• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • पुरुषों को नामर्द बना रहा है कोरोना वायरस, स्टडी में किया गया दावा- वैक्सीन करेगी बचाव

पुरुषों को नामर्द बना रहा है कोरोना वायरस, स्टडी में किया गया दावा- वैक्सीन करेगी बचाव

Coronavirus से उबरने के बाद पुरुषों में एक अलग तरह की समस्या देखने को मिल रही है.

Coronavirus से उबरने के बाद पुरुषों में एक अलग तरह की समस्या देखने को मिल रही है.

Coronavirus यूं तो इंसान के शरीर पर तमाम कुप्रभाव डालता है, लेकिन ताज़ा स्टडी में ये दावा किया गया है कि ये वायरस पुरुषों में नपुंसकता (Erectile Dysfunction) को भी जन्म दे रहा है.

  • Share this:
    Coronavirus ने हर इंसान को अपनी तरह से प्रभावित किया है. किसी की नौकरी गई तो किसी ने अपने चले गए. कुछ लोग बेहद तनाव में ज़िंदगी जीने लगे. इसी बीच ब्रिटेन के क्लीवलैंड क्लिनिक के एक Urologist ने दावा किया है कि कोरोना के चलते पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन (Erectile Dysfunction) यानि आम भाषा में नपुंसकता के भी केस आ रहे हैं.

    वेबसाइट Dailymail में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक करीब 20 फीसदी पुरुषों में इस तरह की समस्या देखी गई. स्टडी में शामिल किए गए ये वो लोग थे, जिन्हें कोरोना वायरस लग चुका था. इस रिपोर्ट के मुताबिक करीब 20 फीसदी पुरुष कोरोना सर्वाइवर्स ऐसे थे, जिन्हें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन (Erectile Dysfunction) की शिकायत थी. आमतौर पर ये समस्या 40 साल से ज्यादा उम्र वाले पुरुषों में देखी जाती है, लेकिन स्टडी में शामिल किए गए 33 साल के पुरुषों में भी ये समस्या सामने आई.

    क्या कहती है स्टडी?
    ब्रिटेन के क्लीवलैंड क्लिनिक (Cleveland Clinic) के मूत्र रोग विशेषज्ञ Dr Ryan Berglund ने कहा कि कोरोना के दौरान मायोकार्डिटिस यानि हृदय की मांसपेशियों की सूजन के कारण भी पुरुषों में ये समस्या आ सकती है. हालांकि इस पर अभी और रिसर्च की ज़रूरत है. स्टडी बताती है कि Covid-19 की वजह से Inflamed blood vessels प्रभावित होती हैं, जो इस समस्या को जन्म देती हैं. ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित ने के चलते पुरुषों की सेक्स लाइफ पर इसका असर पड़ने लगता है. ऑक्सीजन का स्तर कम होना और हेल्दी सेल्स को नुकसान पहुंचना भी इसकी वजह है. स्टडी में पाया गया कि कोरोना वायरस (Coronavirus) इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile Dysfunction) की समस्या को 20 फीसदी तक बढ़ा सकता है. महामारी के शुरुआती चरण में दर्जनों पुरुषों में नपुंसकता के पीड़ित होने के केस सामने आए.

    ये भी पढ़ें- 5वीं के बच्चों को मुफ्त कंडोम बांट रही है सरकार, बैग में किताबों के साथ रखकर ले जा सकेंगे घर

    और भी बीमारियों को जन्म दे सकता है Erectile Dysfunction
    Dailymail की रिपोर्ट के मुताबिक मार्च में हुई स्टडी में पाया गया कि कोरोना संक्रमित पुरुषों में नपुंसकता की संभावना तीन गुना बढ़ जाती है, जबकि मई में हुए शोद कहते हैं कि करीब 6 महीने में पुरुष ठीक हो सकते हैं. हालांकि डॉक्टर्स कहते हैं कि इस समस्या को हल्के में नही लेना चाहिए, क्योंकि इससे दूसरी और बीमारियां हो सकती हैं. खास तौर पर ये समस्या हार्ट प्रॉब्लम से भी जु़ड़ी हुई हो सकती है. स्टडी में 33 साल की उम्र के ही पुरुषों को शामिल किया गया था. इनमें 28 फीसदी कोरोना प्रभावित पुरुषों में Erectile Dysfunction पाया गया. मयामी यूनिवर्सिटी के डॉक्टर जनिनी की मानें तो इस समस्या से बचने का सबसे असरकारी उपाय वैक्सीन लगवाना है. SARS-CoV-2 को Men Genital में भी पाया गया है, ऐसे में वैक्सीन से इसका बचाव संभव है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज