Home /News /ajab-gajab /

do you know history of golgappas who first made tasty water balls sankri

आखिर सबसे पहले किसने किसको बनाकर खिलाए थे गोलगप्पे? जानें कहां से हुई थी शुरुआत

पुराण में भी है गोलगप्पों का जिक्र (इमेज- इंटरनेट)

पुराण में भी है गोलगप्पों का जिक्र (इमेज- इंटरनेट)

भारत में गोलगप्पे चाव से खाए और खिलाए जाते हैं. फूली पूरियों के बीच मसाले की स्टफिंग और फिर उसमें चटपटा पानी भर दिया जाता है. लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि गोलगप्पे का इतिहास क्या है?

भारत में शायद ही कोई शख्स होगा जो गोलगप्पा खाना पसंद न करे. गोलगप्पे के फैंस नॉर्थ से लेकर साउथ इंडिया तक में मौजूद हैं. इसे कई नामों से जाना जाता है. कहीं इसे गोलगप्पे कहते हैं तो कहीं इसे फुचका कहा जाता है. इस टेस्टी स्ट्रीट फ़ूड को हर कोई पसंद करता है. लेकिन क्या आप इस टेस्टी स्ट्रीट फ़ूड का इतिहास जानते हैं? आखिर इसकी शुरुआत कैसे हुई और सबसे पहले किसने इसे किसको खिलाया? आज हम आपको इन गोलगप्पों का चटपटा इतिहास बताने जा रहे हैं.

भारत में कई तरह के इंग्रीडिएंट से गोलगप्पे बनाए जाते है. इसमें मैदा, सूजी और आटा शामिल है. इनकी छोटी-छोटी पूरियां बनाई जाती है और फिर इसके अंदर मसाले स्टफ किये जाते हैं. आखिर चटपटा पानी भरकर इसे खाया जाता है. लेकिन आज जो गोलगप्पे हर तरफ बिकते हैं, उनका इतिहास आज का नहीं है. इनकी हिस्ट्री करोड़ों साल पुरानी है. ना सिर्फ हिस्ट्री में बल्कि इनका इतिहास पौराणिक भी है. आज हम आपको दोनों ही तरह के इतिहास की जानकारी देंगे.

पुराणों में शामिल है गोलगप्पे
जी हां, आपको ये जानकर हैरानी होगी कि जिन गोलगप्पों को आज आप सड़क पर आराम से खाते हैं, उसका इतिहास पुराण में मेंशन किया गया है. पौराणिक कहानियों पर विश्वास करें तो गोलगप्पे को सबसे पहले द्रौपदी ने पांडवों को बनाकर खिलाया था. कहा जाता है कि जब पांडव वनवास में थे, तब घर में खाने के लिए काफी कम सामान मौजूद था. ऐसे में कुंती ने अपनी बहु की घर चलाने की कुशलता को परखने के लिए उसे थोड़ा सा आता और कुछ सब्जियां दी. चैलेंज था इसी से पांडवों का पेट भरने का. ऐसे में द्रौपदी ने गोलगप्पे बनाए और पांडवों का पेट भर दिया.

golgappas history

400 साल पहले का है इतिहास
अब अगर आपको पुराणों में यकीन नहीं है तो एक थियोरी के मुताबिक़, इसका संबंध मगध काल से है. मगध के राजा ने इसे तीन से चार सौ साल पहले भारत में बनवाया था. इसे भारत में अलग-अलग नामों से जाना जाता है. कहीं ये गोलगप्पे हैं तो कहीं ये पानी पूरी. कहीं इनका नाम फुचका है तो कहीं इसे पानी बताशा कहते हैं. इसका स्वाद भी जगह के हिसाब से बदल जाता है. कहीं इसे खट्टे खाए जाते हैं, तो कोई चटपटे पानी में इसे एन्जॉय करता है.

Tags: Ajab Gajab, Khabre jara hatke, OMG, Weird news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर