Home /News /ajab-gajab /

do you know about contagious yawning know the science behind it pratp

एक को देखकर दूसरे को क्यों आने लगती है उबासी ? क्या है इसके पीछे का विज्ञान

इसका कनेक्शन सिर्फ नींद से नहीं है बल्कि कई दिलचस्प वजहें जम्हाई के पीछे काम करती हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

इसका कनेक्शन सिर्फ नींद से नहीं है बल्कि कई दिलचस्प वजहें जम्हाई के पीछे काम करती हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Contagious Yawning Behavior : एक शख्स को जम्हाई लेते देखकर दूसरे को भी उबासी आ जाती है, लेकिन आखिर ऐसा क्यों होता है ? इसके पीछे की भी वजह वैज्ञानिकों ने बताई है, चलिए जानते हैं इससे जुड़े कुछ दिलचस्प तथ्य.

आपने भी इंसान का एक अजीबोगरीब व्यवहार नोटिस किया होगा. मसलन अगर हम किसी जगह बैठे हैं और किसी एक को उबासी लेते देखेंगे तो धीरे-धीरे तभी को उबासी आने लगती है. क्या ये सिर्फ इसलिए होता है कि हम बोर हो रहे हैं या फिर इसके पीछे की कोई विज्ञान है? आपको जानकर हैरानी होगी कि इसका कनेक्शन सिर्फ नींद से नहीं है बल्कि कई दिलचस्प वजहें जम्हाई के पीछे काम करती हैं.

इस तथ्य पर कई वैज्ञानिक रिसर्च कर चुके हैं. प्रिंस्टन यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट बताती है कि उबासी का कनेक्शन हमारे दिमाग से होता है. काम करने के दौरान हीट हो गए दिमाग को ठंडा करने के लिए जम्हाई या उबासी आती है. इससे शरीर का तापमान नियत हो जाता है. यही वजह है कि सर्दियों में ऑक्सीजन की ज़्यादा ज़रूरत पड़ती है और उबासी ज्यादा आती है.

एक को देख दूसरे को क्यों आती है उबासी ?
साल 2004 में म्यूनिख की साइकियाट्रिक यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल की रिसर्च बताती है कि उबासी संक्रमण फैलाती है. करीब 300 लोगों पर की गई रिसर्च में 50 फीसदी लोग ऐसे थे, जो दूसरे को देखने के बाद उबासी लेने लगे. वैज्ञानिकों का मानना है कि जब किसी को उबासी लेते हुए इंसान देखता है, तो उसका मिरर न्यूरॉन सिस्टम एक्टिव हो जाता है और वो उसे नकल के लिए प्रेरित करता है. यही वजह है कि अगले को देखकर उबासी लेने का मन करने लगता है. इतना ही नहीं एक ताज़ा स्टडी ये भी कहती है कि जिन लोगों का मस्तिष्क ज्यादा काम करता है, उन्हें उबासी भी लंबी आती है. इसका थकान से ज्यादा संबंध मस्तिष्क को ठंडा करने से है.

yawning, yawning science, Contagious Yawning Behaviour, Contagious Yawning, Science News, science behind Yawning, Weird Behaviour, Science News, Amazing Facts, Science Fact

जिन लोगों का मस्तिष्क ज्यादा काम करता है, उन्हें उबासी भी लंबी आती है. (सांकेतिक तस्वीर)

जानने वाले को देखकर ही आती है उबासी
Professor Andrew C. Gallup की एक ताज़ा रिसर्च Animal Behaviour नाम के जर्नल में प्रकाशित हुई है. इस रिसर्च में गैलप कहते हैं कि एक को देखकर दूसरे को आने वाली उबासी सिर्फ उन समूहों में होती है, जो सामाजिक रूप से एक दूसरे को जानते हैं. साल 2020 में हुई एक स्टडी में भी देखा गया था कि हाथी के साथ रहने वाले महावत जब उबासी लेते थे, जो हाथी भी उबासी लेते थे, क्योंकि वे उनसे सामाजिक तौर पर जुड़े हुए थे. ये प्रक्रिया शैशवकाल के बाद शुरू होती है, जब बच्चों का दिमाग सामाजिक तौर पर सक्रिय हो जाता है.

Tags: Amazing facts, Science facts, Weird news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर