ रही हैं. सॉलिसिटर जाहरा नानजी (Solicitor Zahra Nanji) ने कहा कि सरकार को पीड़ितों और उनके परिवारों की आर्थिक देखभाल का ज़िम्मा उठाना चाहिए. ब्रिटेन में AstraZeneca वैक्सीन से खून के थक्के जमने को लेकर 400 केस रिपोर्ट किए गए थे. Joseph Robinson का कहना है कि उन्हें टीके की वजह से Thrombotic Thrombocytopenic नाम की रेयर कंडीशन का सामना करना पड़ रहा है. इससे उन्हें याददाश्त की कमी और बोलने में समस्या हुई और उन्हें नौकरी से भी निकाल दिया गया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज