होम /न्यूज /अजब गजब /

खूंटे से बंधे-बंधे खेत में घूम आती है गाय, खुशी के मारे देती है कहीं ज्यादा दूध !

खूंटे से बंधे-बंधे खेत में घूम आती है गाय, खुशी के मारे देती है कहीं ज्यादा दूध !

 वैज्ञानिकों ने गायों के लिए एक चमत्कारी हेडसेट तैयार कर लिया है, जिससे वे बाड़ में बंधे-बंधे ही बाहर घूमने की खुशी हासिल कर सकेंगी. (सांकेतिक तस्वीर)

वैज्ञानिकों ने गायों के लिए एक चमत्कारी हेडसेट तैयार कर लिया है, जिससे वे बाड़ में बंधे-बंधे ही बाहर घूमने की खुशी हासिल कर सकेंगी. (सांकेतिक तस्वीर)

जानवरों को अगर किसी एक जगह कैद करके रख दिया जाए तो वे ज़ाहिर तौर पर खुश नहीं रहेंगे. ऐसे में अब वैज्ञानिकों (Scientists made virtual reality headset for cows) ने उनकी खुशी का ऐसा ज़रिया निकाल लिया है, जो खूंटे से बंधे-बंधे उन्हें प्रसन्न रखेगा.

अधिक पढ़ें ...

चाहे इंसान हों या जानवर, दोनों को ही एक जगह पर कैद रखा जाए तो उनकी खुशी खत्म हो जाती है और स्वभावत: दुखी रहने लगते हैं. इसका असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ता है. वैज्ञानिकों ने इसका तोड़ निकालते हुए एक ऐसी तकनीक तैयार की है, जिससे गायें खूंटे पर बंधे-बंधे ही हरे-भरे मैदानों की सैर (virtual reality headset for cows) कर आएंगी.

रुस की राजधानी मॉस्को (Moscow, Russia) के वैज्ञानिकों ने गायों के लिए एक चमत्कारी हेडसेट तैयार कर लिया है, जिससे वे बाड़ में बंधे-बंधे ही बाहर घूमने की खुशी हासिल कर सकेंगी. हेडसेट पहनते ही वे हरे-भरे मैदान में घूमने और चरने का एहसास कर सकेंगी और खुश हो जाएंगी. इतना ही नहीं, इससे उनकी दूध देने की क्षमता पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

Headset पहनते ही बदल जाएगी दुनिया
यूं तो रशियन वैज्ञानिकों ने ये वर्चुअल रियलिटी हेडसेट साल 2019 में ही तैयार कर लिया था, लेकिन 2 साल बाद इसे तुर्की के एक पशुपालक इज्ज़ेक कोकक ने अपनी गायों पर इस्तेमाल किया है. The Sun की रिपोर्ट के मुताबिक इस प्रयोग के बाद इज्ज़ेक की गायों की दूध देने की क्षमता पर काफी अच्छा प्रभाव पड़ा है. वे जहां पहले 22 लीटर दूध देती थीं, अब 27 लीटर दूध देने लगी हैं. इज्ज़ेक को इस प्रयोग से जो नतीजा मिला, वे उससे काफी खुश हैं और उन्होंने 10 और हेडसेट अपनी गायों के लिए मंगाया है. इज्ज़ेक के मुताबिक गायों को वर्चुअल रियलिटी सेट के ज़रिये हरे-हरे मैदान दिखते हैं और वे भावनात्मक रूप से खुश हो जाती हैं.

ये भी पढ़ें- बेवफा मर्दों की पोल खोलती है मॉडल, बदले में मिलती हैं हत्या की धमकियां !

गायों को खुश करने के और भी तरीके
इज्ज़ेक को इस वर्चुअल रियलिटी हेडसेट से तो फायदा हुआ ही है, इससे पहले भी उसने अपने जानवरों को खुश रखने के और भी तरीके अपनाए हैं. उसने अपनी गायों को शास्त्रीय संगीत सुनाकर खुश किया था, जिससे उनकी दूध देने की क्षमता बढ़ी थी. रूस के कृषि मंत्रालय का कहना है कि उन्हें नीले और हरे रंगों के बजाय लाल रंग ज्यादा पसंद है, जिससे उनका तनाव कम होता है. लोगों ने इस प्रयोग की तुलना फिल्मों से भी की है और कहा है कि ये इंसानों के वर्चुअल रियलिटी में रहने जैसा ही है.

Tags: Cow, OMG News, Science news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर